सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया ने कंटेंट प्रोडक्‍शन के लिए संवहनीयता दिशानिर्देश जारी किये

◆ इन दिशानिर्देशों का उद्देश्य वर्ष 2050 तक शून्य पर्यावरणीय उपस्थिति तक पहुँचना

शब्दवाणी समाचार रविवार 24 अप्रैल 2022, नई दिल्ली। सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया (एसपीएनआई) ने कंटेंट प्रोडक्‍शन के लिए संवहनीयता दिशानिर्देशों (सस्‍टेनेबिलिटी गाइडलाइंस) को लॉन्‍च किया है। उद्योग में अपने तरह की इस पहली पहल का उद्देश्य पर्यावरण-हितैषी कार्यपद्धतियों को अपनाकर उद्योग के लिए पथ-प्रदर्शक बनना है। ये दिशानिर्देश एसपीएनआई द्वारा वर्ष 2050 तक शून्य पर्यावरणीय उपस्थिति प्राप्त करने की दिशा में लक्षित हैं। सबसे पहले, एसपीएनआई अपने कुछ शोज में इन दिशानिर्देशों को लागू करेगा और इसके बाद इसे चल रहे सभी उत्पादों पर लागू किया जाएगा।

इन दिशानिर्देशों में एक क्रियाविधि की रूपरेखा तय की गई है जिनका अनुसरण करना एसपीएनआई से सम्बद्ध सभी प्रोडक्शन संस्थानों और साझेदारों के लिए अनिवार्य होगा। उन्हें फिक्‍शन, नॉन-फिक्‍शन और डिजिटल जैसे विभिन्न विषयवस्तु ढाँचे में किये गए व्यापक उद्योगगत शोध के आधार पर सावधानीपूर्वक तैयार किया गया है। इनमें सन्निहित उपायों का दायरा परिचालन के व्यापक क्षेत्र तक विस्तृत है जिसमें सेट की अभिकल्पना के लिए एकल प्रयोग वाली प्लास्टिक एवं थर्मोकॉल तथा प्रिंटिंग के लिए फ्लेक्स के प्रयोग पर पूर्ण प्रतिबन्ध जैसी व्यवहार्य पहलकदमियाँ सम्मिलित हैं। इसमें लो-वीओसी पेंट्स, एफएससी प्रमाणित लकड़ी, नैतिक और इको-फ्रेंडली कॉस्मेटिक का प्रयोग करना तथा अपशिष्टों के अनिवार्य पृथक्करण और पुनर्चक्रण नीति को लागू करना भी शामिल हैं। इसके अलावा, इसमें प्रशिक्षण और क्षमता-निर्माण संबंधी पहल की अनुशंसा भी की गई है, जिसका उद्देश्य हरित अवस्थांतर से जुड़ी वर्तमान प्रक्रियाओं के प्रति संवेदनशील कार्यबल और अवसंरचना विकसित करना है।

संवहनीयता दिशानिर्देशों में जिन पहलों पर जोर दिया गया है वे सभी शोज के लिए कार्बन अकाउंटिंग और कार्बन फुटप्रिंट के मानचित्रण की दिशा में एक कदम है जो परिचालनों के अन्य फॉर्मेट्स पर भी लागू होंगे। इन दिशानिर्देशों के पूर्ण हरित कार्य पद्धति में अवस्थांतरण की गति तेज होगी। हरित पद्धतियों को लागू करने का एक आवश्यक पहलू निरीक्षण प्रक्रिया है, जिससे प्रगति का पता लगाते हुए संगठन को फायदा होगा। एसपीएनआई इकोलॉजिकल फुटप्रिंट कम करने की दिशा में वास्तविक प्रगति करने के लिए वचनबद्ध है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए एसपीएनआई जलवायु परिवर्तन का मुकाबला करने और प्राकृतिक संसाधनों को संरक्षित करने के उद्देश्य से संवहनीय गतिविधियाँ और साझेदारियां करेगा, ताकि हमारी धरती पूरी तरह स्‍वस्‍थ एवं संवहनीय बनी रहे।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच