एमएसएमई पर आरजेएस वेबीनार में सरकारी योजनाओं और लोन सुविधाओं पर परिचर्चा

◆ आजादी की अमृत गाथा में  शहीद राव तुलाराम आरजेएस राष्ट्रीय सम्मान 2022 घोषित, सेनानियों व महापुरुषों को श्रद्धांजलि.

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 16 मई 2022, नई दिल्ली। आजादी की अमृत गाथा के श्रृंखलाबद्ध कार्यक्रमों के अंतर्गत रविवार 15 मई 2022को पूर्ति फूड विजन, दिल्ली के सहयोग से आरजेएस-टीजेपीएस केबीएसके द्वारा 68 वां कार्यक्रम एमाएसएमई :सतत विकास का आधार विषय पर किया गया। इस अवसर पर भगवान बुद्ध, देवर्षि नारद, शहीद राव तुला राम, क्रांतिकारी सुखदेव, फ्लोरेंस नाइटेंगल और डॉक्टर केके अग्रवाल को श्रद्धांजलि दी गई। आरजेएस के राष्ट्रीय संयोजक उदय मन्ना  ने बताया कि मुख्य अतिथि एमएसएमई मंत्रालय , भारत सरकार में सहायक निदेशक डॉ हरीश यादव और उनकी धर्मपत्नी स्कूल में अध्यापिका श्रीमती श्रीमती प्रतीक्षा यादव ने स्वतंत्रता सेनानी व पूर्व प्रधानाचार्य स्वर्गीय तेजपाल सिंह यादव की स्मृति में अमर शहीद राव तुला राम के नाम का आरजेएस राष्ट्रीय सम्मान 2022 घोषित किया।

बतौर मुख्य अतिथि डॉ हरीश यादव ने भारत सरकार के एमएसएमई मंत्रालय की योजनाओ और सुविधाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी। वहीं विशिष्ट अतिथि सिड्बी के प्रबंधक कौशलेंद्र कुमार ने उद्यमियों के लिए बैंक ऋण की जानकारी दी। जानेमाने  अंतर्राष्ट्रीय कंजूमर पॉलिसी के एक्सपर्ट प्रो. बिजॉन कुमार मिश्रा ने अपने ओपनिंग रिमार्क्स में एमएसएमई क्षेत्र में बढ़ रहे स्कोप की जानकारी दी और और मंत्रालय में थर्ड पार्टी ऑडिट की सलाह दी। वेबिनार में विशिष्ट अतिथि जाने-माने फार्मासिस्ट और पूर्व उपाध्यक्ष एफआईपी व वाइस चेयरमैन पीएसएआईआईएफ प्रफुल्ल डी सेठ ने फार्मा क्षेत्र के इतिहास और इसमें उद्योग लगाने के बारे में बारीकियों से अवगत कराया।

वेबीनार की अध्यक्षता करते हुए बी- ब्रेन डेवलपमेंट सोसाइटी के अध्यक्ष और स्मार्टवे इलेक्ट्रॉनिक्स प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक विभूति विक्रमादित्य ने अपने इंटर फ्रेंडशिप में आने वाली चुनौतियों और उन पर सफलता पाने की विजय गाथा सुनाई जो नव उद्यमियों के लिए प्रेरणादायक थी। वेबीनार का सफल संचालन सामाजिक कार्यकर्ता नीरा अरोड़ा ने किया। वेबीनार के पहले सत्र में स्मृति सभा का आयोजन किया गया जिसमें स्वतंत्रता सेनानियों और महापुरुषों को शत शत नमन किया गया। बुद्ध पूर्णिमा जैसे पावन दिवस पर ओम प्रकाश झुनझुनवाला , शहीद राव तुलाराम के नाम आरजेएस राष्ट्रीय सम्मान 2022 पर प्रतीक्षा यादव, क्रांतिकारी सुखदेव के बारे में  प्रेम प्रभा झा, देवर्षि नारद पर सुमन कुमारी वहीं फ्लोरेंस नाइटेंगल के बारे में वैभव भारद्वाज ने संबोधन दिया और आरजेएस फैमिली की ओर से सभी महापुरुषों को श्रद्धांजलि दी गई। वेबीनार के अंत में आजादी की अमृत गाथा के 69 वें अंक में मुनि इंटरनेशनल स्कूल के सहयोग से आगामी रविवार 22 मई को नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर विचार विमर्श करने की घोषणा की गई।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया