जियो-बीपी, एमजी मोटर और कैस्ट्रॉल ने भारत में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी में तेजी लाने के लिए किया साझेदारी

◆ इस साझेदारी के तहत, तीनों कंपनियां चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर और ईवी सर्विस नेटवर्क का निर्माण करके इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाए जाने को बढ़ावा देना चाहती हैं

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 3 जून 2022, मुंबई। इलेक्ट्रिक कारों के लिए मोबिलिटी समाधानों की संभावनाएं तलाशने के लिए, एमजी मोटर इंडिया और कैस्ट्रॉल इंडिया जियो-बीपी के साथ साझेदारी करने के लिए तैयार हैं। इस साझेदारी से भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) को अपनाए जाने और मोबिलिटी में तेजी आने की संभावना है। इस साझेदारी के तहत, जियो-बीपी, एमजी मोटर और कैस्ट्रॉल फोर-व्‍हीलर ईवी चार्जिंग के लिए बुनियादी ढांचे की स्थापना करने की संभावनाओं का पता लगाएंगे और इलेक्ट्रिक वाहन के ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए कैस्ट्रॉल के मौजूदा ऑटो सेवा नेटवर्क का विस्तार करेंगे।

यह साझेदारी जियो-बीपी और एमजी मोटर की इलेक्ट्रिक कार ग्राहकों को एक विशाल और विश्वसनीय चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर प्रदान करने और भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने में तेजी लाने की प्रतिबद्धता के बिल्‍कुल अनुरूप है। जियो-बीपी एक ऐसे पारितंत्र का निर्माण कर रहा है जिससे ईवी वैल्यू चेन के सभी हितधारकों को फायदा होगा। कंपनी ने पिछले साल भारत के दो बड़े ईवी चार्जिंग हब का निर्माण करते हुए उसे लॉन्च भी किया था। जेवी का इलेक्ट्रिक मोबिलिटी व्यवसाय, भारतीय उपभोक्ताओं को चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर प्रदान करेगा, जो जियो-बीपी पल्स ब्रांड के तहत संचालित होता है। जियो-बीपी पल्स मोबाइल ऐप के साथ, ग्राहक आसानी से आस-पास के चार्जिंग स्टेशनों को ढूंढ सकते हैं और अपने इलेक्ट्रिक वाहन को आसानी से चार्ज कर सकते हैं।

भारत में अपनी स्थापना के बाद से, एमजी मोटर एक संवहनीय भविष्य के निर्माण के दृष्टिकोण के साथ इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को लेकर प्रतिबद्ध है। इस रणनीतिक साझेदारी का उद्देश्य, देश में एक मजबूत ईवी चार्जिंग और सर्विस इंफ्रास्ट्रक्चर स्थापित करके शहरों के बीच और शहर के भीतर की यात्रा के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों के अनुकूल सड़कों का निर्माण करना है। भारत की पहली इलेक्ट्रिक इंटरनेट एसयूवी के रूप में जेडएस ईवी को लॉन्च करने के साथ ही एमजी ने इलेक्ट्रिक वाहनों के पारितंत्र के निर्माण की दिशा में कई कदम उठाए हैं। जेडएस ईवी एक बार चार्ज करने पर 461 किलोमीटर की दूरी तय करती है।

इस साझेदारी के तहत, कैस्ट्रॉल अपने मौजूदा मल्टी-ब्रांड ऑटो सर्विस नेटवर्क और एक्सप्रेस ऑयल चेंज सेंटर्स का विकास और विस्तार करेगी ताकि फोर व्‍हीलर इलेक्ट्रिक कारों को सेवा प्रदान करना शुरू  हो सके। ये सेवाएं शुरू में पूरे भारत में जियो-बीपी मोबिलिटी स्टेशनों के साथ-साथ कैस्ट्रॉल के चुनिंदा ऑटो सर्विस वर्कशॉप में पेश की जाएंगी, ताकि ईवी और गैर-ईवी दोनों फोर व्‍हीलर वाहनों की सेवा जरूरतों को पूरा किया जा सके। इसके अलावा, कैस्ट्रॉल अपने ऑटो सर्विस नेटवर्क में ईवी चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर स्थापित करने में मदद करेगा। ईवी को तेजी से अपनाने के साथ, कार मैकेनिक्स को नवीनतम ऑटोमोटिव तकनीकों पर प्रशिक्षण की आवश्यकता होगी। कैस्ट्रॉल कार मैकेनिक्स के विशाल पूल तक अपनी पहुंच का लाभ उठाएगा और उन्हें विशेष ईवी प्रशिक्षण और प्रमाणन प्रदान करेगा।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया