नदिया के उस पार पर गोष्ठी सम्पन्न

◆ मुस्कराने से जिंदगी सरल हो जाती है : डॉ. राकेश आर्य(प्रेरक विचारक)

◆ केवल मुस्कुराने से ही हम तनावमुक्त,युवा और सुन्दर बने रहते हैं : प्रवीण आर्य

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 3 फरवरी  2022, गाजियाबाद। केन्द्रीय आर्य युवक परिषद् के तत्वावधान में "नदिया के उस पार" विषय पर ऑनलाइन गोष्ठी का आयोजन किया गया। यह कोरोना काल मे 346 वां वेबिनार था।

प्रेरक विचारक डॉ. राकेश आर्य ने कहा कि जिंदगी बड़ी सरल है पर हम उसे इच्छाये बढा़ कर जटिल बना देते है,साथ ही उन्होंने कहा कि बोझ लेकर न चले मुस्कान बनाये रखें बहुत सारी समस्याएं स्वयं समाप्त हो जायेगी।डॉ.आर्य ने कहा कि मेरा अनुभव कहता है, दो चीजें हैं,अगर हम सहमत हैं, तो हम और अधिक खुश होंगे।  एक,जीवन सरल है हम इसे जटिल बनाते हैं।दो,राम और कृष्ण जैसे भगवान सहित हर प्राणी के लिए जीवन हमेशा पृथ्वी पर चुनौतियों से भरा रहा है।जीवन को अपनी शर्तों पर जीने के लिए केवल 2 चीजों की आवश्यकता होती है - स्पष्टता और निर्णय लेने की क्षमता। आओ आवश्यकताएं कम करके जटिलताओं को कुछ कम कर लें।

केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य ने कहा कि सफर में सामान जितना कम होगा राह उतनी आसान हो जायेंगी।लोगो से अपेक्षायें कम रखें अपनी जिंदगी अपने अनुसार जीयें।बेमतलब सलाह देना बंद कर दें। अध्यक्ष ओम सपरा(पूर्व मेट्रो पोलेटन मैजिस्ट्रेट) ने वेद मंत्रों की व्याख्या के अनुसार जीवन यापन का संदेश दिया ।

राष्ट्रीय मंत्री प्रवीण आर्य ने कहा कि केवल मुस्कुराने से ही हम तनाव मुक्त,युवा और सुंदर बने रहते हैं इसलिए योगाभ्यास कराने के पश्चात साधकों को गहरा लंबा श्वांस लेने और मुस्कुराते-2  छोड़ने के लिए कहते हैं। गायिका प्रवीना ठक्कर, रविन्द्र गुप्ता, कुसुम भंडारी, रेणु घई, सुषमा गुगलानी, प्रतिभा सपरा, चन्द्र कांता आर्या, रजनी चुघ आदि के मधुर भजन हुए।


Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच