राष्ट्र सेवा सबसे बड़ा धर्म, तिरंगा हमारी शान ,भारत मां हमारी पहचान : डॉ. वी. पी. सिंह

 

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 5 अगस्त 2022, नई दिल्ली। इंटरनेशनल हुमन राइट्स एंड क्राइम कंट्रोल काउंसिल ने होटल शांग्रीला दिल्ली में अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया। कार्यक्रम का विषय था- "अद्भुत भारत संपन्न भारत"। कार्यक्रम की अध्यक्षता श्रीमान एमएस बिट्टा ने किया और उन्होंने कहा कि जब तक हमारे शरीर में सांस रहेगी तब तक हम तिरंगे को झुकने नहीं देंगे राष्ट्र सेवा करते रहेंगे संगठन की तरफ से श्रीमान एमएस बिट्टा को राष्ट्र गौरव सम्मान से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान संगठन के प्रमुख डॉ. बी पी सिंह ने कहा कि -राष्ट्र सेवा सबसे बड़ा धर्म है, राष्ट्र हमारे लिए सर्वोपरि है, तिरंगा हमारी शान है ,भारत हमारी पहचान है इसलिए हम सबको भारत मां का आदर एवं सम्मान करना चाहिए और राष्ट्र के लिए समर्पित रहना चाहिए। 

फिल्म जगत के मशहूर निर्माता डॉक्टर संदीप मारवाह ने आत्मनिर्भर भारत पर व्याख्यान दिया वी पी सिंह ने उन्हें "अंबेसडर ऑफ इंडियन" कल्चर सम्मान से नवाजा। संगठन के अध्यक्ष डॉ हरीश मखीजा ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि हमें जाति -पांति ,धर्म - संप्रदाय से ऊपर उठकर एकजुट होकर के राष्ट्र की सेवा करनी चाहिए तभी भारत संपन्न होगा। संगठन की उच्चायुक्त श्रीमती आकांक्षा विद्यार्थी ने कहा कि वसुधैव कुटुंबकम की परिकल्पना तभी सार्थक होगी जब हम लोग मिलकर के पूर्ण समर्पित भाव से राष्ट्र की सेवा करें एवं मानवता को सर्वोपरि रखें कार्यक्रम में देश की जानी-मानी हस्तियों को सम्मानित किया गया जिसमें प्रमुख रुप से पंडित राठौर को गेस्ट आफ ऑनर से सम्मानित किया गया ब्रज भूषण दुबे को राष्ट्र गौरव सम्मान से सम्मानित किया गया, जट्ट प्रभजोत, डॉक्टर नवनीत कालरा एवं तमाम जानी-मानी हस्तियों को सम्मानित किया गया, अवार्ड भी दिए गए। 

कार्यक्रम में प्रिया शर्मा ने कहा हम लोग प्रतिवर्ष राष्ट्र सेवकों को सम्मानित करते रहेंगे। सौरभ सचान ने कहा कि हमें गर्व है कि हमारी संस्था राष्ट्र सेवकों को, देश प्रेमियों को सम्मानित करने के लिए प्रतिबद्ध है ,रोहित कुमार ने बताया कि संगठन मानव सेवा से लेकर पशु पक्षियों तक की सेवा वर्षों से करता रहा है,रोशनी सिंह ने कहा कि हमारे साथ जो भी सदस्य जुड़े हुए हैं हम लोग प्रयास करते हैं कि उनके द्वारा समाज में उच्च आदर्श की स्थापना हो,दीपक कुमार ने कहा- अब समय आ गया है, नए भारत बनाने की ,ऐसा भारत जो युवाओं का हो , घनश्याम यादव ने कहा मानव सेवा सच्ची सेवा है सर्वेश दुबे ने कहा राष्ट्र में बदलाव तभी होगा जब हमारे अंदर एकजुटता हो, रुद्र सिंह ने कहा- देश सर्वप्रथम है ,एमपी सिंह ने कहा - हमें पूरे देश को अपना परिवार समझना चाहिए तभी देश का विकास संभव है ,अनिल श्रीवास्तव ने शहीदों को नमन करते हुए कहा आज उसी बलिदान के कारण हम लोग खुशियां मना पा रहे हैं प्रदीप शुक्ला ने  स्वास्थ्य ,शिक्षा ,संस्कृति पर विशेष व्याख्यान दिया इनके अलावा कार्यक्रम में भारत के कोने-कोने से लोग आए हुए थे।


Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया