नारी प्रगति सोशल फाउंडेशन ने वेबिनार का आयोजन

 

शब्दवाणी समाचार, रविवार 31 अक्टूबर 2021, ( के लाल) गौतम बुध नगर। नारी प्रगति सोशल फाउंडेशन द्वारा दिल से दिल की बात के द्वितीय सोपान की तीव्रता को बढ़ाते हुए समाज में बढ़ती घरेलू हिंसा पर मासिक वेबिनार का आयोजन किया जिसमे घरेलू हिंसा  के कारण और उन से कैसे बचा जा सकता है! क्या, कैसे, और किस, प्रकार का कानून है उसकी जागरूकता  समाज में कैसे स्थापित की जा सकती है। मीडिया प्रभारी अलका वर्मा ने बताया कि इस वेबीनार  के मुख्य  विशिष्ट वक्ता श्रीमती वृंदा शुक्ला आईपीएस, डीसीपी (महिला सुरक्षा) एवं एडवोकेट  श्रीमती नीलम मनचंदा ने अपने वक्तव्य के द्वारा समाज में फैली इस कुरीति पर प्रकाश डाला और दूर करने के लिए जानकारी साझा की।  

कार्यक्रम का सञ्चालन जनरल सेक्रेटरी  सुनीता जेटली  ने किया एवं संरक्षक एवं ,उपाध्यक्ष निशू गुप्ता ने सभी का स्वागत किया। श्री मति  वृंदा शुक्ला डीसीपी (महिला सुरक्षा) ने कहा कि हम  काउंसिलिंग  एवं  जागरूकता के द्वारा प्रयास कर रहे है कि  कोई भी महिला घरेलू हिंसा  की शिकार ना हो पाये और इसमें नारी प्रगति सोशल फाउंडेशन भी बहुत सराहनीय प्रयास कर रही है  ऐसे ही सभी को मिलकर समाज में फैली कुरीतियों को समाप्त करना है नवरतन फाउंडेशन के अध्यक्ष अशोक श्री वास्तव ने कहा कि नारी प्रगति सोशल फाउंडेशन एक्टिव एनजीओ का  चेहरा है और हम आपके साथ है नोवरा के अध्यक्ष  रंजन तोमर एवं युवा सर्फाबाद के रविकांत शर्मा ने  गावों में महीने में एक बार जागरूकता  कराने पर बल दिया।  

वेबिनार  में असख्य लोग शामिल हुए ' नारी प्रगति शोषण फाउंडेशन के संरक्षक सौरभ त्यागी , ग़ज़िआबाद अध्यक्ष शेफाली  रावत ,  हेड  यूथ विंग सोनू यादव  एक्टिव  सिटीजन अध्यक्ष अलोक वर्मा , रमा त्यागी   मैत्री  अध्यक्ष  नर्मता , नोफा अध्यक्ष राजीवा  सिंह , महिला शक्ति अध्यक्ष साधना  शर्मा , चैलेंजर अध्यक्ष प्रिंस , सुनीता भूटानी  ने भी अपने अपने विचार रखे , कार्यक्रम में असख्य लोग शामिल हुए. नारी प्रगति शोषण फाउंडेशन की संस्थापक एवं अध्यक्ष  मीनाक्षी ने सभी का आभार व्यक्त किया।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान