दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के नेताओ ने किया खजाना खाली : गुरमीत सिंह शंटी

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 9 फरवरी  2021(कुलवंत कौर) नई दिल्ली। दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के नेताओ ने गुरुद्वार  के सभी खजानो को खाली कर दिया, ओर आज हालात ऐसी होगी है कि स्कूल,कालेजो,ओर गुरुद्वारे के कर्मचारियों को न तो तनखा मिल रही न ही  कोई सुविधा । बही उनके भविष्य के साथ भी खिलवाड़ किया जा है। शिरोमणि अकाली दल दिल्ली के पूर्व महासचिव गुरमीत सिंह शंटी ने एक प्रेस वार्ता में बताया कि दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी  ने किस तरह से खजाना खाली कर दिया वहीं केवल किसान आंदोलन में लंगर लगा कर अपने आप को सबसे ज्यादा किसानों का शुभचिन्तक बताने की कोई कसर नही छोड़ना चाहते। शंटी ने बड़े आरोप लगाकर बताया कि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के करता धर्ताओं ने गुल्लक को लूट कर खुलकर भर्ष्टाचार किया जिनके कारण उनको कोर्ट में भी हाजिरी लगानी पड़ रही है। 

उन्होंने गंभीर आरोप लगते हुए कहा कि पीएफ़ कार्यालय से गुरुद्वारे के प्रबन्धको को नोटिस भेजा और जनकारी मांगी है कि गत पिछले 6 महीने से कर्मचारियों का पी एफ का फ़ंड कर्मचारियों की तनखा से काट लिया गया है लेकिन पीएफ़ कार्यालय में जमा नही किया गया जो कि एक गंभीर अपराध है। शंटी ने बताया कि जहाँ नई लंगर बनाने की  मशीन लगाने के लिए धन है लेकिन तनखा देने के लिए ओर भविष्य निधि के लिए फण्ड नही है , यह कर्मचारियों के साथ  विश्वाश घात है।उनके भविष्य के साथ बड़ा धोखा किया जा रहा है ।।  प्रवक्ता सरदार  भूपेंदर सिंह ने बताया कि पीएफ़ कमेटी ने जल्दी ही इस पर जवाब देने की बात कही है, वही उनके सभी खाते बन्द किये जा सकते है। जिससे प्रबन्धक कमेटी बड़े संकट में आ सकती है। 

भूपेंदर सिंह ने सिरसा को आड़े  हाथो लेते हुए बताया कि किस तरह उनके ऊपर चल रहे भ्र्ष्टाचार के आरोपो पर सही जानकारी न देने पर  कोर्ट ने भी लताड़ लगाई ओर दर्ज की गई  एफआईआर को सही पाया। उन्होंने  बताया कि किस तरह फर्जी बिलो को लगा कर गुरु की गुल्लक को लूटा गया है । भूपेंदर सिंह ने बताया कि एक महिला कर्मचारी की मौत के बाद भी उनको उनके बचे  भविष्य का फण्ड भी नही दिया गया किस्तो पर फैसला होने के बाद भी दो साल बाद भी  रुपये नही दिए गये ऐसे कई उदहारण है, इससे पता चलता है कि किस तरह खुलकर लूट मचाई है । आगामी चुनाव में इनको हिसाब चुकाना पड़ेगा और सभी को जेल जाना पड़ेगा। हमारी ओर से दिल्ली सरकार को पत्र लिखकर सभी सचाइयों से अवगत कराया जाएगा जिससे इनके खिलाफ जल्दी ही ओर एफआईआर दर्ज हो। 

 

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान