किसानों की समस्याओं का जल्द नहीं हुआ समाधान तो करेंगे यमुना प्राधिकरण पर तालाबंदी : ऋषि पाल अंबावता

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 19 अक्टूबर 2021, ( के लाल) गौतम बुध नगर। राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी ऋषि पाल अंबावता  जी के आह्वान पर   जेवर टोल प्लाजा पर  किसानों की समस्याओं को लेकर  विशाल धरना प्रदर्शन किया गया 10 सूत्रीय मांग को लेकर महामहिम राष्ट्रीय पति के नाम उप जिलाधिकारी जेवर को सौंपा ज्ञापन यमुना प्राधिकरण के अधिगृहीत  एवं अधिसूचित गांव के किसानों का यमुना प्राधिकरण एवं यमुना एक्सप्रेसवे में प्रबंधन द्वारा भारी शोषण एवं उत्पीड़न कराने को लेकर भारतीय किसान यूनियन अंबावता निम्न बिंदुओं पर किसान हित में कार्यवाही की मांग करती है। इस मौके पर (प्रदेश अध्यक्ष) पं.सचिन शर्मा ने कहा कि किसानों का उत्पीड़न हो रहा है अपनी समस्याओं को लेकर किसान तीनों प्राधिकरण के चक्कर काट रहे हैं लेकिन समाधान नहीं हो पा रहा है अथॉरिटी किसानों की जमीनों को विकास के नाम पर छीन रही है अगर कोई किसान विरोध करता है तो उसे जेल में डाल दिया जाता है अगर ऐसा चलता रहा और किसानों की समस्या का जल्द समाधान नहीं निकला तो भारतीय किसान यूनियन अंबावता के बैनर तले तीनों प्राधिकरण का घेराव कर तालाबंदी की जाएगी। 

 1- यमुना प्राधिकरण के अधिसूचित गांव के किसानों छात्र-छात्राओं यात्रियों आदि को खेतों में जाने एक गांव से दूसरे गांव स्कूल आने जाने एवं मरीजो को अस्पताल एवं रिश्तेदारी में आने जाने मैं जेपी  गौर कंपनी की वजह से भारी तकलीफ उठानी पड़ रही है महोदय यमुना एक्सप्रेस वे की दोनों तरफ लंबित सर्विस रोड को तत्काल पूर्ण किया जाए एवं जनता को समर्पित किया जाए !

 2- नोएडा से लेकर आगरा तक यमुना एक्सप्रेसवे प्रबंधन एक्सप्रेस वे के दोनों तरफ 7-7 किलोमीटर के दायरे में आ रहे गांव के लोगों से टोल वसूली सर्विस रोड बनने तक बंद करें एवं केवल आईडी देखकर नोएडा से आगरा तक फ्री आवागमन सुनिश्चित किया जाए !

3- यमुना प्राधिकरण के अधिग्रहित किसानों को 64.7% मुआवजा बाकी बचे गांवों के सभी किसानों को दिया जाए प्राधिकरण अधिकारी जेपी कंपनी के कोर्ट जाने को बहाना नहीं बना कर किसान हित प्राधिकरण के विकास हित आदि को देखकर बोर्ड मीटिंग में पास करा कर मुआवजा  वितरण कराने की कृपा करें !

4 - ईस्टर्न पेरीफेरल मार्ग को दनकौर के पास  लूप बनाकर यमुना एक्सप्रेस वे से जोड़ने की कवायद चल रही है इस  लूप में जिन किसानों की जमीन आ रही है उन्हें प्राधिकरण  कमीं चुपके से बुला 64-7% मुआवजा देने को राजी कर रहे हैं उसमें कोर्ट की अवहेलना नहीं है अगर नहीं है तो  बाकी बचे सभी गांव के सभी किसानों को 64.7% मुआवजा दिया जाए   !

 5 - एक्सप्रेस वे यमुना पर रोडवेज बस जिस गांव या सेक्टरों के सामने सवारी उतारती  चढ़ाती है उन सभी जगह पर वर्षा सर्दी एवं धूप से बचने के लिए बस स्टैंड एवं बच्चे बूढ़े महिलाओं एवं विकलांगों के लिए शिडी एवं पाइप रेलिंग का निर्माण किया जाए !

6  यमुना प्राधिकरण के  अधिग्रहित सभी गांव में बिजली  सीवर आरसीसी रोड बरात घर पार्क किसान भवन के साथ-साथ प्रत्येक गांव में खेलकूद में  प्रतिभाओं को तराशने एवं संवारने के लिए एक मिनी स्टेडियम का निर्माण किया जाए

 7- गांवों की आबादीओं का     विनियमितीकरण अविलंब किया जाए एवं प्रत्येक गांव के चारों तरफ कम से कम 30 मीटर चौड़ी सर्किल रोड का निर्माण कर गांवों का सीमांकन किया जाए! 

8- प्राधिकरण द्वारा आवंटित जमीन पर बने कारखाने प्राइवेट स्कूलों प्राइवेट अस्पतालों एवं सभी सरकारी संस्थान /उपक्रमों में तथा मेट्रो रेल में मूल निवासियों/ किसानों एवं वारिसों को शिक्षा अनुसार 40% नौकरियां प्राधिकरण अपने बोर्ड मीटिंग में पास कराने की प्रक्रिया अपनाएं !

9- जल ही जीवन है को साकार करते हुए एवं भविष्य में अपनी   पिडियो को जिंदा रखने के लिए यमुना प्राधिकरण के प्रत्येक सेक्टर में कम से कम 2-2 तालाब बनवाए जाएं वर्षा जल को 100%  भूगर्भित 

 किया जाए गांवों के तालाबों का जीर्णोद्धार कराने के साथ-साथ यमुना प्राधिकरण के अधिसूचित क्षेत्र से निकल रहे  नहर रजवाहै  बमबे आदि के साथ छेड़छाड़ नहीं की जाए उन्हें संरक्षित रहने दिया जाए जिससे भूगर्भ में जल का स्तर भविष्य में कम नहीं हो सके !

9- एयरपोर्ट में विस्थापित गांवों की बिजली की लाइन प्राधिकरण किसानों को खिंचवा कर दे एवं गांव में लगे पुराने मीटर को बिजली विभाग हस्तांतरित मकानों में लगवाने की प्रक्रिया अपनाएं !

10 - 7% के आवासीय भूखंडों को रोक कर रखा गया है  उन्हें चौड़ी रोड पर बनाया जाए  एवं आवंटन पत्र में  व्यवसाय कार्य की  100%  आवंटी  मूल किसानों को रियायत दी जाए! प्राधिकरण   से जुड़े प्रकरणों पर जेवर टोल प्लाजा पर भारतीय किसान यूनियन अंबावता के  प्रदेश अध्यक्ष पं. सचिन शर्मा नेतृत्व में किया यमुना एक्सप्रेसवे टोल कर जेवर क्षेत्र से व प्रदेश भर से आए हुए हजारों किसानों ने यमुना एक्सप्रेस वे के खिलाफ नारेबाजी की और टोल कर्मियों की अभद्रता का विरोध किया और उनके अधिकारियों को सख्त चेतावनी दी कि यदि हमारे किसान भाइयों से किसी भी प्रकार की अभद्रता की गई तो भारतीय किसान यूनियन बड़ा प्रदर्शन करेगी।

इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष पं. सचिन शर्मा  ने कहा कि कल 18 अक्टूबर को संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर पूरे देश में रेल रोको आंदोलन चलाया जाएगा सरकार पर दबाव बनाया जाएगा। जिससे केंद्र सरकार लंबे समय से आंदोलन कर रहे किसान नेताओं के साथ जल्द से जल्द संवाद करें और उनकी लंबित समस्याओं को निस्तारित करे। इस अवसर पर युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष  अशोकनगर  राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य नरेंद्र प्रधान शर्मा यादव रमेश चंद दीवान  राष्ट्रीय सचिव विनय तालान  प्रदेश उपाध्यक्ष धर्मवीर यादव  अवधेश प्रदेश मंत्री अनिकेत देवघर  रावत मंडल अध्यक्ष नरेश चप्परगढ़ मजदूर प्रकोष्ठ प्रदेश अध्यक्ष पवन तेवतिया  जिला अध्यक्ष राजकुमार तोमर  जिला अध्यक्ष अमित कसाना जिला अध्यक्ष राजेश उपाध्याय जिला अध्यक्ष बिन्नू आधाना जिला अध्यक्ष ऋषि पाल चौहान चौधरी ब्रहम सिंह प्रधान नरेंद्र भाटी संजय कसाना प्रभु नागर राजकुमार रूपबास  नवीन कौशिक भोलू पंडित शंकर कसाना कृष्ण बंसल विकास शर्मा  प्रवीण शर्मा संजय शर्मा ललित यादव रविंद्र तोमर सौरभ जैन  धर्मवीर गौतम  सुखबीर बृजेश यादव मोनू राकेश कुमार  चौहान   अनिल मास्टर जी  सतीश यादव श्याम यादव मनवीर यादव  नरेश यादव सुरेंद्र  यादव  और हजारों किसानों की उपस्थिति सराहनीय और उत्साहवर्धक रही।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान