ओटिपाई ने एक साथ विकास करने का 1 साल मनाया

 

◆ एक एक रीसेलर कम्यूनिटी मीट आयोजित करके उन टॉप परफॉर्मर का सम्मान किया जिन्होंने अपनी प्रेरणादायक सफलता की कहानी साझा की

◆ यह कार्यक्रम रीसेलर्स के लिए एक बेहद आम लर्निंग प्लेटफॉर्म के रूप में रहा और इससे उन्हें ओटिपाई की पूरी रीसेलर कम्यूनिटी को आगे बढ़ाने के लिए लाभप्रद नेटवर्किंग के अवसर मिले

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 6 अप्रैल  2021, नई दिल्ली। क्रोफार्म द्वारा ताज़ा उपज के लिए भारत के सबसे बड़े सोशल कॉमर्स प्लेटफॉर्म, ओटिपाई ने रमाडा बाइ विंधाम, सेक्टर-44, गुरुग्राम में अपनी तरह का अनूठा रीसेलर कार्यक्रम आयोजित किया। यह कार्यक्रम पूरे रीसेलर समुदाय के लिए एक बड़े मंच के रूप में साबित हुआ, जहां समुदाय को शीर्ष परफॉर्मर्स से उनकी सफलता की कहानी सुनने को मिली और उन्हें महामारी के दौरान की सीढ़ी चढ़ने के लिए उनसे प्रेरणा मिली। इस कार्यक्रम में 500 से अधिक रीसेलर्स शामिल हुए था, जिन्होंने इस स्थान में बेहतर बनने, उत्कृष्टता हासिल करने और विकास करने के लिए एक-दूसरे के साथ सर्वोत्तम व्यवसाय अभ्यासों के बारे में सीखा और विचार साझा किया। उन्हें स्मार्ट मार्केटिंग कौशल, हर जगह कुशल डिलीवरी करने या उपभोक्ताओं को प्लेटफॉर्म पर नवीनतम ऑफ़र और नए उत्पादों से अपडेट रखने के बारे में बताया गया।

ओटिपाई ने विभिन्न क्षेत्रों के टॉप परफॉर्मर को उनके उत्कृष्ट कामों के लिए पुरस्कृत किया, जिन्होंने इस सोशल कॉमर्स प्लेटफॉर्म में जुड़ने के बाद उत्कृष्टता दिखाई थी। इतना ही नहीं, बल्कि ब्रांड ने रीसेलर्स को एक—दूसरे के साथ बातचीत करने, नेटवर्क बनाने और अपने संबंध को मजबूत करने का मौका भी दिया, ताकि ओटिपाई रीसेलर पार्टनर का एक ज्यादा मजबूत समुदाय बन सके। नीलम एक रेस्टोरेंट उद्यमी हैं जिनका व्यवसाय इस महामारी की वज़ह से काफी प्रभावित हुआ था, लेकिन प्लेटफॉम में जुड़ने के 4 हफ्ते के अंदर ही, वह सबसे अच्छे विक्रेताओं में से एक बन गई, जिनके पास 50 से ज़्यादा आॅर्डर हैं और वह हर महीने 50 हज़ार रुपये से ज़्यादा कमा रही हैं। इसी प्रकार से, उमेश का व्यवसाय भी प्रभावित हुआ था, लेकिन आज उनके पास एक टीम है, खुद का ई-रिक्शा है और इस प्लेटफॉर्म के साथ अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं।

ओटिपाई के संस्थापक, श्री वरुण खुराना ने कहा, “हम ओटिपाई के साथ वृद्धि करने की पहली वर्षगांठ मनाकर काफी खुश हैं। यह सफर शानदार रहा है जो चुनौतियों, सीख और वृद्धि करने के अवसरों से भरा रहा है। अपनी शुरुआत के बाद से ही, ढेरों रीसेलर साझेदार प्लेटफॉर्म से जुड़े। हम खुश हैं कि हम उन्हें सीखने की एक ऐसी जगह दे पाएं जहां वे न केवल सीख सकते हैं बल्कि कमा सकते हैं और अपने उत्साह का अनुसरण करते हुए उद्यमी बन सकते हैं। हमें उम्मीद है कि आगे भी लोग हमसे जुड़ेंगे, और आने वाले सालों में इस सफर को नई ऊंचाइयों तक ले जाएंगे।

सालों तक, बिचौलियों ने किसानों को उनकी उपज की कम कीमत देकर उनका शोषण किया है। हालांकि, ओटिपाई अब आपूर्ति श्रृंखला में सभी समस्याओं को दूर करके इसे बदल रहा है। प्लेटफॉर्म न केवल किसानों को उनकी उपज उचित मूल्य पर बेचने की सहूलियत देता है, बल्कि यह भी सुनिश्चित करता है कि उपभोक्ताओं को रीसेलर साझेदारों के माध्यम से किफायती कीमतों पर कम समय में ताज़े फल और सब्जियां मिलें, जबकि वे किसानों के साथ अपनी प्रतिक्रिया भी साझा कर सकते हैं। जब सोशल कॉमर्स मॉडल पर और इस प्रक्रिया में कई हितग्राहियों को फायदा पहुंचाने के तरीकों पर जागरुकता फैलाने की बात हो, तो इस तरह के कार्यक्रम समय की मांग हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता