अखिल भारतीय किसान सभा के कार्यकर्ताओं ने काले कृषि कानूनों का जलाया पुतला

शब्दवाणी समाचार, रविवार 7 फरवरी  2021, (रिपोर्ट रेहाना परवीन खान जोशी) गौतम बुध नगर। 6 फरवरी के देशव्यापी आंदोलन के तहत किसान सभा के कार्यकर्ताओं ने कैलाशपुर गांव में काले कृषि कानूनों का पुतला जलाकर विरोध प्रदर्शन एवं रोष प्रकट किया- किसान सभा के उपाध्यक्ष सूबेदार ब्रह्मपाल ने प्रदर्शन के दौरान संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार हठधर्मिता पर अभी हुई है जबकि देशभर के किसान कृषि कानूनों का विरोध कर वापस करने की मांग कर रहे हैं। किसान सभा के वरिष्ठ उपाध्यक्ष वीरसेन नागर ने कहा जब तक काले कृषि कानून वापस नहीं होते तब तक किसान सभा आंदोलनरत रहेगी। कैलाशपुर गांव के निवासी एवं किसान सभा की जिला कमेटी के सदस्य ब्रजवीर भाटी ने काले कृषि कानूनों को किसान विरोधी करार देते हुए केंद्र की

बीजेपी सरकार पर पूजी पतियों के पक्ष में काम करने का आरोप लगाया। किसान सभा के प्रवक्ता डॉ रुपेश वर्मा ने तीनों कृषि कानूनों को के बारे में बोलते हुए कहा यह कानून भारतीय कृषि व्यवस्था में छोटे एवं सीमांत किसानों को खत्म कर देंगे कॉन्ट्रैक्ट खेती एवं खेती को कॉरपोरेट्स के हवाले कर देंगे जब तक कानून वापस नहीं होंगे किसान सभा आंदोलनरत रहेगी। पुतला दहन कार्यक्रम के दौरान मास्टर खड़क सिंह, रामजी लाल दरोगा जी, नवीन भाटी, कैलाशपुर कमेटी के अध्यक्ष आजाद सिंह भाटी, सुंदर भाटी एडवोकेट, रघु देव भाटी, रिशिपाल भाटी एवं दर्जनों ग्रामीण उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता