ट्यूबल ब्लॉकेज ठीक करने के लिए कौन से योगासन करें

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 3 अगस्त 2022, नई दिल्ली। बंद हुई ट्यूब और उससे जुड़े लक्षण सिर्फ दर्दनाक ही नहीं पर एक महिला के लिए तनाव से भरा भी होता है। भारत में 30 प्रतिशत महिलाओं का ट्यूबल ब्लॉकेज के कारण मां बनने का सपना पूरा नहीं होता हैं। लेकिन हमारी गलत जीवनशैली और उच्च राक्तचाप, अनियमित हर्मोंन के साथ बढ़ते वजन के कारण महिलाओं के फैलोपियन ट्यूब में ब्लॉकेज की समस्या होती है। भारत में इनफर्टिलिटी का मुख्य कारण ट्यूबल ब्लॉकेज है जिसके 40 प्रतिशत मामले सामने आते है। फैलोपियन ट्यूब एक महिला रिप्रोडक्टिव ऑर्गन का हिस्सा होता है, जो दो ट्यूब विकसित अंडे को अंडाशय से यूटरस तक पहुंचाता है। पीरियड्स आने से पहले ओवुलेशन होता है जो अंडाशय से अंडे को बहार निकालता है। जोकि एक अंडे को यूटरस तक ले जाती है।

ट्यूब बंद होने के कारण अंडे यूटरस तक नहीं पहुंच पाते, जिससे निषेचन की प्रकिया पूरी नहीं हो पाती और गर्भधारण नहीं हो पाता है। ऐसी महिलाएं जो ट्यूबल ब्लॉकेज के कारण इनफर्टिलिटी का सामना कर रही है उनके लिए आयूर्वेदिक में इसका इलाज मुमकिन है। तो जनिए कैसे योगासान के जरिए आपको स्वभाविक रुप से गर्भधारण करने में मदद करता है। पहला भुजंगासन है जो पीसीओडी और ट्यूबल ब्लॉकेज में काफी फायदेमंद होता है। बारी बारी अभ्यास करके प्रजनन प्रणाली को मजबूत करता है। पीरियड्स की अनियमिता को भी दूर करता है। दूसरा कपालभाति आसन है जो आपके चयापचय को बढ़ाता है और आपके वजन को कम करने में मदद करता है। 

तिसरा नियमित रुप से प्राणायाम करना जरुरी है, जिससे शरीर के सभी हिस्सों मेे ऑक्सिजन की भरपूर मात्रा रहती है। फैलोपियन ट्यूबल ब्लॉकेज के साथ-साथ ओवेरियन सिस्ट की समस्या, गर्भाशय फाइब्रॉएड की समस्या, पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम की समस्या जैसी कई समस्याओं को ठीक करने में मदद मिलती है। चौथा तितली आसन जो महिलाओं के लिए काफी लाभदायक होता है। यह आसन प्रजनन अंगो के साथ-साथ पैरों और जंघों को मजबूत करता है। आखिरी शशांक आसन है जो पेल्विक की मसल्स को मजबूत करता है। साथ ही प्रजनन अंगों की गड़बड़ी को भी दूर करता है जिससे हर्मोनस भी संतुलित रहता है। खानपान के अलावा आप दिन में एक बार योगा जरुर करे जो फर्टिलिटी रेट को बूस्ट करने में मदद करता है। इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं हमें डॉक्टर/डायरेक्टर चंचल शर्मा, द्वारा दी गई है तो सलाह लेने के बाद ही इस पर अमल करें।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा