ऑफिस में एमडी (MD Cabin) का केबिन कहां होना चाहिए : रविन्द्र दाधीच

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 26 जुलाई 2022, नई दिल्ली। एमडी कैबिन का वास्तु अच्छा होने पर किस प्रकार के लाभ मिलते है ? यदि आपने अपने एडी केबिन का निर्माण वास्तु के अनुरुप कराया है। तो आपको निम्नलिखित लाभ प्राप्त होंगे - 

1. एमडी या बॉस का कर्मचारियों पर अच्छा प्रभाव रहेगा। 

2. निर्णय लेने की क्षमता अच्छी होगी अर्थात आप कंपनी से बड़े से बड़े निर्णय लेने में सदैव आगे रहेंगे। 

3. आप कंपनी के आगे की प्लानिंग ठीक ढंग से करके व्यापार को गति देने में सक्षम होंगे। 

4. कंपनी के कार्य शांतिपूर्ण ढ़ंग से सम्पादित होते रहेंगे। 

5. आपकी वाक्‍यपटुता अच्छी रहेगी जिससे सामने वाले व्यक्ति आपसे जल्दी प्रभावित होंगे। 

व्यवसाय की वृद्धि को बढ़ाने के लिए MD Cabin या बॉस का केबिन सही दिशा में होना बहुत जरूरी है। यहीं से कंपनी का लाभ सुनिश्चित होता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार ऑफिस के वरिष्ठ अधिकारी या बॉस या एमडी  (MD Cabin) का केबिन दक्षिण-पश्चिम दिशा में होना चाहिए। यह केबिन के लिए सबसे उपयुक्त दिशा है। साथ ही बैठने की व्यवस्था इस प्रकार होनी चाहिए कि बॉस का मुख उत्तर या पूर्व दिशा की ओर हो। इससे उनमें एनर्जी बनी रहेगी और कंपनी का विकास होता रहेगा। साथ ही बॉस के कर्मचारियों से संबंध अच्छे रहेंगे। पूर्व दिशा में भी MD केवि अच्छा रहता है।  कुण्डली में ग्रहों की स्थिति के अनुरुप भी MD केविन की जगह का निर्धारण किया जाता है। वही स्थिति सर्वोत्तम होती है। 

ऑफिस में बने एमडी कैबिन को कौन-कौन से वास्तु टिप्स फॉलो करना चाहिए

1. एमडी कैबिन की  दक्षिण पश्चिम दिशा (SW) उत्तम होती है। परंतु एमडी कैबिन दक्षिण और पश्चिम में भी हो सकता है। 

2. ऑफिस की पूर्व दिशा को एमडी कैबिन की सामान्य दिशा माना जाता है। वहां पर भी हो सकता है। 

3. SSW (दक्षिण दक्षिण पश्चिम) की दिशा में एमडी सीट शुभ नही होता है। 

4. एमडी कैबिन में MD की कुर्सी के पीछे खिड़की नही होनी चाहिए। खिड़की पूर्व या उत्तर की दीवार पर होनी चाहिए। पश्चिम दिशा में भी खिडकी हो सकती है। 

5. एमडी कैबिन की टेबिल चकोर होनी चाहिए। 

6. एमडी या बॉस का मुंह उत्तर या पूर्व (N or E) दिशा में होना चाहिए। 

7. एमडी केबिन का दरवाजा उच्चकोटि में होने चाहिए। 

8. एमडी केबिन के दरवाजा क्लॉक वाइज खुलने चाहिए अर्थात सीधे हाथ की तरफ खुलने चाहिए। 

9. एमडी या बॉस  की पीठ मुख्य द्वार की तरफ नही होनी चाहिए। 

10. एमडी केबिन का फ्लोर सबसे उच्च होना चाहिए और दक्षिण पश्चिम उससे भी अधिक होना चाहिए। 

11. एमडी केविन के उत्तर-पूर्व में दक्षिण-पश्चिम ऊँचा होकर के उसके north-east में ढ़लान होनी चाहिए। 

12. एमडी केविन का south-west 90 डिग्री होना चाहिए। north-east बढ़कर शेर मुखी होना चाहिए। 

13. MD cabin की दक्षिण दीवार पर बड़े पहाड़ की फोटो , बड़ी बिल्डिंग की फोटो होनी चाहिए परंतु उस फोटो में पानी नही होना चाहिए। 

14. MD cabin की टेबिल का south-west ऊँचा होना चाहिए। और किसी भी स्थिति में उसका north-east नही कटना चाहिए। 

15. MD cabin की फॉल सीलिंग मालिक के बैठने के स्थिति में उसके माथे पर कट न हो। और उसके ऊपर सीलिंग प्लेन होनी चाहिए। 

16. MD cabin के दरवाजे से MD cabin  की टेबिल का कोना नही लगना चाहिए। यानि कि जब MD cabin का दरवाजा खुले तो उसके सामने MD cabin की टेबिल नही आनी चाहिए। 

17. MD cabin के दरवाजे के सामने कोई भी वेध नही होना चाहिए। 

एमडी या बॉस की जन्म कुण्डली के अनुसार एमडी कैबिन में परिवर्तन किया जा सकता है।  जो कंपनी को सबसे ज्यादा लाभान्वित करता हैं। 

ऑफिस के एमडी केबिन से जुड़ी वास्तु की  खास जानकारी वास्तुआर्ट के सह-संस्थापक रविन्द्र दाधीच वास्तु एक्सपर्ट से प्रेसवार्ता के दौरान प्राप्त हुई है।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा