विद्यामंदिर 16-30 मई, 20 को राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा आयोजित करेगा

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 13 मई  2021, नई दिल्ली। आईआईटी/ जेईई और एनईईटी की तैयारी के प्रमुख राष्ट्रीय संस्थान विद्यामंदिर क्लासेस 16 मई और 30 मई 2021 को 2021 बैच के लिए राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा (एनएटी) का ऑनलाइन आयोजन करेगा। खुद मूल्यांकन परीक्षा के अलावा वीएमसी टाॅपरों को 40,000 रु. तक स्काॅलरशिप भी देता है। परीक्षा में शामिल होने के लिए विद्यार्थी 29 मई तक पंजीकरण कर सकते हैं। यह राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा देशव्यापी ऑनलाइन परीक्षा है जो आईआईटी/जेईई और एनईईटी 2021 में सफलता के लक्ष्य से उम्मीदवारों की वर्तमान तैयारी के आकलन में मदद करती है। वीएमसी के लिए एनएटी इस संस्थान में उम्मीदवार के प्रवेश की परीक्षा है। 

वीएमसी विद्यार्थियों की तैयारी में धार पैदा करने और आईआईटी/जेईई और एनईईटी परीक्षा में उच्च रैंक प्राप्त करने में मदद करता है। पूरे देश में कोविड की दूसरी लहर में संक्रमितों के मामलों में अभूतपूर्व तेजी देखते हुए पूरे राष्ट्र के बहुत-से कोचिंग संस्थानों ने ऑनलाइन का मार्ग अपनाया है जो सरकारी दिशानिर्देशों के अनुसार है। कोविड का चेन बनने और बढ़ने पर अंकुश लगाने के लिए सरकार ने सभी ऑफलाइन कोचिंग कक्षाओं को फिलहाल रोकने की घोषणा की है। इस महीने की शुरुआत में शिक्षा निदेशालय (डीओई) ने यह आदेश जारी किया कि स्कूल और शैक्षणिक संस्थान शैक्षिक सत्र 2021-22 के लिए डिजिटल माध्यम से 1 अप्रैल से पढ़ाने का काम और इससे जुड़ी गतिविधियां कर सकते हैं।

बदलती परिस्थितियों में वीएमसी ने एक बार फिर ऑनलाइन कोचिंग सेशन शुरू किया है जिसमें वीएमसी के संस्थापकों सहित सर्वश्रेष्ठ शिक्षक पढ़ाते हैं। संस्थान को अपने शिक्षकों पर गर्व है कि पिछले एक दशक से व्यक्तिगत तौर पर कोचिंग में पढ़ाने के बावजूद वे बखूबी ई-लर्निंग प्लेटफॉर्म पर पढ़ाने लगे हैं। वर्चुअल प्लैटफाॅर्म की अपनी चुनौतियां हैं पर इससे दूरी की समस्या नहीं रही। विद्यार्थी अपने घर पर आराम से  मौलिक अवधारणाओं को समझ सकते हैं और परीक्षा में बेहतर कर सकते हैं और वे सुरक्षित भी हैं। विद्यार्थियों को अन्य प्रतिस्पर्धियों पर बढ़त हासिल करने में मदद के लिए वीएमसी मॉक टेस्ट और संदेह दूर करने के विशेष सेशन भी आयोजित करता है।

ऑनलाइन सेशन को बढ़ावा देना समय की मांग है। विद्यामंदिर क्लासेस के सह-संस्थापक बृजमोहन गुप्ता ने इस सिलसिले में कहा कि कोविड की जानलेवा दूसरी लहर ने जन जीवन सामान्य होने के बारे में पुनर्विचार करने के लिए मजबूर कर दिया है। उन्होंने आॅनलाइन क्लासेज़ के उज्ज्वल पक्ष के बारे में बताया कि इससे संस्थान को नया नजरिया मिला है और यह भावी पीढ़ी के उम्मीदवारों को घर बैठे उनकी क्षमता में धार पैदा करने में मदद करेगा। वीएमसी ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा के उम्मीदवारों की आवश्यकताओं का गहन शोध कर कोर्स तैयार किए। इसकी योजना में चिकित्सा क्षेत्र की वर्तमान जरूरतों को पूरा करने का भी ध्यान रखा गया है। कोर्स की योजना और डिजाइन ऐसी है कि यह उम्मीदवारों के मुख्य लक्ष्य पूरा कर उनका भविष्य संवारने में हमेशा सहायक हो।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान