मनरेगा के धन को दबा कर न बैठें अधिकारी ल : दुष्यंत चौटाला, उपमुख्यमंत्री हरियाणा

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 23 दिसंबर  2020, चंडीगढ़। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला ने अधिकारियों को स्पष्टï निर्देश दिए कि मनरेगा के तहत आवंटित धन को दबा कर न बैठें बल्कि संबंधित योजनाओं को निर्धारित समय सीमा में क्रियान्वित कर जनता को इसका लाभ प्रदान करें। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि वे विकास कार्यों के पूरा होने पर प्रमाण-पत्र निदेशालय को प्रेषित करें। डिप्टी सीएम ने जिन-जिन जिलों में मनरेगा का कार्य गति नहीं पकड़ पाया है उनमें संबंधित अधिकारियों से जवाब-तलबी की और प्रदेश के हर गांव में मनरेगा स्कीम के तहत लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाने के आदेश दिए। उन्होंने वीडियो कान्फ्रैंसिंग के माध्यम से ग्रामीण विकास विभाग की विभिन्न योजनाओं का स्टेटस जाना।

श्री दुष्यंत चौटाला ने मीटिंग के बाद बताया कि मनरेगा के तहत दिए गए टारगेट को विभाग ने इस बार समय से पहले ही पूरा कर लिया है। उन्होंने बताया कि वर्ष 2020-21 के लिए 140 लाख कार्य-दिवस निर्धारित  किए गए थे जिनमें से 125 लाख कार्य-दिवस नवंबर 2020 तक ही पूरे कर लिए हैं जो कि कुल कार्य का 90 प्रतिशत है। पिछले वर्ष 2019-20 में मनरेगा के अंतर्गत करवाए जाने वाले काम के लिए 91.19 लाख कार्य-दिवस तय किए गए थे। उन्होंने बताया कि अधिकारियों को गरीबों के पशुओं के लिए मनरेगा के तहत बनाए जाने वाले कैटल-शैड बनाने में तेजी बरतने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कड़ाके ठंड को देखते हुए इन कैटल-शैड को बनाने का कार्य प्राथमिकता के आधार पर किया जाए। उन्होंने 15 जनवरी 2021 तक 10 हजार शैड के निर्माण करवाने के निर्देश दिए हैं। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि मनरेगा के तहत करवाए जाने वाले पैंडिग कार्यों को स्वीकृति के लिए मुख्यालय में एक सप्ताह तक भेज दें ताकि आगामी पंचायती-चुनाव के लिए लगने वाली आचार-संहिता से पूर्व इन कार्यों को शुरू किया जा सके।

इन जिलों में चल रहे हैं धीमी गति के काम :-

उपमुख्यमंत्री ने जिन जिलों में धीमी गति से मनरेगा के काम हो रहे थे, उन जिलों के संबंधित अधिकारियों से जवाब मांगा। ऐसे जिलों में अंबाला, फरीदाबाद, चरखीदादरी, महेंद्रगढ़, पंचकूला, रेवाड़ी, सोनीपत आदि शामिल हैं। समीक्षा बैठक में ग्रामीण विकास विभाग के प्रधान सचिव श्री सुधीर राजपाल, निदेशक श्री हरदीप सिंह, उपमुख्यमंत्री के ओएसडी श्री कमलेश भादू समेत अन्य अधिकारी उपस्थित थे। विभिन्न जिलों से सीईओ भी वीडियो कान्फ्रैंसिग से जुड़े हुए थे।



Comments

Popular posts from this blog

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

22 वें ऑल इंडिया होम्योपैथिक कांग्रेस का हुआ आयोजन

सेंट पीटर्स कॉन्वेंट विद्यालय ने अपना वार्षिकोत्सव मनाया