फिल्म समीक्षा : जनहित में जारी

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 8 जून 2022(समीक्षक रेहाना परवीन) नई दिल्ली। इस शुक्रवार को रिलीज़ होने वाली फिल्म जनहित में जारी देश में बढ़ती अनचाही जनसंख्या को रोकने के लिए कंडोम जेसे चीजों पर हमारा समाज बात करते हुए शर्माती है जबकि सेक्स एक साधारण कार्य है जिसे हर कोई करता है फिर भी इस पर बात करने में हर कोई डरता है। जबकि कंडोम अनचाही जनसंख्या के साथ साथ अबॉर्शन जिससे महिलाओं को काफी समस्याओं से गुजरना पड़ता है इससे बचा सकता है। इसी विषय पर मध्य प्रदेश के एक छोटे से शहर की मनोकामना त्रिपाठी (नुशरत भरुचा) की है। जो महिला होकर कंडोम बेचती है जिस कारण उसे समाज और परिवार के लोगों से काफी परेशानी होती है। यह फिल्म समाज को एक बड़ी सन्देश देती हुई कॉमेडी से भरपूर है कई जगह डबल मायने के डायलॉग है जो दर्शकों को हसाती है। फिल्म में कलाकार नुसरत भरूचा, अनुज सिंह ढाका, विजय राज, परितोष त्रिपाठी निर्देशक :जय बसंतू सिंह इत्यादि हैं। इसलिए इस फिल्म को देखा जा सकता है। में इस फिल्म को पांच में से साढे तीन नम्बर देती हूँ पर कॉमेडी और समाज को सन्देश वाली फिल्म को देखने वाले दर्शकों के लिए चार नम्बर देती हूँ।  

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया