क्यूरेटेड लिविंग की एएमटीजेड के साथ साझेदारी

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 30 जून 2022मुंबई। दिव्यश्री ग्रुप की कंपनी क्यूरेटेड लिविंग सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड ने विशाखापटनम में स्टूडेंट हाउसिंग (छात्रावास) की एक सुविधा शुरू करने के लिये आंध्र प्रदेश मेडटेक ज़ोन (एएमटीजेड) के साथ साझेदारी की है। इस को-लिविंग ऑपरेटर ने शहर में एएमटीजेड के परिसर के भीतर स्थित मेडिकल संस्थानों के विद्यार्थियों को आवास का समृद्ध अनुभव देने के लिये 500-बेड की सुविधा की नींव रखी। 

भूमि पूजन समारोह में हिन्दुस्तान सिरींजेस एंड मेडिकल डिवाइसेस लिमिटेड के प्रबंध निदेशक और एसोसिएशन ऑफ इंडियन मेडिकल डिवाइस इंडस्‍ट्री (एआईएमईडी) के फोरम कोऑर्डिनेटर श्री राजीव नाथ उपस्थित हुए। इस आयोजन में मौजूद अन्य पदाधिकारी थे विश्व स्वास्थ्य संगठन में नवाचार, डिजिटल स्वास्थ्य एवं संवहनीय भविष्य के लीडर श्री लुईस एजरस्नेप और आंध्र प्रदेश मेडटेक ज़ोन (एएमटीजेड) के एमडी एवं सीईओ डॉ. जितेन्द्र शर्मा। एएमटीजेड एक उद्यम है, जिसकी स्थापना भारत सरकार और आंध्र प्रदेश सरकार ने मेडिकल उपकरणों का उत्पादन करने के लिए की गई है। उत्पादन की लागत को 40% तक कम करने के लक्ष्‍य के साथ, एएमटीजेड भारत को बेहतरीन मेडिकल उपकरणों के उत्पादन में विश्व अग्रणी बनाने के साथ ही उत्पादों को किफायती तथा सुलभ बनाना चाहता है।

क्यूरेटेड लिविंग सॉल्यूशंस के संस्थापक एवं सीईओ जयकिशन चल्ला ने कहा, “हमें एक छात्रावास सुविधा को लॉन्च करने के लिये एएमटीजेड के साथ साझेदारी करके खुशी हो रही है। क्यूरेटेड लिविंग में हम हमेशा से अपने उपभोक्ताओं को उच्च-गुणवत्‍ता की सेवाएं प्रदान करने के लिये प्रतिबद्ध रहे हैं। इस साझेदारी के साथ, हम ऐसे विद्यार्थियों के लिये यही करना चाहते हैं, जिन्हें एएमटीजेड के नजदीक में आवास के लिये बेहतर जगह चाहिये। हमने एएमटीजेड के विद्यार्थियों के लिये लंबी अवधि की लीज के आधार पर एक उद्देश्य से निर्मित आवास केन्द्र बनाने के लिए एएमटीजेड के साथ साझेदारी की है। इससे विद्यार्थियों को कैम्‍पस में रहने का बेहतरीन अनुभव मिलेगा और एएमटीजेड की श्रेणी में सर्वश्रेष्‍ठ वैज्ञानिक सुविधाओं में व्यावहारिक पढ़ाई से उनके ज्ञान में भी वृद्धि होगी।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा