WheelsEye पर हर 5 में से 1 भारतीय ट्रक मालिकों का भरोसा



• GPS ट्रैकर्स, डीजल सेवा, फास्टैग डेबिट एडजस्टमेंट सहित अत्याधुनिक तकनीकी उपकरणों के साथ भारतीय ट्रक मालिकों को सशक्त बना रहा WheelsEye
• 1 मिलियन से भी अधिक ट्रक मालिकों ने चुना अत्याधुनिक WheelsEye ऐप 
• गुरुग्राम स्थित टेक स्टार्ट-अप WheelsEye ने ट्रक मालिकों को आत्मविश्वास के साथ काम करने में बनाया सक्षम 


शब्दवाणी समाचार, वीरवार 3 दिसंबर  2020, नई दिल्ली। भारतीय लॉजिस्टिक क्षेत्र (खासकर ट्रकिंग जगत) लंबे समय से तकनीकी उपकरणों और इसके उपयोगों से अनजान रहा है। लेकिन, WheelsEye Technology India Private Limited जैसे नए और उन्नतिशील स्टार्ट-अप  की वजह से स्थिति अब तेजी से बदल रही है। आज, भारतीय सड़कों पर चलने वाले सभी ट्रकों में से 10 लाख से भी अधिक ट्रक WheelsEye से जुड़े हुए हैं। इतना ही नहीं, हर दिन कई लोग इस मंच से जुड़ रहे हैं। अगर औसतन देखा जाए तो, WheelsEye प्लेटफॉर्म से हर रोज लगभग 1000 ट्रक जुड़ते हैं।
ट्रक मालिकों को WheelsEye पर काफी भरोसा है क्योंकि इसकी मदद से ट्रकों को GPS से ट्रैक करना, फास्टैग मैनेज करना, डीजल पर कैशबैक सहित कई सेवाएं ट्रक मालिकों को आसानी से मिलती है। इन सब के अलावा WheelsEye, ट्रकों की बेहतर सुरक्षा, रियल टाइम विजिबिलिटी और ट्रकों के परिचालन को सुव्यवस्थित करने के लिए बहुत सारे अवसर, खर्चे, और व्यवसाय में लाभ पाने का तरीका भी अपने ग्राहकों को बताता है।
फिलहाल, देश भर के 1,500 से भी अधिक शहरों में WheelsEye अपनी सेवाएं और सहायता प्रदान करता है। कंपनी ने छोटे शहरों में अपनी सेवाएं और इन्फ्रा को मजबूत किया है और काफी तेजी से विकास की ओर अग्रसर है। बहुत कम ही समय में, WheelsEye ट्रक मालिकों और ड्राइवरों के बीच एक मशहूर नाम बन गया है।



कंपनी के विकास पर बोलते हुए, WheelsEye के EIR सोनेश जैन ने कहा, “WheelsEye में हम छोटे और मध्यम ट्रक मालिकों को सरलतम और सबसे अत्याधुनिक तकनीकी उपकरणों के साथ सशक्त बनाते हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य उन्हें बढ़ती कार्य क्षमता और आत्मविश्वास के साथ व्यापार चलाने में मदद करना है। 
यह देखना काफी संतोषजनक है कि कैसे हमारी टीम एक मज़बूत और सबसे कठिन बाजारों में से एक को पकड़ने में कामयाब रही जो हमारे ग्राहक आधारित दृष्टिकोण और कड़ी मेहनत के लिए एक वसीयतनामा (Testament) है। 
हमने न केवल ट्रकिंग ऑपरेशंस को आसान बनाया है बल्कि यह भी सुनिश्चित किया है कि ट्रकिंग इंडस्ट्री को वो सराहना मिले, जिसका वह असल हकदार है। मुझे लगता है कि WheelsEye द्वारा हासिल किया गया यह मुकाम WheelsEye परिवार के हर सदस्य के लिए एक इनाम है और साथ ही WheelsEye के भविष्य के प्रयासों के लिए भी एक प्रेरणा है। इसी रफ़्तार के साथ WheelsEye आज कुल फास्टैग भुगतान को 10% और भारत में कुल कमर्शियल वाहन टोल टैक्स संग्रह को 15% सशक्त किया है।


Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

जिला हमीरपुर के मौदहा में प्रधानमंत्री आवास योजना में चली गांधी की आंधी