आईजीडीसी के 14वें संस्करण में 2 वर्षों के बाद व्यक्तिगत रूप से लोग उपस्थित होंगे


◆ इस तीन दिवसीय सम्मेलन का आयोजन 3 नवंबर से 5 नवंबर तक एचआईसीसी, हैदराबाद में किया जाएगा
शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 28 अक्टूबर 2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई दिल्ली। कोविड-19 के कारण अभी तक वर्चुअल मोड में चल रहे भारत के सबसे पुराने और सबसे बड़े गेम डेवलपर सम्मेलन का 14वां संस्करण, 'आईजीडीसी' पूरे 2 साल के बाद अब फिजिकल मोड में कराया जा रहा है। यह सम्मेलन 3 नवंबर से 5 नवंबर 2022 के बीच एचआईसीसी, हैदराबाद में आयोजित किया जाएगा और इसमें लगभग 3000 लोगों के भाग लेने की उम्मीद है। सम्मेलन का पहला और दूसरा दिन डेवलपर कम्युनिटी पर केंद्रित होगा। हमेशा की तरह इस बार भी आईजीडीसी में लेक्चर देने वाले स्पीकर और प्रतिभागी इंडस्ट्री, अकैडमी, गवर्नमेंट एवं अन्य प्रासंगिक संस्थानों से होंगे जोकि टेक्नोलॉजी, इन्नोवेशन, फ्यूचर ट्रेंड, फाइनेंशियल पहलू, ग्रोथ, टैलेंट तथा ट्रेनिंग आदि जैसे विषयों में अपने व्याख्यान देंगे। व्याख्यान देने वाले स्पीकर अपनी फील्ड के जाने-माने व्यक्ति होंगे जिनमें आर्ट-डायरेक्टर प्रोजेक्ट-हेड, स्टूडियो-हेड, सीएक्सओ आदि शामिल होंगे। ये स्पीकर दुनिया की जानी-मानी भारतीय एवं अंतर्राष्ट्रीय गेमिंग तथा निवेश कंपनियों का प्रतिनिधित्व करते हैं जिनमें एक्टिविज़न ब्लिज़ार्ड किंग, एरियाम, ईए, नज़र, गैमेटियन, गेमबेरी लैब, गुड डॉग स्टूडियो, जेट सिंथेसिस, जंगली गेम्स, लेगो, मेटा, मून एक्टिव, नियांटिक, एनकोर गेम्स, पैराडॉक्स स्टूडियोज, प्लेटिका, प्ले रोवियो, रोबोक्सस्कोपली, सिंपल गेम्स, सुपर गेमिंग, स्टिलफ्रंट, यूबीसॉफ्ट, यूनिटी आदि शामिल हैं।

आईजीडीसी के सहयोग से लुमिकाई द्वारा स्टेट ऑफ इंडिया गेमिंग रिपोर्ट का पूर्वावलोकन पहले दिन जारी किया जाएगा जो इस इंडस्ट्री से संबंधित बेहतरीन अंतर्दृष्टि प्रदान करने के साथ-साथ विकास के अवसरों के विषय में भी बताएगा। तीसरा दिन एक नई पहल 'आईजीडीसी फ्यूचर्स' के साथ शुरू होगा जोकि छात्रों पर केंद्रित होगा, गेमिंग इंडस्ट्री में अवसर तथा अपस्किलिंग के विषय में बताएगा और साथ ही आने वाले भविष्य के महत्वपूर्ण विषयों जैसे कि गेमिंग तथा जलवायु परिवर्तन आदि पर भी ध्यान केंद्रित करेगा। आईजीडीसी की प्रमुख पहल 'आईपी कनेक्ट' भी एक नए अवतार में वापस आ गई है। शॉर्टलिस्ट किए गए स्टूडियो को भारत की अग्रणी गेम इन्वेस्टमेंट फर्म में काम करने वाले प्रतिनिधियों की काउंसिल के द्वारा मेंटरिंग प्रदान की जाएगी। इस आयोजन में इन्वेस्टमेंट तथा पब्लिशर सेशन भी होंगे जिनमें वन-टू-वन मीटिंग तथा स्पीड डेटिंग फॉर्मेट भी होंगे। आईजीडीसी पांच श्रेणियों में विजेताओं को पुरस्कार प्रदान करेगा - स्टूडियो गेम ऑफ द ईयर, इंडी गेम ऑफ द ईयर, हाइपरकैजुअल गेम ऑफ द ईयर, अपकमिंग गेम ऑफ द ईयर और स्टूडेंट गेम ऑफ द ईयर। आईजीडीसी ने अपने नए लोगो के हिसाब से एक ट्रॉफी भी लॉन्च की है। आईजीडीसी के द्वारा एक पॉपुलर चॉइस पुरस्कार भी दिया जाएगा। ऐसी प्रविष्टियां जिन्हें मोस्ट पॉपुलर गेम के लिए चयनित किया गया है उसके लिए दर्शकों को वोट करने का मौका दिया जाएगा, सबसे ज्यादा वोट पाने वाले गेम को पॉपुलर चॉइस पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

आईजीडीसी के कन्वीनर (संयोजक) राजेश राव ने कहा, “इस साल सम्मेलन को फिजिकल मोड में फिर से शुरू करके हम बहुत रोमांचित महसूस कर रहे हैं। इस आयोजन को सफल बनाने हेतु स्पीकर, पैनलिस्ट, स्पॉन्सर, अटेंडी तथा वालंटियर मिलकर काम कर रहे हैं और उनका उत्साह एवं प्रतिबद्धता देखने लायक है। इस साल आईजीडीसी का यह आयोजन बेहद शानदार होगा क्योंकि इसमें दुनिया भर से अनुभवी व्यक्ति तथा संस्थान हिस्सा ले रहे हैं और हमें पूरी उम्मीद है कि इस आयोजन के द्वारा नई चर्चा, बहस, विचारों का आदान-प्रदान, एवं विषयों पर नई अंतर्दृष्टि से इस क्षेत्र के विकास में काफी सहायता प्राप्त होगी। इस सम्मेलन में कई वर्कशॉप भी कराई जाएंगी जैसे कि इंपॉर्टेंस ऑफ स्टोरी टेलिंग, गेम डिजाइन एंड सिस्टम डिजाइन, आर्ट डेक तैयार करना और गेम को विकसित करने के लिए डेटा का उपयोग करना आदि। साथ ही जलवायु परिवर्तन का मुकाबला करने में गेमिंग इंडस्ट्री की व्यापक भूमिका तथा इसके समाज पर पड़ने वाले सकारात्मक परिवर्तन के पहलू पर भी ध्यान केंद्रित होगा।

इस साल, इस सम्मेलन के प्रेजेंटिंग प्रायोजक एपिक गेम्स अनरियल इंजन हैं, क्राफ्टन इंक प्लेटिनम प्रायोजक हैं, एडब्ल्यूएस गोल्ड प्रायोजक तथा रॉकस्टार गेम्स और क्वाली सिल्वर प्रायोजक हैं। गेम्स24x7 एक्सपीरियंस पार्टनर के रूप में हिस्सा ले रहा है। माइक्रोसॉफ्ट, एक्सबॉक्स, वेंटाना वेंचर,अर्श्त रॉक, विंजो, हाइपर हिप्पो, हीरो वायर्ड एवं टेजोस ब्रोंज स्पॉन्सर हैं। नाज़ारा टेक्नोलॉजीज पुरस्कार प्रायोजक है; लंदन स्टॉक एक्सचेंज ग्रुप, पायोनियर एवं लोको एसोसिएट प्रायोजक के रूप में हिस्सा ले रहे हैं। आईजीडीसी फ्यूचर्स को क्रेजी लैब्स और पीटीडब्ल्यू का समर्थन प्राप्त है जबकि ग्लोबल विक्टोरिया कंट्री पार्टनर है। लक्ष्य डिजिटल और यसग्नोम इकोसिस्टम पार्टनर हैं।
आईजीडीसी भले ही छोटे परंतु बेहद महत्वपूर्ण तरीके से जलवायु परिवर्तन पर ध्यान खींच रहा है और ग्रीन होने की दिशा में विशेष उपाय कर रहा है। रीसायकल एवं नेचुरल मैटेरियल से बनी हुई वस्तुओं के साथ-साथ आईजीडीसी सम्मेलन में व्याख्यान दे रहे प्रत्येक स्पीकर के लिए एक पेड़ लगाकर संकल्प तरू फाउंडेशन में भी सहयोग देगा। एक्सपो में लगे हुए सभी बूथ केवल इको-फ्रेंडली मैटेरियल तथा वस्तुओं का इस्तेमाल करेंगे। आईजीडीसी इंडियाजॉय का एंकर इवेंट भी है, जो एनीमेशन, वीएफएक्स, ई-स्पोर्ट्स, फिल्म मेकिंग और मीडिया सेक्टर से संबंधित इवेंट्स की पूरे सप्ताह भर की सीरीज है और जिसे तेलंगाना सरकार द्वारा तैयार किया जा रहा है।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा