महिलाओं को कैसे मिलेगा सकता है आसान तरीके से होम लोन : प्रमोद कठूरिया, फ़ाउंडर एंड सीईओ, ईज़ीलोन

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 23 जून 2022, नई दिल्ली। वित्तीय स्वतंत्रता हमारे दैनिक जीवन की एक जरूरत बन गई है। इसे समझते हुए, कई महिलाएं खुद का घर लेने की दिशा में कदम बढ़ा रही हैं, जो वित्तीय योजना का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हो सकता है। महिलाएं घर खरीदने के अपने सपने को साकार करने के लिए होम लोन के लिए आवेदन कर रही हैं। क्रिफ हाईमार्क की रिपोर्ट के मुताबिक, महिला कर्जदारों में 0.63 प्रतिशत और 0.96 प्रतिशत की डिफॉल्‍ट रेट है जोकि पुरुष कर्जदारों की तुलना में 15 बेसिक अंक और 10 बेसिक अंक कम है। इसलिए ॠण देने वाली संस्थाओं द्वारा महिला कर्जदारों पर ज्यादा भरोसा जताए जाने की संभावना है क्‍योंकि उन्‍हें ॠण देना सुरक्षित माना जाता है। इतना ही नहीं, ॠण देने वाली संस्‍थाओं द्वारा महिलाओं को होम लोन लेने के लिए प्रोत्‍साहित करने के लिए उन्‍हें बेहतरीन होम लोन पैकेज, कम प्रसंस्‍करण शुल्‍क और अन्‍य छूट की भी पेशकश की जा रही है।  इसलिए, यदि आप एक महिला हैं और घर खरीदना चाहती हैं, तो आपको होम लोन के लिए आवेदन करते समय नीचे बताए गए फायदों के बारे में पता होना चाहिए।

लोन मंजूर होने की उच्च संभावना - सरकार की 'सभी के लिए आवास' पहल की वजह से किफायती होम लोन के लिए आवेदन करने वाली महिलाओं को मिलने वाले फायदों में बढ़ोतरी हुई है। अब सभी उम्र, वर्ग और वैवाहिक स्थिति की महिलाएं बिना किसी भेदभाव के होम लोन के लिए आवेदन कर सकती हैं, जिससे उन्हें समानता के और करीब लाया जा सके। इसके अलावा, प्रधान मंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) योजना की शुरुआत के साथ होम लोन के लिए आवेदन करने वाली महिलाओं की संख्या में 6% का उछाल आया है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए महिलाओं को एक संपत्ति की सह-मालिक होने की आवश्यकता है और इस योजना के तहत उन्हें 2.67 लाख रुपये की ब्याज सब्सिडी भी मिलती है। प्राथमिक या संयुक्त तौर पर ऋण लेने वाली महिलाओं के लिए होम लोन की प्रक्रिया को तेजी से पूरा किया जाता है।

महिला आवेदकों के लिए स्टाम्प ड्यूटी में छूट - सरकार खरीदार द्वारा भुगतान किए जाने वाले प्रत्येक संपत्ति लेनदेन पर स्टाम्प शुल्क लगाती है। लगाए गए शुल्क की राशि घर के खरीद मूल्य के प्रतिशत पर आधारित होती है और अधिकांश लोग इसे लोन के एक घटक के रूप में देखते हैं। कई राज्य सरकारों ने यह सुनिश्चित करने के लिए कानून बनाए हैं कि महिलाएं पुरुषों की तुलना में स्टाम्प शुल्क पर 1-2% कम भुगतान करें।

कर लाभ- कुछ कर लाभ उन लोगों के लिए उपलब्ध हैं जो ब्याज के साथ होम लोन का भुगतान करते हैं। हालांकि, महिलाओं को अपने होम लोन के पुनर्भुगतान पर अधिक आय कर लाभ प्राप्त होते हैं। महिलाएं 1.5 लाख रुपये तक के कर लाभ का दावा करने की पात्र हैं और मूलधन एवं ब्याज राशि चुकाने के मामले में आप अधिकतम 2 लाख रुपये की कर कटौती छूट प्राप्त कर सकती हैं।

कम ब्याज दर - लोन देने वाली संस्थाएं महिलाओं को अधिक भरोसेमंद कर्जदार मानती हैं और उनका क्रेडिट इतिहास बेहतर होता है। नतीजतन, महिलाओं को घर खरीदने के लिए होम लोन लेने के लिए प्रोत्साहित करने हेतु, उनके लिए होम लोन की ब्याज दर को 0.05%- 0.1% कम किया गया है। होम लोन की राशि और अवधि को देखते हुए, यह छोटा प्रतिशत महिलाओं को उनकी मासिक ईएमआई कम करने और उनके वित्तीय बोझ को कम करने में मदद कर सकता है। लोन चुकाने  के लिए लंबी अवधि - होम लोन लंबे समय तक के लिए जारी रह सकता है। सामान्य ऋण भुगतान की अवधि 25 वर्ष है, लेकिन महिलाएं 30 वर्षों में या आवेदक के 70 वर्ष की आयु तक पहुंचने तक गृह ऋण का भुगतान कर सकती हैं। यह महिलाओं के लिए मासिक ईएमआई को कम करता है, जिससे उनके समय पूर्व भुगतान की संभावनाएं कम हो जाती है और इससे उन्हें फायदा मिलता है।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया