ब्रिटानिया ने मारी गोल्ड माई स्टार्टअप सीज़न 3.0 लॉन्च किया

◆ प्रतिभागियों को गूगल के डिजिटल स्किलिंग संसाधनों का लाभ मिलेगा

◆ इंडियन होममेकर्स एंटरप्रेन्योरशिप रिपोर्ट 2021 का लॉन्च किया- उद्यमशीलता को अपनाने में आने वाली बाधाओं, उत्प्रेरकों एवं सहयोगियों का अध्ययन करने के लिए गृहणियों के बीच किया गया देशव्यापी सर्वे।

◆ 62 प्रतिशत गृहणी अपना खुद का व्यवसाय शुरू करना चाहती हैं। 53 प्रतिशत गृहणियों ने बताया कि परिवार को वित्तीय सहयोग पहुंचाना स्टार्ट अप शुरू करने के मुख्य कारणों में से एक है।

◆ स्टार्ट अप शुरू करने से महिलाओं को रोकने वाले मुख्य कारणों में 73 प्रतिशत गृहणियों ने माना कि घर की जिम्मेदारियों के कारण उन्हें समय नहीं मिल पाता, 53 प्रतिशत ने माना कि उन्हें मार्गदर्शन की कमी है और 50 प्रतिशत ने माना कि उनके पास इसके लिए पर्याप्त पूंजी नही

◆ स्टार्टअप शुरू करने की इच्छुक 77 प्रतिशत गृहणियों ने कहा कि टेक्नॉलॉजी उन्हें अपना उद्देश्य पूरा करने में मदद कर सकती है, क्योंकि यह व्यवसाय चलाने के लिए उनकी योग्यता एवं जानकारी बढ़ा सकती है।

◆ कार्यक्रम 10 चयनित गृहणियों को 10,00,000 रु. प्रदान करेगा ताकि वो अपनी उद्यमशीलता का सफर शुरू कर सकें। सभी प्रतिभागियों को 6 भाषाओं में गूगल के डिजिटल एवं व्यवसायिक कौशल के संसाधन की निशुल्क एक्सेस मिलेगी

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 16 सितम्बर  2021, नई दिल्ली। ब्रिटानिया मारी गोल्ड का माई स्टार्टअप कैम्पेन दो मौसम सफलतापूर्वक पूरे कर चुका है और भारतीय गृहणियों को अपनी उद्यमशीलता का सफर शुरू करने के लिए कौशल विकास के अवसर एवं पूंजी प्रदान कर चुका है। सन 2020 में एनएसडीसी के साथ साझेदारी ने इस अभियान को 10,000 गृहणियों को कम्युनिकेशन का मूलभूत कौशल, सूचना व संचार प्रौद्योगिकी (आईसीटी) की मदद से वित्तीय साक्षरता तथा सामाजिक आर्थिक आत्मनिर्भरता के लिए माईक्रो उद्यमशीलता का कौशल प्रदान करने में मदद की। सीज़न 3 में ब्रिटानिया मारी गोल्ड माई स्टार्ट-अप अभियान का विस्तार किया गया है ताकि गृहणियों को इंटरनेट का इस्तेमाल कर अपना व्यवसाय बढ़ाने में मदद की जा सके। 77 प्रतिशत गृहणियां, जो अपने खुद के वेंचर स्थापित करना चाहती हैं, वो टेक्नॉलॉजी को अपने सफर में मददगार के रूप में देखत हैं, जो ब्रिटानिया एवं मॉम्सप्रेसो के सर्वे में भी देखने को मिला।

भारतीय गृहणियां की उद्यमशीलता की रिपोर्ट 2021 के मुख्य तत्व 62 प्रतिशत गृहणियां अपना खुद का व्यवसाय स्थापित करने की इच्छा रखती हैं व सपना देखती हैं। गृहणियों के लिए अपना व्यवसाय स्थापित करने की मुख्य प्रेरणा वित्तीय रूप से स्वतंत्र (60 प्रतिशत) होने की इच्छा और परिवार को वित्तीय योगदान देने में सक्षम होने (53 प्रतिशत) से मिलती है। घर की जिम्मेदारियों के कारण समय की कमी (73 प्रतिशत), मार्गदर्शन की कमी (53 प्रतिशत) और अपर्याप्त पूंजी (50 प्रतिशत) मुख्य समस्याएं हैं, जिनके कारण वो अपना व्यवसाय स्थापित नहीं कर पातीं। 77 प्रतिशत गृहणियां, जो अपना खुद का वेंचर स्थापित करना चाहती हैं, वो मानती हैं कि टेक्नॉलॉजी उनके इस सफर में उनकी मदद कर सकती है। उनका मानना है कि टेक्नॉलॉजी उन्हें व्यवसाय चलाने के लिए अपने ज्ञान एवं योग्यता को बढ़ाने (80 प्रतिशत), व्यवसाय करना आसान बनाने (73 प्रतिशत), बाजार में ज्यादा पहुंच प्रदान करने में मदद कर सकती है। कुछ लोकप्रिय चहेते व्यवसायों में बुटीक चलाना (16 प्रतिशत), घर पर ट्यूशन देना (10 प्रतिशत), वस्त्र, ज्वेलरी आदि बेचना (7 प्रतिशत), ब्यूटी पार्लर चलाना (6 प्रतिशत) आदि हैं। अपना खुद का व्यवसाय स्थापित करने से ये गृहणियां ज्यादा आत्मविश्वास से युक्त (81 प्रतिशत), सशक्त (78 प्रतिशत) बनेंगी और समाज में ज्यादा प्रतिष्ठित महसूस करेंगी (63 प्रतिशत)।इन महत्वाकांक्षाओं में सहयोग करने के लिए प्रतिभागियों को गूगल से डिजिटल स्किलिंग के संसाधन के इस्तेमाल की सुविधा मिलेगी। ये डिजिटल संसाधन छः भाषाओं - हिंदी, तेलुगू, तमिल, कन्नड़, बंगाली और इंग्लिश में उपलब्ध हैं।

सीज़न के आकर्षणों एवं ब्रिटानिया मारी गोल्ड माई स्टार्टअप प्रतियोगिता 2021 के लॉन्च पर रोशनी डालते हुए विनय सुब्रमण्यम, वाईस-प्रेसिडेंट, मार्केटिंग, ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड ने कहा, ‘‘पिछले दो सालों में कैम्पेन को मिली बेहतरीन प्रतिक्रिया के बाद, मारी गोल्ड माई स्टार्टअप कैम्पेन का सीज़न 3.0 गूगल के सहयोग से हमारे देश की गृहणियों के लिए बेहतरीन संभावनाएं लेकर आया है। यह गठबंधन पूरे देश से बढ़ती प्रतिभागिता और गृहणी से एक उद्यमी बनने का सफर शुरू करने के लिए मार्गदर्शन की जरूरत का परिणाम है। इस सीज़न में गृहणियों को बाजार की बेहतर पहुंच, ग्राहक वर्ग का विस्तार करने, वित्त एवं अन्य संसाधन प्राप्त करने के लिए टेक्नॉलॉजी के इस्तेमाल का कौशल प्रदान करने पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।

ब्रिटानिया के साथ गठबंधन के बारे में सपना चड्ढा, सीनियर मार्केटिंग डायरेक्टर, भारत एवं दक्षिण पूर्व एशिया, गूगल ने कहा, ‘‘गूगल में हमारा हर काम अवसर व समावेशन पर केंद्रित है। अपने उत्पादों व कार्यक्रमों के द्वारा हमने भारत में लाखों महिलाओं को आय एवं आजीविका के लिए डिजिटल टूल्स का इस्तेमाल करने में सहयोग किया है। हमें मालूम है कि डिजिटल माध्यम से उद्यमशीलता के अवसर अपनाने के लिए महिलाओं की मदद करने का उन पर एवं उनके परिवारों, समुदाय और स्थानीय अर्थव्यवस्था पर परिवर्तनकारी प्रभाव पड़ेगा। हमें ब्रिटानिया के महत्वपूर्ण प्रोग्राम में महत्वाकांक्षी महिला उद्यमियों को डिजिटल कौशल के संसाधन प्रदान करने की खुशी है और हम उन सभी की सफलता की कामना करते हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान