अब व्हाट्सऐप पर हिंदी में ऊबर बुक करें

 

• ऊबर और व्हाट्सऐप की साझेदारी का विस्तार दिल्ली-एनसीआर में हुआ

• ऊबर के लिए दुनिया में पहली बार राईडर्स व्हाट्सऐप पर ऊबर के ऑफिशियल चैटबॉट के माध्यम से राईड्स बुक कर सकते हैं।

• पिछले साल लखनऊ में पायलट प्रोजेक्ट के बाद अब ऊबर दिल्ली एनसीआर में राईडर्स को +91 7292000002 पर उपलब्ध है।

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 4 अगस्त 2022, नई दिल्ली। ऊबर ने दुनिया में वॉल्यूम की दृष्टि से अपने लिए सबसे महत्वपूर्ण शहरों में से एक, दिल्ली एनसीआर के यूज़र्स के लिए व्हाट्सऐप टू राईड (डब्लूए2आर) प्रोडक्ट फीचर के लॉन्च एवं विस्तार की घोषणा की। इस फीचर द्वारा दिल्ली एनसीआर के राईडर्स भारत के सबसे लोकप्रिय चैट ऐप्स में से एक, व्हाट्सऐप के ऑफिशियल चैटबॉट द्वारा ऊबर राईड बुक कर सकेंगे। पिछले साल दिसंबर में लखनऊ में किए गए सफल पायलट के बाद दिल्ली एनसीआर में इस फीचर का लॉन्च यूज़र के अनुभव में सुधार करने के लिए उत्पाद की बेहतर विशेषताओं और इंग्लिश एवं हिंदी में बहुभाषी क्षमताओं का संकेत देता है। व्हाट्सऐप के बिज़नेस प्लेटफॉर्म के साथ यह गठबंधन दो भाषाओं की सपोर्ट के साथ ऊबर की मोबिलिटी सेवाओं का विस्तार नए ग्राहकों तक करेगा। 

लखनऊ में किए गए पायलट में सामने आया कि डब्लूए2आर के ग्राहक औसत ऊबर ऐप यूज़र के मुकाबले ज्यादा युवा हैं और उनमें से 50 प्रतिशत तो 25 साल से भी कम उम्र के हैं। इस पायलट में 33 प्रतिशत ऑर्डर नए यूज़र्स से मिले थे, जिससे इस गठबंधन द्वारा नए यूज़र्स हासिल करने की क्षमता प्रदर्शित होती है। दिल्ली एनसीआर में इस साझेदारी के विस्तार के साथ डब्लूए2आर उन बाजारों में भी ऊबर का अनुभव प्रस्तुत करने में समर्थ बनेगा, जहां पहले यह सुविधा मौजूद नहीं थी। इस विस्तार के बारे में मणिकंदन तंगरत्नम, सीनियर डायरेक्टर, मोबिलिटी एवं प्लेटफॉर्म्स, ऊबर ने कहा, ‘‘हमारे लखनऊ पायलट से मिली सकारात्मक प्रतिक्रिया से प्रेरित होकर हम दिल्ली एनसीआर में व्हाट्सऐप टू राईड अनुभव प्रस्तुत करने के लिए उत्साहित हैं। बैंगलोर टेक सेंटर में हमारे इंजीनियर्स ने अथक प्रयास करते हुए इस उत्पाद का निर्माण किया। उन्होंने तीन महीने से भी कम समय में इस फीचर के विकास की प्रक्रिया पूरी कर ली, जो लखनऊ में इसके लॉन्च से पहले ही पूरी हो गई। स्थानीय बाजार की जरूरतों के अनुरूप इस टीम ने व्हाट्सऐप द्वारा राईड बुक करने के लिए हिंदी भाषा की सपोर्ट भी प्रदान की। बुकिंग की प्रक्रिया को बटन और गो-टू एक्शंस द्वारा ज्यादा इंटरैक्टिव बनाने पर विशेष जोर दिया गया। भविष्य में डब्लूए2आर का और ज्यादा विकास किया जाएगा तथा ऊबर ऐप के मौजूदा यूज़र्स को भी व्हाट्सऐप द्वारा ट्रिप्स बुक करने की सुविधा दी जाएगी।

दिल्ली एनसीआर में इस लॉन्च का स्वागत करते हुए रवि गर्ग, डायरेक्टर, व्हाट्सऐप पार्टनरशिप्स, इंडिया ने कहा, ‘‘लखनऊ में ‘व्हाट्सऐप टू राईड’ अनुभव के सफल क्रियान्वयन के बाद हम, ऊबर के साथ व्हाट्सऐप की साझेदारी का विस्तार कर, यह सेवा दिल्ली एनसीआर के यूज़र्स को प्रदान करने के लिए उत्साहित हैं। व्हाट्सऐप इंटरफेस में सरलता से राईड बुक करने के अनुभव ने ऊबर को नए राईडर्स हासिल करने में मदद की और इस विकास के सफर में हम उनका सहयोग करने के लिए उत्साहित हैं। ऊबर और विभिन्न सेक्टर के व्यवसाय अपने ग्राहकों की सुविधा व संलग्नता बढ़ाने एवं उन्हें अनुकूलित समाधान प्रदान करने के लिए व्हाट्सऐप बिज़नेस प्लेटफॉर्म का उपयोग कर रहे हैं। हम भविष्य में भी व्यवसायों के साथ साझेदारियां करते रहेंगे, ताकि वो उन नए ग्राहकों को हासिल करने में समर्थ बनें, जो हर रोज मुख्यतः व्हाट्सऐप का इस्तेमाल करते हैं। व्हाट्सऐप पर ऊबर का ऑफिशियल चैटबॉट इन्फोबिप द्वारा पॉवर्ड है, जो ऊबर एवं व्हाट्सऐप के लिए एक ग्लोबल बिज़नेस सॉल्यूशन प्रोवाईडर है। 

दिल्ली एनसीआर में व्हाट्सऐप यूज़र्स तीन सरल तरीकों से ऊबर राईड बुक कर सकते हैंः ऊबर के बिज़नेस अकाउंट नंबर को मैसेज करके; क्यूआर कोड स्कैन करके; या ऊबर व्हाट्सऐप चैट शुरू करने के लिए सीधे लिंक पर क्लिक करके। फिर यूज़र्स से पिकअप और ड्रॉपऑफ के स्थान डालने के लिए कहा जाएगा, जिसके बाद किराया पहले ही बताकर ड्राईवर का उन तक पहुंचने का अनुमानित समय बताया जाएगा। डब्लूए2आर से राईड बुक करने वाले राईडर्स को वही सुरक्षा फीचर्स और बीमा सुरक्षा प्राप्त होंगे, जो सीधे ऊबर ऐप से ट्रिप बुक करने वाले राईडर्स को मिलते हैं। 

उन्हें बुकिंग के समय ड्राईवर के नाम और ड्राईवर की बुकिंग प्लेट की सूचना दी जाएगी; वो मार्ग से लेकर पिकअप प्वाईंट तक ड्राईवर की लोकेशन को देख सकेंगे और एक मास्क्ड नंबर (नंबर ड्राईवर को पता नहीं चलेगा) द्वारा ड्राईवर से बात कर सकेंगे। व्हाट्सऐप चैट फ्लो द्वारा राईडर को सुरक्षा गाईडलाईंस की सूचना मिलेगी और वो जान सकेंगे कि इमरजेंसी पड़ने पर वो ऊबर से कैसे संपर्क कर सकते हैं (ट्रिप के दौरान हैल्प टाईप करें)। यदि ट्रिप के दौरान यूज़र ‘‘इमरजेंसी’’ विकल्प का चयन करता है, तो उसे ऊबर की कस्टमर सपोर्ट टीम से फौरन कॉल प्राप्त होता है। ऊबर राईडर्स को राईड के 30 मिनट बाद तक जरूरत पड़ने पर सेफ्टी लाईन नंबर भी उपलब्ध होता है, जिस पर कॉल करके वो मदद माँग सकते हैं। संलग्न वीडियो में ऊबर राईड बुक करने के दौरान डब्लूए2आर का पूरा फ्लो दिखाया गया है।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया