5 मिलियन ग्राहकों के साथ एंजेल ब्रोकिंग को टेक-संचालित वृद्धि, पोल पोजिशन बनाने की ओर

 

◆ फिनटेक ब्रोकर ने टियर 2, टियर 3 शहरों में गहरी पैठ बना ली है क्योंकि अधिक मिलेनियल्स और जेन जेड लोग नए जमाने के निवेश के बारे में जानने के लिए प्लेटफॉर्म से जुड़ रहे हैं

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 18 जून  2021मुंबई। फिनटेक ब्रोकर एंजेल ब्रोकिंग ने पिछले महीने रिकॉर्ड मंथली ग्रॉस क्लाइंट जोड़ने के बाद जून 2021 में ग्राहक जोड़ने का सिलसिला जारी रखा है। भारत में शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने वालों की संख्या बढ़ी है और एंजेल ब्रोकिंग ने भी बाजार के जोश को प्रतिध्वनित किया है। इसने बढ़े हुए मंथली क्लाइंट एडिशन रेट में सफलतापूर्वक '5 मिलियन ग्राहक' का मील का पत्थर पार कर लिया है। एंजेल ब्रोकिंग ने मई 2021 में अपना अब तक का सबसे अधिक मासिक सकल ग्राहक अधिग्रहण किया, क्योंकि यह ~ 0.43 मिलियन ग्राहकों से जुड़ा था, जो पिछले वित्त वर्ष में दर्ज मासिक औसत से दोगुना था। इसकी ग्राहक वृद्धि दर तिमाही दर तिमाही लगातार बढ़ी है, वित्त वर्ष 2021 की चौथी तिमाही में 14 गुना से अधिक बढ़कर 0.96 मिलियन हो गई है, जो वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में 0.10 मिलियन से कम थी। एंजेल ब्रोकिंग लगभग 4.8 ट्रिलियन रुपए के रिकॉर्ड एवरेज डेली टर्नओवर (ADTO) तक पहुंच गया है, जो 2020 की पहली तिमाही के 253 बिलियन रुपए की तुलना में लगभग 19 गुना अधिक है। 

कंपनी ने सभी प्रक्रियाओं के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निंग का लाभ उठाने पर ध्यान केंद्रित किया और इसका ही परिणाम शानदार विकास के तौर पर सामने आया है। फिनटेक ब्रोकर ने बेहतर और निर्बाध ग्राहक अनुभव सुनिश्चित किया है, जिससे टियर 2, टियर 3 बाजारों और उससे आगे के बाजारों में गहरी पैठ बनाई है। इसने मोबाइल ऐप, वेब प्लेटफॉर्म और विशेष सॉफ्टवेयर सूट सहित डिजिटल चैनलों के व्यापक स्पेक्ट्रम में सेवा उपलब्धता के साथ उपयोगकर्ता के अनुकूल इंटरफेस विकसित किया है। एंजेल ब्रोकिंग के बेहतर तकनीकी बुनियादी ढांचे ने भी अपने औसत ग्राहक ऑनबोर्डिंग समय को घटाकर 5 मिनट कर दिया है।

एंजेल ब्रोकिंग के चीफ ग्रोथ ऑफिसर, श्री प्रभाकर तिवारी ने इस उपलब्धि पर  कहा, “पिछले कुछ वर्षों में एंजेल ब्रोकिंग ने डिजिटल परिवर्तन के रास्ते पर बड़ी मेहनत से यात्रा की है। यह देखकर बहुत अच्छा लगा कि हमारे संयुक्त प्रयास वांछित परिणाम दे रहे हैं। हालांकि, हम मानते हैं कि यात्रा अभी शुरू हुई है। भारत में खुदरा भागीदारी अभी भी 4% से थोड़ी अधिक है। इसलिए, हमें जिस तरह की प्रतिक्रिया मिल रही है, वह केवल बड़े आइसबर्ग का एक सिरा है। उद्योग को आने वाले कुछ वर्षों में निवेशकों के आने वाले तूफान के लिए तैयार रहना होगा। यह पीढ़ी परफेक्ट से कम में समझौता नहीं करेगी।

2016 में अपने डिजिटल परिवर्तन की शुरुआत के बाद से एंजेल ब्रोकिंग ने कई अत्याधुनिक डिजिटल संपत्तियां विकसित की हैं जो महत्वाकांक्षी मिलेनियल और जेन जेड निवेशकों के साथ सही तालमेल बिठाती हैं। उदाहरण के लिए, इसके नियम-आधारित निवेश इंजन एआरक्यू प्राइम ने अपने पहले वर्ष में बीएसई 100 इंडेक्स को 60% से अधिक के हेल्दी मार्जिन से बेहतर प्रदर्शन किया है। फिनटेक ब्रोकर आगे अपने शैक्षिक मंच, स्मार्ट मनी के माध्यम से निवेशकों और व्यापारियों के लिए वर्कशॉप का आयोजन करता है। यह अपने फ्री-टू-इंटिग्रेट एपीआई प्लेटफॉर्म 'स्मार्टएपीआई' के साथ भारत के नए जमाने के ट्रेडर्स की जरूरतों को भी पूरा करता है। स्मार्टएपीआई का उपयोग करते हुए निवेशक एंजेल ब्रोकिंग के व्यापक ऐतिहासिक डेटा का लाभ उठाते हुए पूर्वनिर्मित रणनीति का उपयोग करके  ट्रेड को ऑटोमेट कर सकते हैं या एडवांस चार्ट बना सकते हैं। स्टार्टअप और वित्तीय संस्थान भी ट्रेडिंग से संबंधित प्लेटफॉर्म बनाने के लिए स्मार्टएपीआई का उपयोग कर सकते हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

मीडिया प्रेस क्लब का वार्षिक कलैंडर हुआ विमोचन