एक्‍वाकनेक्ट ने ट्राइफेक्टा कैपिटल से 8 मिलियन डॉलर की पूंजी जुटाई

 

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 23 मार्च 2022, नई दिल्ली। एक्‍वाकनेक्ट ने ट्राइफेक्टा कैपिटल से 8 मिलियन डॉलर की पूंजी जुटाई जुटाई गई पूंजी का उपयोग यह स्टार्टअप अपने एक्‍वा साझीदारों के नेटवर्क और फसल बाद के बाजार जुड़ाव समाधानों को मजबूत करने में करेगा चेन्नई (भारत), 22मार्च,2022: एक्‍वाकनेक्ट ने आज घोषणा करते हुए बताया कि इसने वेंचर डेट फर्म ट्राइफेक्टा कैपिटल केनेतृत्व में वेंचर डेट फंडिंग राउंड में 60 करोड़ रुपये की पूंजी जुटाई है। एक्‍वाकनेक्टफुल-स्टैक एक्‍वाकल्चर इनपुट और आउटपुट प्लेटफॉर्म है। यह स्टार्टअप नए सिरे से जुटाई गई पूंजी काइस्तेमाल एक्‍वा पार्टनर्स-फ्रैंचाइजी स्टोर्स के अपने नेटवर्क का विस्तार करके भारत भर में अपनी उपस्थिति को मजबूत करने में करेगा, जो मछली और झींगा किसानों के लिए गुणवत्तावाले इनपुट उत्पादों तक पहुंच को सक्षम बनाता है। 

जुटाई गई पूंजी का इस्तेमाल संचालन का विस्तार करने और एक्‍वाकनेक्ट के फसल-पश्चात बाजार जुड़ाव समाधानों को बढ़ाने के लिए भी किया जाएगा। बाजार से जुड़ाव में सुधार से किसानों को संभावित खरीदारों की एक विस्तृत श्रृंखला तक पहुंचने में मदद मिलेगी, जिससे मूल्य प्राप्ति में वृद्धि होगी। एक्‍वाकनेक्ट उत्कृष्ट तकनीकी समाधानों के माध्यम से कृषि उत्पादकता, वित्तीय पहुंच और बाजार से जुड़ाव में सुधार के लिए मछली और झींगा किसानों के साथ काम करता है। यह स्टार्टअप एक एकीकृत तकनीक-संचालित दृष्टिकोण के माध्यम से जलीय कृषि मूल्य श्रृंखला में चुनौतियों को संचालित करने के लिए काम कर रहा है और इसका लक्ष्य सबसे बड़ा जलीय कृषि मूल्य श्रृंखला एग्रीगेटर बनना है। पूंजी जुटाए जाने के मामले में टिप्पणी करते हुए एक्‍वाकनेक्ट के संस्थापक और सीईओ, राजामनोहर सोमासुंदरम ने कहा, “एक्‍वाकनेक्ट में हमारा उद्देश्य तकनीकी हस्तक्षेप के माध्यम से मूल्य प्राप्ति में वृद्धि करते हुए जलीय कृषि मूल्य श्रृंखला को अधिक कुशल और पारदर्शी बनाना है।

पूंजी का नया दौर भारत में हमारे एक्‍वा पार्टनर नेटवर्क के विस्तार का मार्ग प्रशस्त करके इस लक्ष्य को प्राप्त करने में हमारी मदद करेगा और हमारे फसल के बाद के बाजार से जुड़ाव बनाने वाले समाधानों को मजबूत करके जलीय कृषि किसानों को अधिक खरीदारों तक पहुंचने में मदद करेगा।’’ ट्राइफेक्टा कैपिटल के मैनेजिंग पार्टनर नीलेश कोठारी ने कहा, “एक्‍वाकनेक्ट जलीय कृषि क्षेत्र में अग्रणी है और किसानों को इनपुट निर्माताओं और संस्थागत खरीदारों से जोड़ने वाली संपूर्ण मूल्य श्रृंखला का डिजिटलीकरण कर रहा है। इस प्रक्रिया में, वे जलीय कृषि किसानों को उनकी उपज के बेहतर मूल्य का एहसास कराने और उचित मूल्य पर उच्च गुणवत्ता वाले इनपुट तक पहुंच प्रदान करने की सुविधा प्रदान कर रहे हैं। भारत शीर्ष तीन समुद्री खाद्य उत्पादक देशों में से एक है और फिर भी यह क्षेत्र काफी हद तक असंगठित है। 

ट्राइफेक्टा कैपिटल को एक्‍वाकनेक्ट के साथ साझेदारी करने पर गर्व है, जो अपने विस्तृत जलीय-किसान नेटवर्क, मजबूत टेक-स्टैक और अनुभवी टीम के साथ भारतीय जलीय कृषि क्षेत्र के सामने आने वाली कई चुनौतियों का समाधान करने में सक्षम होगी।’’ एक्‍वाकनेक्ट को 'फोर्ब्स एशिया 100 टू वॉच' और फास्ट कंपनी द्वारा 'वर्ल्ड-चेंजिंग आइडियाज 2020' द्वारा मान्यता दी गई है। यह स्टार्ट-अप सीफूड इनोवेशन प्रोजेक्ट और हैच एक्सेलेरेटर, नॉर्वेजियन सीफूड इनोवेशन क्लस्टर में अन्वेषी समूह का हिस्सा है। एक्वाकनेक्ट विश्व बैंक समूह द्वारा कृषि बीमा तकनीक पुरस्कार का प्लेटिनम विजेता है। स्टार्टअप को गूगल फॉर स्टार्टअप्स एक्सेलेरेटर (जीएफएस) इंडिया के पांचवें संस्करण के लिए चुना गया था और हाल ही में फिक्की द्वारा 'मोस्ट इनोवेटिव एगटेक स्टार्टअप' पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच