इंडियन एसोसिएशन ऑफ डर्मेटोलॉजी (आईएडीवीएल) ने मनाया इंटरनेशनल वूमेंस डे

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 9 मार्च 2022, नई दिल्ली। आईएडीवीएल ने शक्तिशालिनी कुशलता विकास केंद दिल्ली में इंटरनेशनल वूमेंस डे मनाया इस उपलक्ष्य पर डॉ रश्मि सरकार प्रेसिडेंट आईडीबीएल 2022 ने स्किन को कैसे सुरक्षित रखा जाए इस पर बताया जैसे स्ट्रोइड का प्रयोग ना करना, इंटरनेट को डॉक्टर ना बनआना और ईश्वर ने जो स्किन दिया है उससे प्यार करें। आगे डॉक्टर लतिका आर्या ने अपने सम्बोधन में बताया की स्किन आपके सदैव अच्छे खाने पीने से अच्छा रहता है और उसपर ध्यान देना भी आपकी अपनी पहली प्राथमिकता होनी चाहिए कियोंकि स्किन सबसे पहले दिखने वाली चीज है। इसलिए इसका पूरा ख्याल रखना चाहिए। 

डॉक्टर पूजा अरोड़ा ने कहा स्किन सदैव आपके रखरखाव पर भी निर्भर करता है जैसे स्किन को नहाने के समय हल्के साबुन का इस्तेमाल , करें और नहाने के बाद धुले हुए कपड़े पहने व शरीर को सूखा  रखें साथ ही साथ अपने ओरल हयगेने का भी ध्यान रखें रोज़ाना २ मरतभा दाँत साफ़ करें और खाने के बाद कुल्ला ज़रूर करें व मीठे पराध्यात का सेवन ना करें,  और महामारी के समय बहुत साफ़ सफाई का ध्यान रखें कपड़े का प्रयोग ना करें और पैड्ज़ को प्रयोग में लाएँ। 

डॉक्टर वरुण खुल्लर ने कहा बालों को भी स्किन की तरह ध्यान रखना चाहिए बाल भी खूबसूरती का जरूरी हिस्सा है। इसलिए इस पर भी ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता होती है। अगर बाल टूटता है या समय से पहले सफेद होता है तो डॉक्टर को अवश्य दिखाना चाहिए। और हाँ आजकल फेशन में केमिकल द्वारा बालों को रंगा जाता है अगर आवश्यकता ना हो तो बालो में रंग करने के लिए कोई केमिकल का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए अगर बालों को रंगना है तो सिर्फ़ मेहंदी या  हेना का ही प्रयोग करें ।डॉक्टर की सलाह पर ही किसी भी प्रकार का प्रोडक्ट का इस्तमाल करें। ईश्वर ने बालों का जो भी रंग दिया है उसी रंग को रहने दें। कार्यक्रम का समापन करते हुए सभी महिलाओं को कब ज़रूरी स्किन प्रॉडक्ट्स बंटें गए व खाने का प्रबंध भी किया गया वहाँ मौजूद सभी महिलों ने तहें दिल से सभी का शुक्रिया किया। 

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच