होंडा कार्स इंडिया ने नया एंटी वायरस केबिन एयर-फिल्टर पेश किया

• बेहतर केबिन एयर-फिल्टर अपने विशिष्ट प्रोग्रेसिव मल्टी-लेयर डिजाइन के साथ वायरल एरोसोल को पकड़ता है और ताकतवर वायरसों के प्रवाह को रोकता है

• नए फिल्टर में अधिकतम सुरक्षा के लिए चार लेयर वाला फिल्ट्रेशन सिस्टम है

• फिल्टर वायरल एरोसोल को पकड़ सकता है और दूसरे चरण में पकड़े गए लगभग 100 प्रतिशत वायरल लोड को निष्क्रिय कर देता है

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 20 अक्टूबर  2021, नई दिल्ली। भारत में प्रीमियम कारों की अग्रणी विनिर्माता कंपनी होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड (एचसीआईएल) अब अपनी कारों में नवीन एंटीवायरस केबिन एयर-फिल्टर की पेशकश करेगी, जो हानिकारक कीटाणु, एलर्जी पैदा करने वाले पदार्थों और यहां तक कि वायरस की एक बड़ी रेंज को पकड़ने में प्रभावी है जिनसे स्वास्थ्य संबंधी प्रमुख समस्याएं पैदा हो सकती हैं। होंडा एंटीवायरस केबिन एयर-फिल्टर को एक वैश्विक प्रौद्योगिकी समूह फ्रुडेनबर्ग के साथ मिलकर विकसित किया गया है, जो भविष्य के खोजों के माध्यम से ग्राहकों और समाज को मजबूत बनाता है। इसकी स्टैंडर्ड होंडा पोलेन फिल्टर के विकल्प और होंडा की वास्तविक नई एक्सेसरी के रूप में पेशकश की गई है। यह नया केबिन एयर फिल्टर वायरल एरोसोल की संख्या को खासा घटाकर सक्रिय सुरक्षा उपलब्ध कराता है। यह विशेष मल्टी लेयर डिजाइन में बनाया गया है जो हानिकारक पर्यावरणीय गैसों के साथ ही अकार्बनिक और जैविक कणों व एरोसोल को प्रभावी रूप से पकड़ता है, फिल्टर करता है और उनका खात्मा कर देता है। मोटर वाहनों में यात्रा के दौरान जोखिम कम करने के मामले में, होंडा एंटीवायरस केबिन एयर-फिल्टर अभी तक उपलब्ध सबसे अच्छी सुरक्षा में से एक की पेशकश करता है। 

घोषणा पर टिप्पणी करते हुए, होंडा कार्स इंडिया लि. के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट और निदेशक - विपणन एवं बिक्री श्री राजेश गोयल ने कहा, “कीटाणुओं, वायरस और केबिन की हवा की गुणवत्ता को लेकर चिंताएं बढ़ने के साथ एवं वायु की गुणवत्ता के साथ समझौते के कारण स्वास्थ्य को होने वाले संभावित खतरों को कम करने के लिए यह एक सक्रिय समाधान और रक्षा प्रणाली उपलब्ध कराने का एक जागरूक प्रयास है। यह अलर्जी रोधी और एंटीवायरस केबिन एयर-फिल्टर होंडा के अपने आपूर्तिकर्ताओं के साथ मिलकर काम करने का बेहतरीन उदाहरण है, जो चालक और कार में बैठे लोगों के स्वास्थ्य और सुरक्षा में सुधार करता है। हमें भविष्य में ऐसे सुरक्षात्मक समाधानों की मांग तेजी से बढ़ने का अनुमान है।

होंडा एंटीवायरस केबिन एयर फिल्टर के बारे में

वाहन के केबिन में संक्रमण संबंधी जोखिम घटाने के क्रम में, सामान्य रूप से ताजा हवा की आपूर्ति बढ़ाने की सिफारिश की जाती है क्योंकि इससे एरोसोल्स की संख्या घटती है। रि-सर्कुलेशन मोड में, हवा से वायरसों को हटाना काफी हद तक फिल्टरेशन सिस्टम और एयर एक्सचेंज रेट की क्षमता पर निर्भर करता है। लीफ एक्सट्रैक्ट के सक्रिय पदार्थ से युक्त पहली माइक्रोफाइबर बायो-फंक्शनल लेयर अलर्जी पैदा करने वाले पदार्थों के साथ ही बैक्टीरिया को प्रभावी रूप से निष्क्रिय करती है और उन्हें केबिन की हवा में जाने से रोकता है। होंडा एंटीवायरस केबिन एयर-फिल्टर की अन्य लेयर अधिकांश वायरसों, बेहद सूक्ष्म एरोसोल, धूल और पोलेन को पकड़ती हैं, वहीं सक्रिय कार्बन से बनी लेयर हानिकारक अम्लीय गैसों, पीएम2.5 जैसे प्रदूषकों और कणों को सोखने के लिए जवाबदेह है।

वायरस आम तौर पर पानी की बूंदों से फैलते हैं, जो तब पैदा होती हैं जब संक्रमित व्यक्ति छींकता है, खांसता है या सांस लेता है; और वे घंटों या दिनों तक सतहों पर संक्रामक बने रह सकते हैं। हवा की गड़बड़ी और तापमान में बदलाव और आर्द्रता इन कणों को फिर से हवा में ले जा सकते हैं, उस समय उन्हें फिल्टर से पकड़ा जा सकता है। एंटीवायरस केबिन एयर-फिल्टर में छोटे कणों को छानने वाली लेयर वायरस संचरण के खिलाफ स्टैंडर्ड फिल्टरों की तुलना में बेहतर सुरक्षा उपलब्ध कराती है। नया होंडा एंटीवायरस केबिन एयर-फिल्टर वायरस एरोसोल्स (5 μm से खासी छोटी बूंद) को पकड़ सकता है और दूसरे नवीन कदम से लीफ एक्सट्रैक्ट के सक्रिय पदार्थ के लेप वाली बायो-फंक्शनल लेयर के माध्यम से 100 प्रतिशत वायरल लोड निष्क्रिय कर दिए जाते हैं। भारत की सभी होंडा कारों की डीलरशिप पर इस नए एंटीवायरस केबिन एयर-फिल्टर की आपूर्ति की जा सकती है और लगाया जा सकता है, जो अब सभी नए होंडा के मॉडलों के लिए उपलब्ध है।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान