ग्लांस एंड कलेक्टिव आर्टिस्ट्स नेटवर्क ने ग्लोबल प्लेटफॉर्म लॉन्च करने की घोषणा

◆ सेलेब्रिटीज़ और क्रिएटर्स को अपने खुद के ब्रांड 

◆ जेवी कंपनी से सेलेब्रिटीज़ एवं क्रिएटर्स के साथ प्रोडक्ट लेबल के सहनिर्माण तक 

◆ ग्लांस कलेक्टिव ब्रांड्स के दुनिया में प्रसार के लिए ग्लांस और रोपोसो का इस्तेमाल करेगा

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 8 जुलाई 2021, नई दिल्ली। दुनिया के सबसे बड़े लॉक स्क्रीन आधारित कंटेंट प्रदाता एवं वीडियो प्लेटफॉर्म, रोपोसो के मालिक, ग्लांस ने आज घोषणा की कि इसने भारत की सबसे बड़ी टेलेंट मैनेजमेंट एजेंसी एवं पॉप कल्चर मार्केटप्लेस, कलेक्टिव आर्टिस्ट्स नेटवर्क के साथ संयुक्त उपक्रम में प्रवेश किया है। जेवी कंपनी, ग्लांस कलेक्टिव भारत के सबसे बड़े डिजिटल क्रिएटर्स के साथ साझेदारी में विभिन्न अद्वितीय ब्रांड्स का सहनिर्माण एवं संचालन करेगी, जिसमें सर्वोच्च सेलेब्रिटीज़ और सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर्स शामिल हैं।

यह भारत में अपनी तरह का प्रथम सामरिक गठबंधन है, जिसमें ग्लोबल कंटेंट, निर्माता एवं कॉमर्स प्लेटफॉर्म एक अग्रणी टेलेंट मैनेजमेंट नेटवर्क के साथ साझेदारी कर रहे हैं। इस जेवी में ग्लांस और रोपोसो की टेक्नॉलॉजी एवं वैश्विक पहुंच का समावेश सेलेब्रिटी एवं इन्फ्लुएंसर समुदाय की कलेक्टिव आर्टिस्ट की गहन विशेषज्ञता के साथ हो रहा है। यह नई सुविधा निर्माताओं के लिए ब्रांड्स के आंशिक स्वामित्व द्वारा राजस्व अर्जित करने की अपार संभावनाओं का निर्माण करेगी तथा ग्लांस और रोपोसो के संयुक्त वैश्विक यूज़र बेस द्वारा उन्हें वैश्विक बाजारों की पहुंच प्रदान करेगी।

पीयूष शाह, को-फाउंडर, इनमोबी, एवं प्रेसिडेंट और सीओओ, ग्लांस ने कहा, ‘‘ग्लांस कलेक्टिव शक्तियों का एक समन्वय है। यह निर्माताओं को सफल उपभोक्ता ब्रांड्स के निर्माण के लिए बड़े स्तर पर उद्यमशील अवसर देगा। हम निर्माता-नेतृत्व वाले खोज-आधारित लाइव कॉमर्स के लिए एक अद्वितीय परिवेश का निर्माण कर रहे हैं और हमें विश्वास है कि कलेक्टिव के साथ हमारी साझेदारी, हमें तेजी से विकसित होते हुए इस बाजार में लीडर बना देगी। भारत में यह अभी भी शुरुआती चरण में है, लेकिन निर्माता के नेतृत्व वाले, संवादपूर्ण एवं लाईव कॉमर्स के 2025 तक देश में बढ़कर 40 बिलियन डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है। यह फॉर्मेट चीन में काफी सफलता हासिल कर चुका है, जहां पर यह देश के कुल ई-कॉमर्स बाजार में लगभग 20 प्रतिशत का योगदान देता है। ग्लांस कलेक्टिव मुख्यतः ग्लांस लॉक स्क्रीन और रोपोसो ऐप पर अपने ब्रांड्स की सेल बढ़ाने के लिए शॉपिंग के इस विकसित होते हुए माध्यम का इस्तेमाल करेगा। ये उत्पाद लाईफस्टाइल, होम, फैशन, अपरेल, ब्यूटी एवं फिटनेस आदि श्रेणियों के होंगे।

ग्लांस कलेक्टिव का एक शक्तिशाली पक्ष यह है कि यह अपने निर्माताओं को उन ब्रांड्स को लॉन्च करने, स्केल करने और सहस्वामित्व रखने में समर्थ बनाएगा, जो उनके अद्वितीय व्यक्तित्व को प्रदर्शित करते हैं। कलेक्टिव आर्टिस्ट्स नेटवर्क के ग्रुप सीईओ एवं को-फाउंडर, विजय सुब्रमण्यम ने बताया, ‘‘ग्लांस कलेक्टिव मूलतः इन्फ्लुएंसर्स के लिए समर्पित है। यह इन्फ्लुएंसर ब्रांड्स का एक वैध आश्रय होगा, जिसमें ई-कॉमर्स द्वारा पॉप संस्कृति एवं इन्फ्लुएंसर अर्थव्यवस्था की शक्ति का लाभ उठाने की क्षमता होगी।‘ सुब्रमण्यम ने आगे कहा, ‘‘हमारा संयुक्त वैल्यू प्रस्ताव अंतिम उपभोक्ता एवं इन्फ्लुएंसर्स के लगातार बढ़ते समुदाय, दोनों को लाभान्वित करेगा। इससे पूर्व इस माह ग्लांस ने घोषणा की थी कि यह इन्फ्लुएंसर एवं सेलेब्रिटी चालित मोबाइल कॉमर्स में अपने प्रवेश के तहत फुल-स्टैक ई-कॉमर्स फर्म शॉप101 का अधिग्रहण कर रहा है। इस अधिग्रहण द्वारा प्राप्त मजबूत एंड-टू-एंड सप्लाई चेन एवं टेक्नॉलॉजी प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल ग्लांस कलेक्टिव को ऑपरेशनल सपोर्ट के लिए किया जाएगा।

रोपोसो एवं कॉमर्स एट ग्लांस की जनरल मैनेजर, मानसी जैन ने कहा, ‘‘ऐसे सैकड़ों क्रिएटर्स हैं, जिनके फैंस की संख्या बहुत ज्यादा है, लेकिन उनके पास अपने ब्रांड लॉन्च करने के संसाधन नहीं। ग्लांस कलेक्टिव उन क्रिएटर्स को ऐसे लेबल बनाने में समर्थ बनाएगा, जो उनकी पहचान को प्रतिबिंबित करते हों। देश में ऐसा कोई प्लेटफॉर्म नहीं, जो इतने बड़े स्तर पर यह कर रहा है। कलेक्टिव आटि्र्स्ट्स नेटवर्क के पास टेलेंट मैनेजमेंट बाजार में 70 प्रतिशत से ज्यादा हिस्सा है। इसके ग्राहकों में बॉलिवुड एवं साउथ एंटरटेनमेंट उद्योग सहित पॉप संस्कृति में ए-लिस्ट की सेलेब्रिटीज़ तथा सर्वोच्च सोशल/डिजिटल मीडिया इन्फ्लुएंसर शामिल हैं। ग्लांस के पास 125 मिलियन से ज्यादा दैनिक एक्टिव यूज़र हैं और यह भारत एवं दक्षिणपूर्व एशिया में 8 से ज्यादा भाषाओं में कंटेंट प्रस्तुत करता है। रोपोसो अग्रणी शॉर्ट वीडियो टेलेंट प्लेटफॉर्म है, जो 100 मिलियन से अधिक बार डाउनलोड किया जा चुका है और 12 भाषाओं में कंटेंट प्रस्तुत करता है।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता