स्पॉट गोल्ड 0.6 फीसदी की तेजी के साथ 1774.2 डॉलर प्रति औंस पर बंद

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 23 सितम्बर  2021मुंबई। मंगलवार को स्पॉट गोल्ड 0.6 फीसदी की तेजी के साथ 1774.2 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ। दो दिवसीय अमेरिकी पॉलिसी मीटिंग के परिणाम से पहले डॉलर के कमजोर होने से स्पॉट गोल्ड में पिछले सत्र से बढ़ोतरी दर्ज हुई। इसके अलावा, वैश्विक अर्थव्यवस्था पर चीन के एसेट डेवलपर एवरग्रांडे के लोन संकट के प्रभाव पर बढ़ती चिंताओं ने बाजार की भावनाओं को और अधिक प्रभावित किया और बदले में सोने की कीमतों का समर्थन किया।

एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड के नॉन एग्री कमोडिटी एंड करेंसी रिसर्च एवीपी श्री प्रथमेश माल्या ने बताया कि, 21 और 22 सितंबर 2021 को होने वाली फेडरल ओपन मार्केट कमेटी की बैठक से पहले उम्मीद से बेहतर अमेरिकी आर्थिक आंकड़ों के कारण पिछले हफ्ते सोने की कीमतों पर दबाव बना रहा, जिससे यूएस सेंट्रल बैंक ने हॉकिश अप्रौच पर दांव लगाया। अगर यूएस फेड मौद्रिक नीति को सख्त करने की ओर इशारा करता है तो सोना जिसे व्यापक रूप से मुद्रास्फीति और मुद्रा में गिरावट के खिलाफ एक बचाव माना जाता है, कुछ दबाव महसूस कर सकता है। आने वाले महीनों में अमेरिकी केंद्रीय बैंकों के रुख पर अनिश्चितता से बाजार सतर्क रहने और सोने की कीमतें स्थिर रहने की उम्मीद है। आज से शुरू होने वाली दो दिवसीय बैठक में यूएस फेड के अध्यक्ष जेरोम पॉवेल की कोई भी हॉकिश टिप्पणी सोने की कीमतों पर असर डालेगी।

कच्चा तेल : मंगलवार को, डब्ल्यूटीआई क्रूड लगभग 0.4 प्रतिशत बढ़कर 70.6 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ क्योंकि आपूर्ति की चिंता ने वैश्विक अनिश्चितताओं और तेल की कीमतों को कम कर दिया। इसके अलावा, रिपोर्ट में कहा गया है कि मैक्सिको की खाड़ी में कुछ तेल उत्पादक इकाइयों के इस साल के अंत तक ऑफ़लाइन रहने की उम्मीद है क्योंकि तूफान इडा से नुकसान के कारण अमेरिका से तेल की आपूर्ति में और कमी आई है।

इसके अलावा अमेरिकी मुद्रा ने डॉलर की कीमत वाले तेल को अन्य मुद्रा धारकों के लिए अधिक वांछनीय बनाया। तेल की कीमत सोमवार को कम हो गई क्योंकि चीनी संपत्ति डेवलपर एवरग्रांडे को लेकर सॉल्वेंसी मुद्दों पर आशंकाओं ने वित्तीय बाजारों में दहशत की लहर भेज दी और मांग के आउटलुक को कम कर दिया। आने वाले महीनों में मौद्रिक रुख पर संकेतों के लिए आज से शुरू होने वाली अमेरिकी फेडरल रिजर्व पॉलिसी बैठक से पहले बाजार सतर्क रहने की उम्मीद है।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया