रसोई गैस की मूल्य वृद्धि का विरोध

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 8 जुलाई 2022गाजियाबाद। मोदी सरकार द्वारा पिछले वर्ष जून 2021 से अब तक रसोई गैस की कीमतों में 4 बार में 244 रुपए की बढ़ोतरी की जा चुकी है, जिसके कारण देश की आम जनता परेशान है। घटती आमदनी-बढ़ती महंगाई के कारण आम आदमी का जीना दूभर हो गया है। अभी बीते कल में 50 रुपए रसोई गैस सिलेंडर पर फिर बढ़ा दिए गए हैं यह सरासर जनता के ऊपर लगातार बढ़ता बोझ है और पेट्रोलियम कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए सरकार हर हथकंडा अपना रही है। सी पी आई(एम) गाजियाबाद के कार्यकर्ताओं द्वारा अंबेडकर रोड पर प्रधानमंत्री का पुतला जलाकर रसोई गैस की मूल्य वृद्धि का विरोध किया गया और बढ़ाई गई मूल्य वृद्धि वापस लिए जाने की मांग की गई। विरोध करने वालों में कॉमरेड बी के एस चौहान, त्रिफूल सिंह, जे पी शुक्ला,श्री कृष्ण सिंह, शमशाद अली, सलाउद्दीन, इकबाल, सिराज,सचिन, फुरकान, इकराम आदि कई लोगों ने भाग लिया।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया