ऋचा कुमारी बनीं मिसेज एशिया यूनीवर्स 2020



शब्दवाणी समाचार, वीरवार 3 दिसंबर  2020, पटना। मिसेज एशिया यूनीवर्स 2020 ऋचा कुमारी ने न सिर्फ इंजीनीयरिंग के क्षेत्र में अपनी खास पहचान बनायी बल्कि फैशन और मॉडलिंग की क्षितिज पर भी सूरज की तरह चमक रही हैं। बिहार की राजधानी पटना में जन्मीं ऋचा कुमारी के पिता श्री संजय कुमार ओझा भारतीय रेलवे में उच्च पद पर आसीन हैं, जबकि उनकी मां श्रीमती अलका ओझा समाजसेवी हैं और इनर व्हील क्लब ऑफ कृष्णा की अध्यक्षा हैं। ऋचा के छोटे भाई ऋषभ ने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईाआईटी) दिल्ली से इंजीनीयरिंग की पढ़ाई पूरी की है। माता-पिता ने घर की लाडली बड़ी बेटी ऋचा को अपनी राह खुद चुनने की आजादी दे रखी थी। ऋचा कुमारी के घर में कई लोग भारतीय प्रशासनिक सेवा  (आईएएस)  ऑफिसर हैं और वह भी आईएएस बनना चाहती थी। ऋचा ने अपनी प्रारभिक शिक्षा राजधानी पटना के प्रतिष्ठित डीएभी स्कूल से पूरी की। वह 10 वीं में रीजनल स्कूल टॉपर भी रहीं। डीएभी से इंटरमीडियट की पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (बीआईटी), मेसरा से बैचलर इन टेक्नोलॉजी (बी.टेक) की पढ़ाई पूरी की। इस बीच उन्हें वर्ष 2013 में अमेरिकी अंतरिक्ष अनुसंधान एजेंसी नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस ॲडमिनिस्ट्रेशन (नासा) में लुना बॉटिक्स माइनिंग प्रोजेक्ट में रोबोट कंपटीशन में भारत का प्रतिनिधित्व करने का अवसर मिला, जहां उन्हें काफी ख्याति मिली। वर्ष 2018 में ऋचा कुमारी नयी दिल्ली में निजी कंपनी में बतौर प्रोडक्ट मैनेजर के तौर पर अपने करियर की शुरूआत की। वर्ष 2018 में ऋचा कुमारी की शादी नयी दिल्ली मेंट्रो में कार्यरत अधिकारी तरूण शर्मा के साथ हो गयी। पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन को आदर्श मानने वाली ऋचा उन्हीं की तरह फैशन और मॉडलिंग की दुनिया में नाम रौशन करना चाहती थी। इसी को देखते हुये उन्होंने हाल ही में दिल्ली में आयोजित मिसेज इंडिया सीइज इंडिया 2020 में हिस्सा लिया और विजेता बनने के साथ ही मिसेज एशिया यूनिवर्स 2020 भी बनायी गयी। ऋचा अब मिसेज यूनिवर्स के लिये भारत का प्रतिधित्व करने जा रही हैं, जिसका फिनाले दिसंबर के अंतिम सप्ताह में होगा। ऋचा कुमारी आज शोहरत की बुंलंदियों को छू रही है और वह अपनी कामयाबी का पूरा श्रेय अपने परिवार और ससुराल के सभी सदस्यों को देती हैं जिन्होंने उन्हें हमेशा सपोर्ट किया है। उन्होंने बताया कि कि वह इस बात को लेकर गर्व महसूस करती है कि वह बिहार की बेटी है।





Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

जिला हमीरपुर के मौदहा में प्रधानमंत्री आवास योजना में चली गांधी की आंधी