गुलाबी आंदोलन दशहरा पुरस्कार 2022 की घोसणा



◆ राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के स्तर पर मिला गुलाबी आंदोलन महामुकाबला दशहरा पुरस्कार 2022 

सम्पूर्ण रामायण नेताजी सुभाष पैलेस, पीतमपुरा (प्रथम)

श्री रामलीला कमेटी पंजाबी बाग़  (दुतिय)

अशोक विहार रामलीला कमेटी फेज-1, अशोक विहार (तितीय)

राम लखन कमेटी ((चतुर्थ)

भव्य रामलीला सोसाइटी, विवेक विहार  (पंचम)

श्री राम धार्मिक लीला कमेटी त्रि नगर (छटा)

श्री राम लखन धार्मिक रामलीला कमेटी नोएडा (सत्तम)

शब्दवाणी समाचार, रविवार 2 अक्टूबर 2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई दिल्ली। मीडिया प्रेस क्लब दवारा गुलाबी आंदोलन दशहरा पुरस्कार 2022 की घोसणा प्रेस वार्ता में किया इस दौरान रामलीला पुरस्कार विजेता की सूचि जारी किया मीडिया प्रेस क्लब के महासचिव मोहम्मद जोशी ने पत्रकारों को बताया गुलाबी आंदोलन दशहरा पुरस्कार 2022 के लिए राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के 16 जिलों से 152 रामलीला आयोजकों ने भाग लिया आगे पत्रकारों को बताया इस बार किसी अनजान भीख मांगने के प्रथा को समाप्त करने की राष्ट्रव्यापी मुहीम गुलाबी आंदोलन ने गुलाबी आंदोलन दशहरा पुरस्कार 2022 का प्रायोजक बना था। गुलाबी आंदोलन की मुहीम को सभी रामलीला आयोजकों ने सराहा और अपने-अपने मंच से किसी अनजान भीख मांगने वाले को भीख ना देने का भी आह्वान किया। मोहमाद जोशी ने आगे बताया 152 रामलीला को 160 से अधिक पत्रकारों ने रामलीला का जज बनकर अवलोकन किया। 152 रामलीला से दूसरे चरण में 64 रामलीला आयी।  64 रामलीला में से 32 रामलीला को जिला स्तर पर प्रथम और दुतिय गुलाबी आंदोलन दशहरा पुरस्कार 2022 से सम्मानित किया जायेगा। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के स्तर पर महामुकबला जो हमेशा सिरीफोर्ट सभागार में होती थी लेकिन रामलीला आयोजकों के पास समय की कमी होने के कारण इस बार रामलीला मंच पर रावण संवाद, रामलीला दर्शकों के भाव, इत्यादि के आधार पर राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के स्तर पर 12 रामलीला में से सात रामलीला को पहले से सात तक पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। 

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा