नोएडा में बुलेट बाइक वालों का कटा चालान

◆ अब तक 500 से अधिक लोगों से वसूला 75 लाख रुपए का जुर्माना

◆ कहीं आप भी तो नहीं कर रहे गलतियां

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 8 नवम्बर  2021, (ऐ के लाल) गौतम बुध नगर। गौतमबुद्ध नगर पुलिस (Noida Police) और नोएडा आरटीओ (Noida RTO) ने एक अभियान छेड़ा है। इस अभियान के तहत कुछ ही दिनों में 500 बुलेट चालकों से 75 लाख रुपए का जुर्माना वसूला गया हैं। यह अभियान आगे भी चलता रहेगा। यह अभियान उन लोगों के लिए काफी बड़ा सबक है, जो लोग अपनी बाइक को मोडिफाइड करवाकर चलाते हैं। अभी तक नोएडा आरटीओ और पुलिस 500 बुलेट चालकों से 75000 हजार रुपए का जुर्माना वसूल चुकी है और यह कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी।

मॉडिफाइल साइलेंसर मिलने पर 15 हजार रुपए का जुर्माना

मिली जानकारी के मुताबिक, नोएडा आरटीओ विभाग ने बुलेट के साइलेंसर को मॉडिफाइल करके चलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करना शुरू कर दिया है। ऐसे बाइक सवार ध्वनि प्रदूषण के नियमों का भी उल्लघंन करते हैं। चेकिंग के दौरान पकड़े जाने पर मॉडिफाइल साइलेंसर लगी बुलेट का 15 हजार रुपए का चालान काटा जा रहा है।

दुकानदारों पर होगी कार्रवाई

मॉडिफाइल साइलेंस लगी बुलेट बाइक पर कार्रवाई करने के साथ ही आरटीओ विभाग दुकानदारों पर भी कार्रवाई कर रहा है। यह वो दुकानदार हैं जो मॉडिफाइल साइलेंस बेचते हैं या फिर मोटर साइकिल में लगे साइलेंसर को मॉडिफाइल करते हैं। आरटीओ विभाग ने ऐसे बहुत सारे दुकानदारों को नोटिस भेजे हैं। दुकानदारों से इस तरह के साइलेंसर न बेचने को कहा गया है। अगर नोटिस मिलने के बाद भी दुकानदार ऐसा करते हैं तो उनकी दुकान का पंजीकरण रद्द करने तक की चेतावनी दी गई है।

लोगों के बीच होता है भय का माहौल

आपको बता दें कि नोएडा और ग्रेटर नोएडा की सड़कों पर अगर मोडिफाइड बुलेट मिलती है तो आरटीओ विभाग और पुलिस उसकी जांच कर रही है। अधिकतर देखा जाता है कि लोग अपनी बुलेट बाइक में मॉडिफाइड सैलेंसर लग जाते हैं और बुलेट बाइक से पटाखे जैसी आवाज निकालते हैं। ऐसे बुलेट चालकों के खिलाफ पहले ही सुप्रीम कोर्ट ने कार्रवाई करने का आदेश दिया है। आपको बता दें कि यह बुलेट बाइक ना ही केवल ध्वनि प्रदूषण करती है बल्कि लोगों के बीच दहशत का माहौल व्याप्त कर देती हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान