अमेज़न ने केडीपी पेन टू पब्लिश कॉन्टेस्ट के पांचवें एडिशन की किया घोषणा

● अंग्रेजी, हिंदी और तमिल में शीर्ष 30 प्रविष्टियों को सम्मानित किया गया जाएगा और नकद पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे

● उभरते हुए लेखक किंडल डायरेक्ट पब्लिशिंग (केडीपी) का उपयोग कर अपनी ई-बुक्स को स्वयं प्रकाशित कर अपनी प्रविष्टियां जमा कर सकते हैं।

● निर्णायक पैनल में सत्य व्यास, विजय काकवानी, सुदीप नागरकर, सुधा नायर और एन. चोक्कन जैसे प्रसिद्ध लेखक शामिल हैं।

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 24 जून 2022बैंगलोर। अमेज़न इंडिया ने आज अपने वार्षिक किंडल डायरेक्ट पब्लिशिंग (केडीपी) फ्लैगशिप इवेंट, पेन टू पब्लिश कॉन्टेस्ट के पांचवें संस्करण का शुभारंभ किया। इस प्रतियोगिता के साथ, अमेज़न लेखकों को अंग्रेजी, हिंदी और तमिल भाषाओं में मूल और अप्रकाशित प्रविष्टियां जमा करने के लिए आमंत्रित करता है। यहां एक प्रतिष्ठित निर्णायक पैनल प्रविष्टियों का विश्लेषण करेगा। यहां हिंदी प्रविष्टियों के लिए सत्य व्यास और विजय काकवानी, अंग्रेजी प्रविष्टियों के लिए सुदीप नागरकर और सुधा नायर और तमिल प्रविष्टियों के लिए नागा चोकन मूल्यांकन करेंगे। इच्छुक प्रतिभागी 10 जुलाई 2022 से 10 सितंबर 2022 तक kdp.amazon.com पर अपनी पुस्तक सेल्फ पब्लिश कर केडीपी चयन कार्यक्रम में अपनी प्रविष्टियां जमा कर सकते हैं। प्रविष्टियों में पुस्तक की जानकारी में pentopublish5 कीवर्ड शामिल होना चाहिए। सभी ई-बुक्स आईफोन, आईपैड, एंड्रॉइड फोन और टैबलेट पर मुफ्त किंडल एप्स, के साथ-साथ पीसी और मैक तथा किंडल ई-रीडर पर उपलब्ध होंगी। अधिक जानकारी के लिए लेखक www.amazon.in/pentopublish पर जा सकते हैं। विजयी प्रविष्टि को ₹1 लाख का नकद पुरस्कार मिलेगा, जबकि प्रथम उपविजेता को ₹50,000 और द्वितीय उपविजेता को ₹30,000 का नकद पुरस्कार दिया जाएगा। शीर्ष 10 में से अन्य सात प्रतिभागियों में प्रत्येक को ₹10,000 की राशि प्रदान की जाएगी।

लॉन्च के मौके पर अपने विचार साझा करते हुए, अमोल गुरुवारा, डायरेक्टर किंडल कंटेंट - इंडिया, अमेज़न ने कहा, "पेन टू पब्लिश के चौथे संस्करण ने हमारी उम्मीदों को और भी बढ़ा दिया है। इसने हमें इस वार्षिक प्रतियोगिता को आगे भी जारी रखने के लिए प्रोत्साहित किया है। सेल्फ-पब्लिशिंग के माध्यम से सभी क्षेत्रों के लेखकों को सशक्त बनाने और उन्हें 'ऑथरप्रिनियोर' बनने में मदद करने के अपने वादे को आगे बढ़ाते हुए, हमें इस पांचवें संस्करण की घोषणा करते हुए बेहद खुशी हो रही है। हमारा उद्देश्य उत्साही लेखकों को अपने काम को सेल्फ पब्लिश कर अपने लेखन के जुनून को करियर में बदलने के लिए प्रोत्साहित करना है। इस वर्ष भी हमें पहले से अधिक प्रविष्टियां प्राप्त होने की उम्मीद है।

सत्य व्यास, लेखक एवं केडीपी पेन टू पब्लिश कॉन्टेस्ट के पांचवे संस्करण के जूरी सदस्य - हिंदी भाषा कहते हैं, "दुनिया भर के लेखकों ने केडीपी के माध्यम से अपने काम को प्रकाशित कर लेखन का सफल करियर बनाया है। मैं इस साल पेन टू पब्लिश प्रतियोगिता का हिस्सा बनकर रोमांचित हूं, और हिंदी में कुछ ऐसे रोमांचक काम पढ़ने के लिए उत्साहित हूं, जो आगे चलकर हिंदी साहित्य के बड़े कैनवास में अपना योगदान देगा।

पेन टू पब्लिश प्रतियोगिता के चौथे संस्करण की विजेता दीप्ति मित्तल कहती हैं, "जब मैंने पिछले साल प्रतियोगिता में भाग लिया, तो यह सेल्फ-पब्लिशिंग में मेरा पहला अनुभव था। मुझे यह जानकर आश्चर्य हुआ कि कैसे केडीपी ने इस प्रक्रिया को बेहद आसान बना दिया है और इसकी मदद से मुझे मेरी किताब के लिए एक बड़ी संख्या प्राप्त में पाठक प्राप्त हुए। अमेजन किंडल पर मुझे मेरे काम पर पूर्ण पहुंच और नियंत्रण मिला, साथ ही 70% तक की आकर्षक रॉयल्टी दर के साथ यह एक आकर्षक ऑफर बन गया है। इसके साथ ही प्रतियोगिता जीतने से मुझे पूर्णकालिक लेखक बनने के लिए काफी प्रोत्साहन मिला। तब से, मैंने केडीपी के साथ छह से अधिक पुस्तकें प्रकाशित की हैं।

Comments

Popular posts from this blog

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

बबीता फोगट WFI के खिलाफ आरोपों की जांच के लिए गठित ओवरसाइट कमेटी पैनल में शामिल

तुलसीदास जयंती पर जानें हनुमान चालीसा की रचना कैसी हुई : रविन्द्र दाधीच