ग्रेसी सिंह ने कहा, ‘वीणा बजाना बेहद आत्मिक अनुभव था



शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 3 नवंबर 2020, नई दिल्ली। एण्डटीवी के शो ‘संतोषी मां सुनाएं व्रत कथाएं’ में संतोषी मां(ग्रेसी सिंह) को हाल ही में पूरे दिल से वीणा बजाते हुए देखा गया था। हाल ही में ग्रेसी सिंह ने सितार बजाने की कला में महारथ हासिल की है और अब बहुत ही कम समय में उन्होंने वीणा बजाना भी सीख लिया। यहां तक कि उन्हें वीणा बजाते हुए परफार्म करना था लेकिन उन्होंने इसे बड़ी ही सहजता से बजाया और वहां मौजूद सभी लोग उन्हें देखकर दंग रह गए। संतोषी मां(ग्रेसी) ने कहा, “वीणा बजाना एक बहुत ही मधुर एवं आत्मिक अनुभव था क्योंकि शास्त्रीय संगीत से मुझे अंदर से शांति मिलती है। मेरे खाली समय में, मैंने सितार में महारथ हासिल करने के लिए खासा समय व्यतीत किया है। जब मुझे हाल ही में वीणा बजाने का मौका मिला, तो सितार का मेरा अनुभव बहुत काम आया। जैसा कि सीन की मांग थी, संतोषी मां पृथ्वीलोक पर होने वाली सकारात्मक घटनाओं से प्रसन्न थी, और इसलिए वह वीणा बजाकर उसकी धुन का आनंद लेती हैं। इस सीन को सही अंदाज में परफार्म करने के लिए, जब मैंने असली वीणा पर अपना हाथ आजमाने की कोशिश की और मेरी खुशी का ठिकाना नहीं था। 



वीणा की धुन इतनी ज्यादा आध्यात्मिक थी कि मुझे पूरी तरह से एक अलग ही दुनिया में ले गई। इस दिव्य वाद्ययंत्र को बजाना इतना भी आसान नहीं होता। मुझे मेरे गुरूजी की सिखाई गई चीजों पर फिर से विचार करना पड़ा और मैंने पूरी एकाग्रता के साथ, तारों को सही से बजाने के लिए अपना ध्यान केंद्रित किया। शास्त्रीय संगीत के उत्कृष्ट प्रशंसक और प्रेमियों ने वीणा की मधुर धुन का पूरा आनंद लिया होगा। मैं इन यादों को लम्बे समय तक संजो कर रखूंगी और उम्मीद करती हूं कि मेरे प्रशंसक भी मुझे कुछ नया करते हुए देखकर खुश होंगे। दिलचस्प बात यह है कि संतोषी मां की भूमिका ने मुझे अपने आध्यात्मिक पहलू से जुड़ने और उस पर अधिक ध्यान देने में मेरी मदद की है।




Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

जिला हमीरपुर के मौदहा में प्रधानमंत्री आवास योजना में चली गांधी की आंधी