साइबर अपराध और ऑनलाइन शिक्षा के वेबिनार में लोगों को किया जागरूक

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 1 नवम्बर  2021, नई दिल्ली। राष्ट्रीय एकता दिवस पर आजादी की अमृत गाथा के 22 वें अंक में श्रीमती इंदिरा गांधी,सरदार पटेल , बहादुर शाह ज़फ़र,आचार्य नरेंद्र देव ,कमलादेवी चट्टोपाध्याय, दयानंद सरस्वती,होमी जहांगीर भाभा,  और डा.एस एन सुब्बाराव को श्रद्धांजलि देकर साइबर सुरक्षा और ऑनलाइन शिक्षा पर आयोजित आरजेएस राष्ट्रीय वेबिनार में विशेषज्ञों ने जागरूक किया। रविवार को आरजेएस राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन दिल्ली स्थित मुनि इंटरनेशनल स्कूल के संस्थापक डा.अशोक कुमार ठाकुर के सहयोग से आयोजित किया गया।  शिक्षाविद् डा. अशोक ठाकुर ने अतिथियों का स्वागत किया ।उन्होंने आईएएस टाॅपर शुभम कुमार के लिए कहा कि आपने इतिहास रचकर बिहार की परंपरा को आगे बढ़ाने का इतिहास बनाया है। आरजेएस फैमिली की ओर से आपका और अतिथियों का आजादी ‌की अमृत-गाथा‌ में स्वागत है।

वेबिनार का संचालन उदय मन्ना और डा अभिलाषा गौतम ने किया। कंज्यूमर ऑनलाइन फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष प्रोफेसर बिजाॅन मिश्रा ने वेबिनार के विषय पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि रिकमेंडेशन सरकार की नजरों में भी आना चाहिए ताकि साइबर अपराध पर निगरानी रखी जा सके। सकारात्मक भारत आंदोलन की सूत्रधार टीम राम जानकी संस्थान(आरजेएस) नई दिल्ली के राष्ट्रीय संयोजक उदय मन्ना और तपसिल जाति आदिवासी प्रकटन्न सैनिक कृषि विकास शिल्पा केंद्र,गुंटेगेरी, हुगली,पश्चिम बंगाल (टीजेएपीएस केबीएसके) के सचिव सोमेन कोले ने बताया कि वेबिनार के मुख्य अतिथि आईएएस टॉपर और आईआईटीयन शुभम कुमार ने अपनी सक्सेस स्टोरी साझा की और‌ कहा कि उच्च शिक्षा और ऑनलाइन शिक्षा एजुकेशन का बढ़िया टूल है। शुभम कुमार के पिताजी बैंक मैनेजर श्री देवानंद सिंह ने भी वेबिनार में सकारात्मक भारत आंदोलन का समर्थन किया।

अध्यक्षीय संबोधन में अंतर्राष्ट्रीय साइबर लाॅ विशेषज्ञ डा.पवन दुग्गल ने बताया कि नेट पर व्यक्तिगत जानकारियों को साझा करने से बचें। धोखाधड़ी होने पर‌ रिपोर्ट जरूर करें। उन्होंने कहा कि अनजाने में किसी से हो जानेवाले साइबर अपराध बड़ी मुसीबत‌ का कारण बन सकते हैं।  इस विषय में रूचि होने पर सर्टिफिकेट कोर्स का लाभ लेना युक्तिसंगत है। उन्होंने वेबिनार के  दर्शकों को अगले 24 से 26 नवंबर को साइबर सुरक्षा पर होने वाले अंतरराष्ट्रीय वेबिनार में आमंत्रित किया।  मुख्य वक्ता भारत सरकार के पूर्व आईटी अधिकारी PIU- JNNURM निखिलेश मिश्रा  ने  सोशल मीडिया और इंटरनेट का इस्तेमाल करने वाले यूजर्स को आवश्यक सावधानियों की जानकारी दी ,जिसमें प्रोफाइल क्लोन होना, हैक होना, ऑनलाइन गेम के द्वारा अकॉउंट से धन ट्रांसफर हो जाना, अनजाने में अपना डेटा शेयर  देना आदि जैसे गम्भीर मुद्दों पर बचाव के उपाय सुझाए एवं धोखाधड़ी से निपटने के तरीके बताये। उन्होंने बताया कि ऑनलाइन एजुकेशन आज बच्चों, शिक्षकों और अभिवावकों के लिए तथा प्रशिक्षण के क्षेत्र में किन किन प्रकारों से लाभ दायक सिद्ध हो रही है। 

उपस्थित प्रबुद्ध जनों ने अपनी जिज्ञासाएं प्रगट की जिन्हें उनके द्वारा निस्तारित किया गया। आरजेएस फैमिली की ओर से महापुरुषों को श्रद्धांजलि देने वाले आरजेएस पाॅजिटिव स्पीकर्स निम्नलिखित रहे आरजेएस सकारात्मक भारत सूचना केंद्र जमशेदपुर से सविता सहाय, आरजेएस सूचना केंद्र पटना के प्रभारी ओमप्रकाश झुनझुनवाला और प्रेमप्रभा झा(इंदौर),दिल्ली से मनोज झा,इसहाक खान,हरीश कुमार शर्मा और  दीपा सहाय, उत्तर प्रदेश से अंशिका श्रीवास्तव आदि प्रमुख रहे सकारात्मक भारत आंदोलन के संयोजक उदय मन्ना ने बताया कि आरजेएस की अमृत गाथा का अगला वेबिनार रविवार 7 नवंबर को राष्ट्रीय कैंसर जागरूकता दिवस और  सिल्वर जुबली वेबिनार 14 नवंबर को राष्ट्रीय बाल दिवस पर  आयोजित होगा।

Comments

Popular posts from this blog

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

झूठ बोलकर न्यायालय को गुमराह करने के मामले में रिपब्लिक चैनल के एंकर सैयद सोहेल के विरुद्ध याचिका दायर

22 वें ऑल इंडिया होम्योपैथिक कांग्रेस का हुआ आयोजन