स्वाध्याय जीवन निर्माण में सहायक है : साध्वी रमा चावला

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 28 सितम्बर 2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, गाजियाबाद। केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के तत्वावधान में "स्वाध्याय का महत्व " विषय पर ऑनलाइन गोष्ठी का आयोजन किया गया।यह करोना काल में 448 वाँ वेबिनार था। वैदिक विदुषी साध्वी रमा चावला ने कहा कि स्वाध्याय जीवन निर्माण में सहायक है यह व्यक्ति की नीव व विचार शक्ति को मजबूत करता है।स्वाध्याय से अभिप्राय आर्ष ग्रंथों साहित्य के पठन पाठन से है न कि कुछ भी पढ़ लेना।दैनिक जीवन में आत्मावलोकन भी स्वाध्याय की कड़ी है कि हमने दिन भर मे क्या सही और क्या गलत किया।वेद आदि शास्त्र-महापुरुषों की जीवनी के स्वाध्याय से प्रेरणा मिलती है।क्रांतिकारियों की आत्मकथा बड़ी ही ओजपूर्ण होती है।अतः स्वाध्याय को दैनिक जीवन का अंग बनाना चाहिए। 

मुख्य अतिथि आर्य नेत्री अंजु आहूजा (चंडीगढ़) ने व अध्यक्ष इंदिरा वत्स ने भी स्वाध्याय की मेहत्ता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि स्वाध्याय से दशा व दिशा दोनों बदल जाती हैं। केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य ने कहा कि स्वाध्याय करने वाले व्यक्ति की बुद्धि व तर्क शक्ति का विकास होता है। राष्ट्रीय मंत्री प्रवीण आर्य ने कहा कि योग से स्मरण शक्ति बढ़ती है और स्वभाव में थकान नहीं होती। गायिका प्रवीना ठक्कर, सुदेश आर्य, कृष्णा गाँधी,रविन्द्र गुप्ता, कृष्णा पाहुजा,विजय खुल्लर, रजनी चुघ,सुनीता अरोडा, कौशल्या अरोडा, जनक अरोडा आदि के मधुर भजन हुए।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा