सरस आजीविका मेले का हुआ उद्घाटन

◆ ग्रामीण विकास मंत्रालय के सचिव नागेंद्र नाथ सिन्हा ने किया उद्घाटन

◆ गांव तथा छोटे कस्बों को जोड़े बिना आत्मनिर्भर भारत संभव नहीं : नागेंद्र नाथ सिन्हा

शब्दवाणी समाचार, रविवार 27 फरवरी  2022, (ऐ के लाल) गौतम बुध नगर। ग्रामीण विकास मंत्रालय के सचिव नागेंद्र नाथ सिन्हा ने कहा कि गांवों तथा छोटे कस्बों से रिश्ता जोड़े बिना हम पूरी तरीके से आत्म  निर्भर भारत की कल्पना नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आत्मनिर्भर भारत के लिए पुरजोर  आवाहन  कर रहे हैं ‌। सरस आजीविका मेला उसी अभियान की एक सकारात्मक पहल है ‌। श्री सिन्हा नोएडा हॉट  में आजीविका सरस मेले का विधिवत उद्घाटन करने के बाद बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि सरस आजीविका मेला ग्रामीण विकास मंत्रालय  द्वारा स्वयं सहायता समूह से जुड़ी 8 करोड़ महिलाओं का एक प्लेटफार्म है जहां पर उन्हें अपने उत्पाद बेचने की मार्केटिंग प्रिंटिंग पैकेजिंग तथा सोशल मीडिया  की जानकारी उपलब्ध होती है। उन्होंने कहा कि हुनर के साथ-साथ मार्केटिंग का भी होना बहुत जरूरी है। इस सरस आजीविका मेले में स्वयं सहायता  महिला समूह के 160 स्टाल लगाए गए हैं। जहां पर महिलाओं के लिए मार्केटिंग कम्युनिकेशन सोशल मीडिया  ब्रांडिंग पैकेजिंग आदि की कार्यशाला भी आयोजित की जाएंगी 

उन्होंने कहा कि मंत्रालय ने  3 वर्षों में ढाई करोड़ महिलाओं को इस सरस  आजीविका से जोड़ने का लक्ष्य  रखा है तथा वर्ष 2030 तक  हर बहन की आय  1 लाख तक  अर्जित करने का लक्ष्य रखा गया है।सरस आजीविका मेला 25 फरवरी से शुरू हुआ है जो 13 मार्च तक चलेगा। इस मेले में विभिन्न प्रकार के हैंडीक्राफ्ट ज्वेलरी के अलावा कई राज्यों के खाद्य पदार्थों के उत्पादों की प्रदर्शनी भी लगाई गई है इस मेले में 160 स्टाल लगाए गए हैं इसके पूर्व ग्रामीण विकास मंत्रालय के सचिव नागेंद्र नाथ सिन्हा ने  विधिवत फीता काटकर मेले का उद्घाटन किया। इस मौके पर मंत्रालय के संयुक्त सचिव चरणजीत सिंह संयुक्त सचिव डॉ विश्वजीत बनर्जी संयुक्त सचिव नीता केजरीवाल गया प्रसाद निदेशक आरपी सिंहा उपसचिव एच आर मीणा समेत कई अधिकारी मौजूद थे

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच