बच्चो को संस्कार के साथ अपने इतिहास के बारे में जरूर अवगत कराएं : राहुल सिंह

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 9 फरवरी  2021, नई दिल्ली। अखिल वैश्विक छत्रिय महासभा ट्रस्ट की पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रथम बैठक ट्रस्ट के राष्ट्रीय महासचिव एवं संत अतुलानंद रचना पतरिषद के सचिव राहुल सिंह की अध्यक्षता में अतुलानंद कान्वेंट स्कूल कोइराजपुर में सम्पन हुई, बैठक का मुख्य उदेश्य छत्रिय समाज का उत्थान किस प्रकार से हो इस विषय पर बैठक में विस्तार से चर्चा की गई। वक्ताओं ने छत्रियों के इतिहास से लेकर के वर्तमान को अपने अपने विचारों के माध्यम से व्यक्त किया तथा समाज के अधिक से अधिक सदस्यों को इस संगठन से जोड़ने के लिए आये हुए सदस्यों से अनुरोध भी किया। बैठक शुरू होने से पूर्व राष्ट्रीय महाचिव राहुल सिंह, प्रदेश मंत्री प्रसिद्ध नारायण सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष पवन सिंह, प्रदेश संगठन महाचिव डॉ आनन्द सिंह एवं युवा प्रदेश संगठन महासचिव सूर्यांश सिंह भगवान श्री राम चन्द्र  के चित्र पर पुष्प अर्पित किया।

महासचिव राहुल सिंह ने कहा कि अपने समाज के सुधार से पहले इसकी शुरुआत अपने घर और परिवार से करनी चाहिए अपने बच्चो को संस्कार के साथ अपने इतिहास के बारे में उनको जरूर अवगत कराना चाहिए एवं हम सभी का उद्देश्य निश्वार्थ होना चाहिए किसी कार्य को रूप देने के बाद ये ना हो कि ये हमने किया अलबत्ता ये होना चाहिए कि ये संगठन के माध्य्ाम से हुआ तब इस संगठन का मूल उद्देश्य सफल होगा। कार्यक्रम के शुरुआत में स्वागत भाषण वाराणसी जिला महिला अध्य्क्ष डॉ स्वेता सिंह ने की तत्पश्चात प्रदेश मंत्री प्रसिद्ध नारयण सिंह, प्रदेश युवा महाचिव सूर्यांश सिंह, प्रदेश कानून मंत्री श्याम मनोहर सिंह, प्रदेश संगठन उप महाचिव धीरज सिंह बनारस के जिला अध्य्ाक्ष भानु सिंह मंडल कार्यकारी अध्य्ाक्ष विपिन सिंह, मंडल सचिव राजन सिंह ने अपने विचार व्यक्त किये अंत मे प्रदेश के उपाध्यक्ष पवन सिंह ने पूर्वी उत्तर प्रदेश से आये प्रदेश ,मण्डल एवं जिले से आये पदाधिकारिर्यो के प्रति आभार एवं धन्यवाद ज्ञापित किया तथा प्रदेश संगठन महासचिव डॉ आनंद सिंह ने कुशल संचालन कर चार चांद लगा दिया।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान