राजेश कुमार एक नैसर्गिक कलाकार : आलोक कुमार

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 30 अगस्त 2022, नई दिल्ली। साहित्य प्रेमी मंडल के तत्वावधान में संस्कार भारती संकुल आर्ट गैलरी में सुप्रसिद्ध कलाकार राजेश कुमार द्वारा बनाए गए चित्रों की प्रदर्शनी का शुभारंभ कामना मिश्रा की गणेश वंदना के साथ हुआ। इस प्रदर्शनी में भगवान श्री गणेश की विभिन्न भाव-भंगिमाओं के अनेक चित्र प्रस्तुत किए गए हैं। प्रदर्शनी के उदघाटनकर्ता विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा कि राजेश कुमार एक नैसर्गिक कलाकार है, उन्होंने भगवान श्री गणेश के विभिन्न रूपों को जिस तरह प्रस्तुत किया है वह उन्हें आज के दौर का एक श्रेष्ठ कलाकार सिद्ध करता है। इस अवसर पर उपस्थित बाहरी दिल्ली के सांसद रमेश बिधूड़ी ने कहा कि राजेश कुमार ने यह चित्र बनाकर हमारे क्षेत्र और समाज का गौरव बढ़ाया है। संस्कार भारती दिल्ली प्रदेश के अध्यक्ष प्रभात कुमार ने कहा कि मैंने अपने जीवन में संकुल कला दीर्घा में एक ही विषय पर बनाये गए विभिन्न चित्रों की ऐसी विशिष्ट प्रदर्शनी लगते हुए नहीं देखी।  

इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रुप में उपस्थित उड़ान के अध्यक्ष अनुपम भटनागर ने कहा कि मैंने पिछले कुछ वर्षों में राजेश कुमार जी की कला को निरंतर प्रगति करते हुए देखा है। समारोह के विशिष्ट अतिथि प्रवेश शर्मा ने कहा कि राजेश कुमार का व्यक्तित्व बहुआयामी है। इस प्रदर्शनी के द्वारा उनके व्यक्तित्व के एक अद्भुत पहलू की जानकारी मिली है। इस अवसर पर कलाकार राजेश कुमार ने कहा मुझे कला कि यह सिद्धि ईश्वर ने नैसर्गिक रूप से प्रदान की है। उन्होनें बताया कि मैंने इस कला प्रदर्शनी में प्रदर्शित होने वाले अनेक चित्रों की रचना कोरोना काल के दौरान की है, उस समय में अस्वस्थ था लेकिन इन चित्रों के सृजन में मुझे मानसिक रूप से भी शक्ति प्रदान की है। कार्यक्रम का संचालन सुविख्यात कवि डॉ प्रवीण शुक्ल ने किया। उन्होंने कहा कि राजेश जी ने अपने चित्रों के माध्यम से अपनी रचनाधर्मिता को एक नवीन कहन के साथ प्रस्तुत किया है। समारोह के स्वागताध्यक्ष मुखिया गुर्जर ने कहा कि राजेश कुमार ने यह चित्र बनाकर उनके परिवार को कला के क्षेत्र में भी स्थापित कर दिया है। 

रोहताश नगर क्षेत्र के विधायक जितेंद्र महाजन और निगम पार्षद सुमन लता नागर ने भी राजेश कुमार जी को शुभकामनाएँ प्रदान की। इस अवसर पर अनेक कवि, साहित्यकार, राजनेता, कलाकार और विभिन्न कला प्रेमियों की उपस्थिति रही। साहित्य प्रेमी मंडल की ओर से कॉसमॉस ग्रुप ऑफ एजुकेशन के चेयरमैन छेलेश चंद ने सभी का स्वागत किया और मंडल के कोषाध्यक्ष निर्दोष शर्मा ने सभी का आभार व्यक्त किया। निर्दोष शर्मा ने कहा कि इस प्रदर्शनी के माध्यम से हमें राजेश कुमार के संपूर्ण कृतित्व को जानने का अवसर मिला है। इस अवसर पर साहित्य प्रेमी मंडल की ओर से सुरेंद्र वर्मा, सुरेश पाल जसाला, पंकज शर्मा, सुशील पांचाल सहित अनेक विभूतियों ने कलाकार राजेश कुमार जी का सम्मान किया। राजेश कुमार जी ने बताया कि सभी कलाप्रेमी एक सितंबर तक सुबह दस बजे से लेकर सायं सात बजे तक कभी भी पधारकर इस कला प्रदर्शनी का अवलोकन कर सकते हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा