केयरएक्सपर्ट ने महाराष्ट्र के अस्‍पतालों का डिजिटल बनाया

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 3 जनवरी  2022मुंबई। जियो समर्थित केयरएक्सपर्ट ने आज घोषणा की है कि महाराष्‍ट्र के चार प्रमुख शहरों में 20 से अधिक अस्‍पताल एवं हेल्‍थकेयर सेंटर्स इसकी क्रांतिकारी सेवाओं का उपयोग कर रहे हैं। ये शहर हैं – पुणे, मुंबई,ठाणे और नागपुर। वहीं हेल्‍थकेयर सेंटर्स में ईऑन,आइमैक्‍स, किंग्‍सवे, एल्‍बॉट हेल्‍थ, रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल आदि शामिल हैं। केयरएक्‍सपर्ट अग्रणी एसएएस-बेस्‍ड, एआइ-पावर्ड डिजिटल हेल्‍थकेयर प्‍लेटफॉर्म प्रोवाइडर है और यह भारत के अस्‍पतालों को उनके कामकाज को डिजिटल बनाने और मरीजों पर केंद्रित सेवाएं प्रदान करने में सशक्‍त करने के लिए प्रतिबद्ध है।

केयरएक्सपर्ट की संस्थापक और सीईओ निधि जैन ने अपने विचारों को साझा करते हुए कहा, “इस समय स्वास्थ्य रक्षा की एकीकृत सुविधाओं के अभाव में महाराष्ट्र के अस्पतालों को हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर वर्कफ्लो में रुकावट, संचालन में अक्षमता और कागजों पर मेडिकल रेकॉर्ड के रखरखाव में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। केयर एक्सपर्ट में हम इन समस्याओं से निपटने के लिए उपभोक्ताओं को अपने सिंगल प्लेटफॉर्म पर 50 से ज्यादा पूर्व एकीकृत मॉड्यूल प्रदान कर रहे हैं। अपने सोल्यूशन को काफी किफायती बनाकर और आसानी से इस्तेमाल की जाने वाली सेवाओं को महाराष्ट्र के दूसरे और तीसरे दर्जे के शहरों के अस्पतालों में ऑफर कर सकते हैं। हमारे सोल्यूशंस से बेस्ट वर्कफ्लो और अस्पताल के संचालन में बेहतर और उच्च दर्जे का समन्वय सुनिश्चित होता है। इस राह में हर कदम पर हम मरीजों के ज्यादा से ज्यादा जुड़ाव की दर को कायम रखते हैं।

पिछले डेढ़ वर्षों में कोविड-19 महामारी के प्रकोप ने भारत में मौजूदा स्वास्थ्य प्रणाली की कमियों और खामियों की ओर इशारा किया है। अस्पताल में काफी समय पहले से कर्मचारियों की कमी के साथ ही क्वॉलिटी हेल्थकेयर ऑटोमेशन सिस्टम की कमी, अक्षम स्वास्थ्य सुविधाओं और सदियों पुरानी आईटी वर्कफोर्स महाराष्ट्र में स्वास्थ्य सेवाओं की बदतर स्थिति और सभी तक इनकी पहुंच न होने का प्रमुख कारण रही है। सघन रूप से बसे हुए  सुविधा विहीन दूसरे और तीसरे दर्जे के शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों के अस्पतालों में यह समस्याएं प्रमुख रूप से दिखाई देती है। इसके साथ ही क्षेत्र के अस्पताल और हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स को अक्सर अपने सदियों पुराने, और आधुनिक सुविधाओं से विहीन आईटी सिस्टम को मैनेज करने में काफी जूझना पड़ता था ।

वह इन अव्यवस्थित स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ ऑनलाइन अपॉइंटमेंट सिस्टम, इलेक्ट्रॉनिक मेडिकल रेकॉर्ड, टेली कंसलटेशन और होमकेयर आदि बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाएं मरीजों को प्रदान नहीं कर सकते थे। इसका नतीजा यह होता है कि हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स और मरीजों को अच्छा अनुभव नहीं होता था। इससे इंडस्ट्री में नई तकनीक को अपनाने में भी रुकावट आती थी। इसलिए केयर एक्सपर्ट का उद्देश्य महाराष्ट्र के हर अस्पताल में आधुनिक तकनीक के प्रयोग से मरीजो कों डिजिटल रूप से व्यवस्थित बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करना है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वे अस्पताल कैसे हैं, छोटे हैं या बड़े हैं या वह कहां स्थित हैं। केयर एक्सपर्ट का लक्ष्य 50 से ज्यादा पूर्व एकीकृत मॉड्यूल में बेहतर सर्विसेज प्रदान करने के मॉडल को मैनेज करना है।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया