इंटेल ने लॉन्च किया इंटेल® उन्नति कार्यक्रम

 

◆ भारत में उभरते हुए आधुनिक तकनीकी कौशल को प्रोत्साहित करने के लिए

◆ अगले एक साल में देश के अग्रणी विश्वविद्यालयों और इंजीनियरिंग संस्थानों में 100 इंटेल® उन्नति डेटा-सेंट्रिक 

शब्दवाणी समाचार, रविवार 24 अक्टूबर  2021, नई दिल्ली। इंटेल ने आज भारत में इंजीनियरिंग के छात्रों को इंडस्ट्री के लिए जरूरी डेटा-सेंट्रिक स्किल से लैस करने के लिए इंटेल® उन्नति कार्यक्रम शुरू करने की घोषणा की। सिस्टम इंटीग्रेटर्स के नेटवर्क के माध्यम से, उभरती तकनीकों से जुड़ी 100 इंटेल® उन्नति डेटा-सेंट्रिक लैब्स अगले एक साल में भारत के विश्वविद्यालयों और इंजीनियरिंग संस्थानों में स्थापित किए जाएंगे। यह पहल उच्च शिक्षण संस्थानों को लंबे समय के लिए तकनीकी एवं लैब से जुड़ा बुनियादी ढांचा उपलब्ध कराएगी, जिससे देश में रिसर्च एवं इनोवेशन पर अधिक ध्यान केंद्रित किया जा सकेगा। 

निवृति राय, कंट्री हेड, इंटेल इंडिया और वाइस प्रेसिडेंट, इंटेल ने कहा ”फाउंड्री सर्विसेतकनीक आज के समय में जितनी जरूरी हो चुकी है उतनी पहले कभी नहीं थी। यह भविष्य के विकास के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। तकनीक से जुड़े उद्योगों की तेजी से बदलती जरूरतों और अपेक्षाओं के साथ तालमेल बैठाने के लिए भारत की युवा प्रतिभाओं को सही इन्फ्रास्ट्रक्चर और पाठ्य सामग्री उपलब्ध कराना बेहद जरूरी है। इंटेल® उन्नति डेटा-सेंट्रिक लैब्स शैक्षणिक संस्थानों को देश में तकनीकी कौशल की कमी को खत्म करने, इंडस्ट्री के लिए उभरती तकनीक से लैस युवाओं को तैयार करने और भारत की डिजिटल इकोनॉमी में बदलाव के लिए आवश्यक गति प्रदान करने में मदद करेगी।

यह किस प्रकार काम करता है : तकनीक की पहुंच बढ़ाने पर केंद्रित, इंटेल® उन्नति प्रोग्राम सभी स्तरों पर शैक्षणिक संस्थानों तक तकनीकी इंफ्रास्ट्रक्चर उपलब्ध कराने का प्रयास करता है। संस्थानों के पास अपने बजट के अनुसार लैब के प्रकार का विकल्प होगा और यह बताएगा कि वे तकनीक और इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में कहां खड़े हैं। प्रत्येक इंटेल® उन्नति लैब में इंटेल के हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर, पाठ्यक्रम सामग्री, और छात्रों के लिए को-ब्रांडेड पाठ्यक्रम पूरा करने के लिए प्रमाणपत्र शामिल होंगे। वर्तमान में, ये लैब एआई, एफपीजीए सॉल्यूशंस और एआईआईओटी के लिए उपलब्ध हैं। इसके साथ ही मोबिलिटी एवं सिक्योरिटी जैसी अन्य तकनीकों पर भी जल्द लैब शुरू की जाएंगी।

डॉ एस वी कोटा रेड्डी, कुलपति, VIT-AP विश्वविद्यालय ने कहा ''VIT-AP अनुभवी शिक्षकों की मदद से एप्लाइड लर्निंग की प्रक्रिया से जुड़ा हुआ है। यह छात्रों को समाज के विकास और स्थिरता में अपना योगदान देने के लिए प्रतिभा और ज्ञान के इस्तेमाल को प्रोत्साहित करता है। डेटा-सेंट्रिक तकनीकों पर फोकस के साथ, इंटेल® उन्नति लैब्स AI, HPC, FPGA और AIIoT जैसी उभरती तकनीकों में छात्रों को इंडस्ट्री के लिए जरूरी स्किल में दक्ष बनाने के लिए एक बेहतरीन प्लेटफॉर्म प्रदान करती हैं। इंटेल® उन्नति हमारे वर्तमान प्रोग्राम और पाठ्यक्रम के साथ बेहतर तरीके से तालमेल बैठाता है। 

मैं इसे हमारी सोच को साकार करने और एक रिसर्च एवं इनोवेशन आधारित इकोसिस्टम बनाने में एक मजबूत सहयोगी के रूप में देखता हूं। यह बेहद प्रभावशाली तरीके से काम करता है। इस प्रोग्राम के कार्यान्वयन में देश भर के सिस्टम इंटीग्रेटर्स का एक नेटवर्क मदद प्रदान करता है,  यह प्रत्येक संस्थान की आवश्यकता के अनुरूप लैब तैयार करने, पाठ्यक्रम के अनुसार फैकल्टी को प्रशिक्षित करने और निरंतर रखरखाव में सहायता प्रदान कर सकता है। यहां व्यवहारिक अनुभव पर जोर दिया जाता है जो हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर टूलकिट का उपयोग करने में छात्रों के बीच विश्वास पैदा करता है।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान