निहारिका सिंह और उनके गुरु जनार्दन जेटली के बीच निर्णायक मुकावला

 

◆ केवल वूट सिलेक्ट के ईललीगल सीज़न 2 में

◆ वूट सेलेक्ट पर 25 नवंबर 2021 को रिलीज़, ईललीगल सीज़न  2 नेहा शर्मा द्वारा निभाई गई निहारिका सिंह और उनके पूर्व मेंटर जनार्दन जेटली, पीयूष मिश्रा द्वारा निभाई गई भूमिका को अगले लेवल तक बढ़ा देता है

◆ नेहा शर्मा, पीयूष मिश्रा, अक्षय ओबेरॉय, तनुज विरवानी, सत्यदीप मिश्रा, पारुल गुलाटी और अंचित कौर जैसे स्टार-स्टडेड  कलाकारों का चयन

शब्दवाणी समाचार, रविवार 21 नवम्बर  2021, नई दिल्ली।आदर्शवादी वकील निहारिका सिंह की अपने गुरु जनार्दन जेटली के बीच का रोमाचंक कोर्ट रूम ड्रामा के बाद वूट सेलेक्ट के  ईललीगल के पहले सीज़न  का शानदार समापन हुआ। सशक्त कहानी  और कलाकारों द्वारा निभाए गए अद्भुत अभिनय को दर्शकों ने खूब सराहा। इस शो को समीक्षकों की ओर से भी अच्छी रेटिंग मिली और दर्शको का मनोरंजन करने का खिताब भी मिला था।  पूर्व मेंटर और मेंटी के बीच की लड़ाई इस बार एक और निर्यायक मौड़ पर लौटती है, जिसमें दोनों के पास अपने-अपने दांव हैं। हमेशा सवाल बना रहता है कि- क्या न्याय मिलेगा या सच्चाई को नकारा जाएगा?इस बात का  फैसला 25 नवंबर 2021 को वूट सेलेक्ट पर ईललीगल 2 की  स्ट्रीमिंग के साथ होगा।

नेहा शर्मा, पीयूष मिश्रा, अक्षय ओबेरॉय, तनुज विरवानी, सत्यदीप मिश्रा, पारुल गुलाटी और अंचित कौर की कुशल अदाकारी ईललीगल के  दूसरे सीज़न  में भी  दर्शकों का मनोरंजन करने के लिए तैयार है। अश्विनी चौधरी द्वारा अभिनीत और जगरनॉट प्रोडक्शंस द्वारा निर्मित, ईललीगल  का  सीज़न  2 साल का सबसे बड़ा कोर्ट रूम ड्रामा होने वाला है।

ईललीगल के दूसरे सीज़न  में, मेंटर-मेंटी की लड़ाई तेज होना वाली है। नए सीज़न  में निहारिका (नेहा शर्मा द्वारा अभिनीत) जो अपनी खुद की लॉ फर्म शुरू करने में एक बड़ा जोखिम उठाती है और जनार्दन जेटली (पीयूष मिश्रा द्वारा अभिनीत)जो  दिल्ली के अगले मुख्समंत्री बनने के लिए अपने अभियान शुरू करते है। कथा  विरोधियों का पता लगाने के साथ साथ तीन जटिल कानूनी लड़ाइयों को भी उजागर करती है जो दर्शकों को पेचीदा कानून, बड़े व्यवसायों और गंदी राजनीति की उलझी हुई दुनिया दिखाती है। ईललीगल सीज़न  2 में  हमे वकीलों के जीवन, कोर्ट रूम में उनकी लड़ाई और जीवन का पता लगता है।

पर्दे पर नहारिका सिंह के चरित्र के बारे में बताते हुए , नेहा शर्मा कहती हैं, निहारिका सिंह के करैक्टर को पर्दे पर अभिनीत  करना मेरे लिए एक चुनौतीपूर्ण और एक अच्छा अनुभव रहा। वह गलत कामों और अन्याय के खिलाफ अपनी लड़ाई में अपने शक्तिशाली दुश्मनों के साथ भी लडऩे के लिए तैयार है। ईललीगल  सीज़न  2 में सच्चाई को सामने लाने के साथ उसके जीवन का व्यक्तिगत और पेशेवर संघर्ष दिखाई देता है। दर्शक एक आकर्षक कोर्ट रूम थ्रिलर के लिए हैं और इसके ट्विस्ट और टर्न को पसंद करेंगे।

ईललीगल  सीज़न  2 में जनार्दन जेटली के रूप में वापसी करने के लिए उत्साहित, पीयूष मिश्रा कहते हैं,कि पहले सीज़न  के प्यार और प्रशंसा ने हमें कहानी को आगे ले जाने और निहारिका सिंह और जनार्दन जेटली के बीच एक भीषण निर्यायक मुकाबले के लिए प्रेरित किया। सीज़न  2 का  कानून, शक्ति और न्याय के इर्द-गिर्द की परिस्थितियों के साथ  एक-दूसरे को मात देने की लड़ाई के इर्द-गिर्द केंद्रित है। घटनाओं का नाटकीय मोड़ और प्रभावशाली कहानी दर्शकों को इस कोर्ट रूम  से बांधे  रखेगी।

ईललीगल सीज़न  2 में अक्षय जेटली के रूप में वापसी करते हुए अक्षय ओबेरॉय  कहते हैं, सीज़न  -2 में नेहा और पीयूष के करैक्टर  के बीच दखल देने वाला नजारा जरूर देखना लायक होगा। दर्शकों ने पहले सीज़न  में शो को अपार प्यार दिया और हमें खुशी है कि आने वाले सीजन में भी दर्शकों का अपार प्यार मिलेगा।  मेरे किरदार अक्षय जेटली को एक नैतिक दुविधा का सामना करना पड़ेगा क्योंकि नई परिस्थितियां उत्पन्न होती हैं जो उन्हें ईललीगल शब्द की वास्तविक परिभाषा के बारे में खुद से सवाल करती हुई दिखाई देगी।

ईललीगल सीज़न   2 में राघव मल्होत्रा के रूप में निहारिका के प्रेमी की भूमिका निभा रहे तनुज विरवानी कहते हैं, मैंने ईललीगल  सीज़न   1 को देखा और तुरंत टीम को उनके शानदार काम पर बधाई दी। इस सीज़न   का हिस्सा बनना पूरी तरह से मेरे लिए एक खास अनुभव रहा है। स्क्रिप्ट शानदार है, और दर्शक पूर्व मेंटर और मेंटी  के बीच एक रोमांचक लड़ाई , जो अब अपनी -अपनी न्याय की अपनी परिभाषा के साथ आमने-सामने है, को देखने के लिए के लिए तैयार हैं, । मैं जो किरदार निभा रहा हूं वह आकर्षक, प्रेरक और उन घटनाओं के इर्द-गिर्द है जो सच्चाई की खोज  में है।

निहारिका सिंह के सहयोगी वकील पुनीत टंडन की भूमिका निभाने वाले सत्यदीप मिश्रा कहते हैं, ईललीगल   के पहले सीज़न  ने प्रशंसकों और आलोचकों से खूब तालियाँ बटोरी। कहानी और भी नाटकीय हो जाती है क्योंकि हम जब सीजन-2 के करीब आते हैं जो दर्शकों को बांधे रखेगा। प्रत्येक करैक्टर  के व्यक्तित्व को बहुत सलीके से चित्रित किया गया है और वह इस सवाल के इर्द-गिर्द केंद्रित है कि क्या न्याय दिया जाएगा, या सच्चाई को नकार दिया जाएगा।

ईललीगल सीज़न   2 में देविका जेटली के रूप में अपनी भूमिका को दोहराती हुई पारुल गुलाटी कहती हैं, ईललीगल के सफर को जारी रखने के लिए उत्साहित हैं। कहानी उन जटिल मामलों की भी रूपरेखा तैयार करती है जो दर्शकों को यह सवाल करेंगे कि न्याय का सही अर्थ क्या है। इस सीज़न   में मेरा देविका का  किरदार एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और तब तक नहीं रुकेता जब तक कि उसे उसका लक्ष्य  नहीं मिल जाता। मुझे विश्वास है कि दर्शक इस शो का भरपूर आनंद उठाएंगे।

वायकॉम18 में एसवीओडी (वूट सेलेक्ट, वूट किड्स) और इंटरनेशनल बिजनेस के प्रमुख फरजाद पालिया ने कहा, अपने लॉन्च के बाद से, वूट सेलेक्ट अपने दर्शकों की बढ़ती मनोरंजन की जरूरतों को पूरा कर रहा है। मजबूत कंटेंट  के साथ, वूट सेलेक्ट बेहतरीन कहानी का पर्याय बन गया है। डिजिटल-फर्स्ट ब्रांड बनने के प्रयास के साथ, हम अपने दर्शकों के लिए रोमांचक अनुभव पैदा कर रहे है।  ईललीगल  के पहले सीज़न   की सफलता  बाद, हमें यकीन है कि दूसरा सीज़न   भी अपनी  सम्मोहक और रोमांचकारी कहानी से दर्शकों को स्क्रीन से  बांधे रखेगा। ईललीगल  सीज़न   2 का टीजऱ सभी का ध्यान खींच रहा है और हमें उम्मीद है कि यह नया सीज़न    हमारी स्थिति को और मजबूत करेगा क्योंकि हम ऐसे कंटेंट पेश करने की कोशिश करते है जो अन्य से अलग हो।

ईललीगल  के दूसरे सीजऩ  के लॉन्च पर टिप्पणी करते हुए, वूट और वूट सेलेक्ट के हेड - ओरिजिनल मंजीत सचदेव ने कहा, वूट सेलेक्ट में हमारा प्रयास अपने दर्शकों को जोड़े रखना और उनका मनोरंजन करना है।  हमारे हालिया प्रस्तावों के साथ, हम मनोरंजन की सभी जरूरतों के लिए वन-स्टॉप डेस्टिनेशन बनने के लिए खुद को मजबूत करने में सक्षम हैं। ईललीगल  के सीजऩ  1 को दर्शकों द्वारा खूब सराहा गया। सीजऩ 1 की सफलता के बाद हम रोमांच और उत्साह से भरे सीजऩ 2 की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान