शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 16 सितम्बर 2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई दिल्ली नॉर्वे के ओस्लो में आयोजित बॉलीवुड फेस्टिवल के 20वें संस्करण में फिल्म निर्माता-अभिनेता राहुल मित्रा, एक्शन डायरेक्टर शाम कौशल और लोकप्रिय लेखक-अभिनेता-निर्देशक सौरभ शुक्ला को सम्मानित किया गया। ओस्लो से कुछ मील दूर लोरेन्सकोग कल्टुरहस केंद्र में आयोजित शानदार समारोह में लोरेन्सकोग के मेयर रैगनहिल्ड बर्गहाइम ने शाम कौशल को लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड प्रदान किया, जबकि सौरभ शुक्ला और राहुल मित्रा को भारतीय फिल्म उद्योग में उनके योगदान के लिए सम्मानित किया गया। शाम कौशल ने उन सभी का शुक्रिया अदा किया जिनके साथ उन्होंने फिल्म उद्योग में अपने चार दशक के करियर में काम किया। इस दौरान उन्होंने सभी से सपने देखना कभी बंद न करने का आग्रह किया। 

सौरभ शुक्ला ने अमीर बनने के अपने जुनून को साझा किया; उन्होंने कहा कि जब वह वर्षों पहले मुंबई आए और आखिरकार जो करना उन्हें पसंद था, उसे करने और ऐसा काम पाने में पूरी तरह सफल रहे। शुक्ला ने कहा, ‘मेरे लिए यह अमीर होने जैसा है।’ राहुल मित्रा, जो अच्छी सामग्री का समर्थन करके कम समय में भारतीय फिल्म और मनोरंजन उद्योग में एक सम्मानित नाम बनने में सफल रहे, ने ईरानी अभिनेता सैम नौरी, हेलिया इमामी और शरीफिनिया के साथ भारतीय सिनेमा की सबसे मजबूत सॉफ्ट पावर के रूप में बात की और दुनिया में सांस्कृतिक कूटनीति को बढ़ाने के प्रमुख हथियार के रूप में इसकी भूमिका पर प्रकाश डाला। 

पुरस्कार समारोह के बाद भारतीय, पोलिश और नॉर्वेजियन नृत्य मंडलियों द्वारा शानदार भारतीय नृत्य प्रदर्शन और नॉर्वे की अंतर्राष्ट्रीय स्टंट अकादमी द्वारा शानदार स्टंट का नूमना पेश किया गया। महोत्सव के निदेशक नसरुल्ला कुरैशी ने भारतीय सिनेमा को दुनिया के इस हिस्से में लोकप्रिय बनाने के लिए बीस वर्षों की अपनी यात्रा के बारे में बताया, जबकि महोत्सव के प्रमुख हेमंत वासन ने धन्यवाद प्रस्ताव दिया। फेस्टिवल में भारतीय और ईरानी फिल्मों की कई फिल्मों की स्क्रीनिंग भी होंगी। इसके बाद एक संगीत कार्यक्रम होगा जो प्रसिद्ध भारतीय गायिका लता मंगेशकर को समर्पित होगा।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा