जनसभा संसद द्वारा 75वे स्वतंत्रता दिवस पर ध्वजारोहण किया



◆ भारतीय मतदाता अपने आप को पहली बार स्वतंत्र माना

◆ जनसभा संसद 15 अगस्त को देश की स्वतंत्रता दिवस के साथ-साथ भारतीय मतदाता अब प्रत्येक वर्ष स्वतंत्र दिवस के रूप में मनाएगा 

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 16 अगस्त 2022, ग़ाज़ियाबाद। जनसभा संसद द्वारा ग़ाज़ियाबाद के खंड 90 शहीद नगर में 75वां स्वतंत्रता दिवस पर ध्वजारोहण किया इस अवसर पर क्षेत्र के गणमान्य अतिथियों के साथ क्षेत्र के पार्षद श्री आदिल मालिक, श्री यामीन, श्री हाजी कल्लन के साथ जनसभा संसद सदस्य श्री सिराजुद्दीन, श्री रियाजुद्दीन, श्री अब्दुल अज़ीज़, श्री खलील, श्री आस मोहम्मद, श्री हाजी रिजवान, श्री अख़लाक़, श्री शाहिद हुसैन, श्री फिरोज खान, श्री शौकीन, श्री सलीम शहज़ादा, श्री मोहम्मद शकील, इत्यादि ने मिलकर 75वां स्वतंत्रता दिवस पर ध्वजारोहण किया।

 श्री आदिल मालिक ने कहा जनसभा संसद द्वारा 75वां स्वतंत्रता दिवस पर ध्वजारोहण कार्यक्रम देश की आन-बाण-शान है मुझे बेहद ख़ुशी है प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी घर घर में प्रत्येक भारत वासी स्वतंत्रता दिवस मना रहा है। इस अवसर पर जनसभा संसद के पथ-पर्दशक श्री मोहम्मद जोशी ने कहा आज हम 75वां स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर शहीदों सहित उन लोगों का हम आभार व्यक्त करते हैं जिनके कारण हमें प्रत्येक वर्ष इस पर्व को मनाने के लिए अवसर प्रदान किया। 75 वर्ष देश तो आज़ाद हो गया जरूर पर देश की बागडोर आज तक कुछ मुट्ठी भर लोगों के हाथ में रह गया। देश स्वतंत्र होने के बाद दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र जरूर बना। इस लोकतंत्र में मतदाता सर्वोच्च जरूर रहा पर निर्णय लेने के लिए नहीं बस अपना मत देने तक सिमट गया है। पर अब ऐसा नहीं रहा बहुत जल्द भारतीय मतदाता अपने मत का मूल्य समझकर समझदारी से मत का प्रयोग अपने जनसभा संसद में बहस करने के बाद करेगा। इसलिए इस वर्ष पहली बार भारतीय मतदाता स्वतंत्र हुआ है। अब आगे भारतीय मतदाता भी इस दिन देश की स्वतंत्रता दिवस के साथ-साथ अपनी भी स्वतंत्र दिवस मनाएगा। 

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा