अयूथवेदा ने लॉन्च के एक साल के भीतर 12 करोड़ रुपए का राजस्व हासिल किया

 

● 30% की तिमाही दर से वृद्धि दर्ज की

● AIMIL फार्मास्युटिकल्स ने 2020 में इसे लॉन्च किया था, 2020-21 में कंपनी ने 22% का रिटर्न कस्टमर रेट हासिल किया है 

● अगले तीन वर्षों में राजस्व के मामले में 100 करोड़ रुपए हासिल करने का लक्ष्य

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 24 अगस्त 2021, नई दिल्ली। विश्व-स्तरीय ब्यूटी और वेलनेस प्रोडक्ट्स तैयार करने में माहिर भारत के सबसे तेजी से बढ़ते आयुर्वेदिक पर्सनल केयर ब्रांड अयूथवेदा ने महामारी के दौरान अभूतपूर्व वृद्धि हासिल करते हुए वित्त वर्ष- 2020-21 में 12 करोड़ रुपए के सालाना राजस्व में कामयाबी हासिल की है। यह ब्रांड के लिए 30% की तिमाही वृद्धि दर को दर्शाता है। अयूथवेदा का मुख्यालय दिल्ली में है और यह फेस केयर, हेयर केयर बाथ एंड बॉडी केयर, इंटिमेट एंड हाइजीन केयर के लिए प्रोडक्ट्स की रेंज पेश करता है, जो कठोर रसायनों, पैराबेन्स और कृत्रिम रंग से 100% फ्री है।

अयूथवेदा की कोशिश प्राचीन आयुर्वेदिक क्लींजिंग तकनीकों के साथ अल्ट्रा-मॉडर्न टेक्नोलॉजी और नए स्किनकेयर इनोवेशंस को मिलाकर चिकित्सीय रूप से सक्रिय प्रोडक्ट्स उपलब्ध कराने की है। जब कोविड-19 महामारी की वजह से दुनियाभर में तबाही का माहौल था, तब अयूथवेदा ने वित्त वर्ष-2020-21 के न्यू नॉर्मल में भी प्रभावी 22% कस्टमर रिटर्न रेट हासिल किया है। अयूथवेदा के पास एक बड़ा ऑपरेशनल मॉडल है जो मल्टी-सेल्स चैनल्स के माध्यम से मैन्युफैक्चरिंग और मार्केटिंग क्वालिटी प्रोडक्ट्स पर आधारित है। इसके लिए पर्चेज स्टोर्स के महत्वपूर्ण बिंदुओं और ऑनलाइन कॉमर्स में ब्यूटी एडवायजर्स का एक समर्पित नेटवर्क काम करता है।

कारोबार में असाधारण वृद्धि पर अयूथवेदा के संस्थापक और निदेशक डॉ. संचित शर्मा ने कहा, “हम अपने ऑपरेशंस के पहले वर्ष में शानदार विकास के आंकड़े दर्ज कर बेहद खुश हैं। हम अपनी विशेषज्ञता और प्रयासों के जरिए इंडस्ट्री में मजबूत उपस्थिति दर्ज करने के इच्छुक हैं। और, वास्तव में यह उपलब्धि ऐसी है कि हमने अपनी पहली कोशिश में ही स्वर्ण पदक जीत लिया है। हमें विश्वास है कि यह एक खूबसूरत यात्रा की शुरुआत है और हम देशभर में अपने ग्राहकों को बेस्ट-इन-क्लास आयुर्वेदिक पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स देने में सफलता की उम्मीद करते हैं। यह ऐसे प्रोडक्ट्स हैं जो हानिकारक सामग्री और रसायनों से फ्री रहेंगे।

अयूथवेदा में 100 पेशेवरों की एक कुशल टीम है जो लोगों को आयुर्वेदिक प्रोडक्ट्स की प्राकृतिक अच्छाई के वादे के साथ हानिकारक पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स से मुक्ति दिलाकर आवश्यक परिवर्तन लाने के मिशन पर है। कंपनी ने अगले तीन वर्षों में 100 करोड़ रुपए का राजस्व हासिल करने का लक्ष्य रखा है। साथ ही कंपनी का सपना भारतीय स्किनकेयर सेग्मेंट में सबसे आगे रहने का है।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया