शादी के बंधन में बंधी महिला पहलवान अर्पणा बिश्नोई

◆ नोखा के इंजीनियर संग लिए 7 फेरे

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 28 जनवरी  2022, नोखा। राष्ट्रमण्डल कुश्ती चैम्पियनशिप में भारत की ओर से रजत पदक प्राप्त करने वाली मध्य प्रदेश की पहली महिला पहलवान अर्पणा बिश्नोई बेनीवाल राजस्थान नोखा के रहने वाले नरसी बिश्नोई भादू के साथ सात फेरे लेकर परिणय सूत्र में बंध गई। दोनों ने बुधवार देर रात एक-दूसरे को जयमाला पहनाकर शादी की सारी रस्में पूरी की। अर्पणा की शादी में कई हस्ति यों ने शिरकत की। इससे पहले बीकानेर के नोखा कस्बे के बागड़ी मैरिज भवन शिव मंदिर पर लेडीज संगीत, मेहँदी का आयोजन हुआ था। अर्पणा और नरसी का रिश्ता जुलाई 2021 में तय हुआ था। नरसी इंडियन ऑयल कोर्पोरेशन लिमिटेड (IOCL) में केमिकल इंजीनियर के पद पर मथुरा में पदस्थ हैं और अर्पणा भारतीय रेलवे महिला कुश्ती टीम की कोच के साथ ही सेंटर रेलवे के खड़वा स्टेशन पर टिकट कलेक्टर के पद पर कार्यरत हैं। 

शादी समारोह में अर्पणा के चाचा व मध्यप्रदेश शासन से विश्वामित्र पुरस्कार से सम्मानित कुश्ती कोच उमेश पटेल और साउथ एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता राजेंद्र बिश्नोई व सुरेश बिश्नोई भी आशीर्वाद देने पहुंचे। इस मौके पर ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट 2018 में खेले गए राष्ट्रमंडल खेलों की कांस्य पदक विजेता किरण बिश्नोई भी विशेष तौर पर उपस्थित थी। कुश्ती टीम की कुछ प्लेयर्स के साथ द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित कुश्ती गुरु महावीर प्रसाद बिश्नोई ने भी शादी समारोह मैं शिरकत की और वर-वधू को आशीर्वाद दिया।  पहलवान अर्पणा बिश्नोई ने राष्ट्रमण्डल कुश्ती चैम्पियनशिप में जीता था सिलवर मेडल अपर्णा बिश्नोई का जन्म 07 मई 1995 में हुआ था। सिंगापुर में आयोजित राष्ट्रमण्डल कुश्ती चैम्पियनशिप 2016 में भारत की ओर से रजत पदक प्राप्त करने वाली मध्य प्रदेश की पहली महिला पहलवान है। वह अर्जुन पुरस्कार प्राप्त पहलवान और कोच कृपाशंकर बिश्नोई की भी भतीजी है।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच