स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन-2022 में गलगोटिया विश्वविद्यालय के छात्रों ने रचा इतिहास

 

शब्दवाणी समाचार, रविवार 28 अगस्त 2022, ( के लाल) गौतम बुध नगर। आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय की इनोवेशन सेल के संरक्षण में चल रही स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन-२०२२ में गलगोटिया विश्वविद्यालय के छात्रों ने रचा इतिहास। हैकाथॉन -2022 के सॉफ्टवेयर संस्करण में विश्वविद्यालय की दो टीमों ने जीत हासिल कर प्रथम स्थान प्राप्त किया है। विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ कम्प्यूटिंग साइंस एंड इंजीनियरिंग के यश सक्सेना, सार्थक चोपड़ा, अमन कुमार, प्रखर श्रीवास्तव, रिया मित्तल और अमित श्रीवास्तव की टीम (एक्सट्रीम) ने स्कूल के डीन डॉ० मुनीष सबरवाल और मेंटॉर प्रो० सुरेश कुमार के निर्देशन में शिक्षा मंत्रालय की एके-1090 प्रॉब्लम स्टेटमेंट में प्रथम पुरस्कार जीता है टीम की परियोजना का शीर्षक कंप्यूटर विजन तकनीकी के साथ परिणाम संसाधित करना है। टीम ने तमिलनाडु के एक्सल इंजीनियरिंग कॉलेज में हैकाथॉन प्रतियोगिता में भाग लेकर जीत हासिल की है।

विश्वविद्यालय की दूसरी टीम स्कूल आप बेसिक अप्लाइड साइंस से थी जिसने आसाम के एनआईटी सिलचर में प्रतिभाग किया है। टीम (एक्यूआ रेडिमर्स) के छात्र परिधि, प्रियांशु, शांतनु, ऋषभ, तुषार और सूरज ने स्कूल के डीन डॉ० ऐ० के० जैन और मेंटॉर डॉक्टर अंजली गुप्ता के निर्देशन में इस सॉफ्टवेयर पर काम किया है। टीम ने इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ सर्कुलर इकोनामी के डिजास्टर मैनेजमेंट कैटेगरी में प्रॉब्लम स्टेटमेंट टाईटल इंडस्ट्रियल वेस्ट वॉटर ट्रीटमेंट पर कार्य किया है। इस सॉफ्टवेयर की सहायता से पानी में पाए जाने वाले माइक्रो प्लास्टिक को खोजा और दूर किया जा सकेगा। टीम के लीडर ने बताया कि आज विश्व भर में पीनें के पानी की सबसे बड़ी समस्या है जिसको हमने अपनी शोध में समाधान दिया है। 

दोनों टीमों को प्रतियोगिता के नोडल सेंटर पर 100000 रूपये नगद और ट्राफी पुरुस्कार रूप में देकर सम्मानित किया गया। दोनों टीमों की इस बड़ी उपलब्धि पर विश्वविद्यालय के माननीय कुलाधिपति सुनील गलगोटिया ने हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि विश्वविद्यालय और दोनों टीमों के लिए यह बहुत बड़ी उपलब्धि है। उसके लिए मैं दोनों टीमों, विभागों और उनके अध्यापकों को बधाई देता हूँ। और विश्वविद्यालय प्रत्येक छात्र के शोध में सदैव पूर्ण रूप से सहायता प्रदान करता रहेगा। मुख्य कार्यकारी अधिकारी ध्रुव गलगोटिया ने कहा कि यह उपलब्धि छात्रों और उनके अध्यापकों की अथक मेहनत का ही परिणाम है और इस उपलब्धि से विश्विद्यालय में ख़ुशी की लहर है। विश्विद्यालय की कुलपति प्रो० डॉ० प्रीति बजाज ने दोनों टीमों को बहुत बहुत शुभकामनाएँ दी हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा