मीडिया सिर्फ लेखन नहीं अभिव्यक्ति भी है : संदीप मारवाह

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 14 फरवरी  2022, गौतम बुध नगर। विश्व रेडियो दिवस मनाया गयायह संचार का युग है हर इंसान पत्रकार का ही रूप लिए है कही भी कुछ भी गलत लग रहा है तुरंत मोबाइल से कैप्चर करके पूरी दुनिया के लिए खबर डाल दी जाती है। यही नहीं अब सोशल मीडिया पैसा कमाने का नया जरिया बन गया है आपको दुनिया से संवाद करना और व्यक्त करना आना चाहिए ये कहना था  एएएफटी यूनिवर्सिटी के चांसलर डॉ. संदीप मारवाह का अवसर था । 10वे ग्लोबल फेस्टिवल ऑफ़ जर्नलिज्म के दूसरे  दिन के वेबिनार पत्रकारिता के क्षेत्र में अवसर और चुनौतियां विषय को लेकर अपने विचार व्यक्त करते हुए, इस पत्रकारिता महोत्सव में कई जानी मानी हस्तियों ने भाग लिया जिसमे डेसिगनते एम्बेसी ऑफ़ सर्बिया इन  इंडिया के राजदूत सिनीसा पविक, डॉ शेखर दत्त पूर्व गवर्नर छत्तीसगढ़, ग्लोबल आइकॉन एंड इंटरनेशनल मोटिवेशनल स्पीकर यूएसए की  समिली मुक्ता, अरूणाचल प्रदेश के पूर्व गवर्नर और पूर्व  आर्मी चीफ जे.जे.सिंह, यूएसए फिल्म मेकर प्रोफ़ेसर कार्ल बारदोष और फिल्म निर्देशक अशोक त्यागी। 

सिनीसा पविक ने कहा आज मीडिया न सिर्फ लेखन का जरिया बन गया है बल्कि इसकी अलग अलग शाखाएं बन गई अब आप पर निर्भर करता है आप क्या चुनते है, डॉ शेखर दत्त ने कहा की भारत जितना बड़ा देश है उतने ही टेलेंटेड लोग भी भारत मे है,  आज युवाओ ने अभिव्यक्त करना शुरू कर दिया और अपनी छुपी हुई प्रतिभा को सामने लाने लगे है, और वही उनकी आर्थिक जरूरतों को पूरा कर रहा है अब माध्यम मीडिया का कोई भी रूप हो सकता है। आज के कार्यक्रम के  साथ ही विश्व रेडियो दिवस भी मनाया गया, जिसमे जे.जे. सिंह ने कहा कि  रेडियो जितना भारत में प्रसिद्ध है उतना ही पूरे विश्व में भी है और यह एक बहुत अच्छा माध्यम है अपनी बात लाखो लोगों तक पंहुचाने का।  

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच