पीडब्‍लू ने प्रेपऑनलाइन और ऑल्टिस वोर्टेक्स का अधिग्रहण किया

● प्रेपऑनलाइन कर पीडब्‍लू ने सरकारी परीक्षाओं की तैयारी और किताबों को प्रकाशित करने के क्षेत्र में कदम रखा 

● स्टॉक और नकद अधिग्रहण का लक्ष्य भारत भर में पीडब्लू की संपूर्ण पहुंच और इसकी पेशकश की विविधता का विस्तार करना है

● पीडब्ल्यू ने शिक्षण सहायता और संपादकीय सामग्री विशेषज्ञता के लिए कुल 80 कर्मचारियों को शामिल किया है - जिसमें प्रेपऑनलाइन से 35 और ऑल्टिस वोर्टेक्स से 45 कर्मचारी शामिल हैं

शब्दवाणी समाचार, शनिवार 15 अक्टूबर 2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई दिल्ली। भारत के शीर्ष एड-टेक प्लेटफॉर्म पीडब्ल्यू (फिजिक्स वाला) ने प्रेपऑनलाइन और ऑल्टिस वोर्टेक्स (एनसीईआरटी का प्रकाशक) का अधिग्रहण किया है।  प्रेपऑनलाइन जहां नीट, बोर्ड परीक्षाओं और राज्य-स्तरीय सरकारी परीक्षाओं की तैयारी कराने के लिए एक ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म हैं, वहीं ऑल्टिस वोर्टेक्स कक्षा 11, 12, नीट और सीयूईटी-यूजी की परीक्षा की तैयारी के लिए एनसीईआरटी- बेस्‍ड पुस्तकों का प्रकाशक है। इस प्रमुख घटनाक्रम के साथ ही, पीडब्लू ने न केवल जेईई, नीट और गेट उम्मीदवारों के लिए बल्कि सीयूईटी (कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट) और राज्य-स्तरीय सरकारी परीक्षा के उम्मीदवारों के लिए भी सस्ती और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के अपने दृष्टिकोण को दोहराया है। प्रेपऑनलाइन की स्थापना विवेक गौर, मनीष कुमार और अनुराग पारीक ने की थी, जबकि ऑल्टिस वोर्टेक्स विवेक गौर और मनीष कुमार के दिमाग की उपज है।

वर्तमान की कैटेगरी की तुलना में उपयोगकर्ता के दृष्टिकोण से सरकारी परीक्षा की तैयारी के बाजार का एक अलग दृष्टिकोण और नजरिया है। इस संदर्भ में पीडब्‍लू ने प्रेपऑनलाइन के 35 कर्मचारियों को शामिल किया है, जिनमें से 18 के पास पढ़ाने का लगभग 8-10 वर्षों का अनुभव है और ये अपने अनुभव का इस्तेमाल शिक्षा के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने में करेंगे। प्रेपऑनलाइन का पेड यूजर बेस 42,000 है। दूसरी ओर, ऑल्टिस वोर्टेक्स के पास प्रकाशन में 7 वर्षों का अनुभव है और इसकी 150 से अधिक प्रकाशित पुस्तकें हैं। यह पीडब्‍लू प्रकाशन के लिए छात्रों की मौजूदा मांगों के अनुरूप प्रासंगिक अध्ययन सामग्री तैयार करने में इसकी संपादकीय टीम के विलय करेगा। इसमें गेट, एनडीए, यूपीएससी, एसएससी, नीट पीजी, और सीयूईटी जैसी परीक्षाओं को शामिल किया जाएगा। नए साझेदार रिटेल मार्केटिंग, ई-कॉमर्स सेल्‍स और प्रिंटिंग सहित अन्य डोमेन में भी पीडब्लू का समर्थन करेंगे।

पीडब्लू के संस्थापक और सीईओ अलख पांडे ने कहा, “हम अपने पीडब्लू परिवार में प्रेपऑनलाइन और ऑल्टिस वोर्टेक्स को शामिल करके खुश हैं। हमें विश्वास है कि उनकी विशेषज्ञता और समर्पण सरकारी नौकरियों की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को अधिक सुलभ और किफायती बनाएगा। हम इस सहयोग के लिए तत्पर हैं और अपने उपयोगकर्ताओं को विश्व स्तरीय शिक्षा सामग्री प्रदान करने की उम्मीद करते हैं। प्रेपऑनलाइन और ऑल्टिस वोर्टेक्स के सह संस्थापक विवेक गौर ने कहा, “हम कंटेंट और परिचालन सहायता प्रदान करके शुरुआत से ही पीडब्लू के साथ भागीदारी करते रहे हैं। अब हम परीक्षा की तैयारी की नई श्रेणियों के निर्माण और पीडब्ल्यू के विकास को गति देने की दिशा में एक टीम के रूप में एक साथ काम करेंगे। विवेक गौर चीफ ऑफ ग्रोथ के रूप में पीडब्ल्यू में शामिल हुए हैं और मनीष कुमार चीफ ऑफ प्रोजेक्ट्स के रूप में शामिल हुए हैं।

पीडब्‍लू ने राजस्थान के जयपुर में एक और ऑफलाइन केंद्र यानी पीडब्लू विद्यापीठ को खोलने की योजना बनाई है। कुछ महीने पहले इसे कोटा में खोला गया था, कंपनी ने अनुराग पारीक को केंद्र के शिक्षा प्रमुख के रूप में नियुक्त किया है। इस साल जून में यूनिकॉर्न क्लब में शामिल होने के बाद पीडब्लू की यह दूसरी बड़ी घोषणा है। 18 अगस्त को कंपनी ने घोषणा करते हुए बताया कि उसने अपनी मौजूदा सेवाओं को बढ़ाने और छात्रों को बेहतर सीखने के अनुभव प्रदान करने के लिए एडटेक स्टार्टअप फ्रीको का अधिग्रहण किया है। इस अधिग्रहण के तुरंत बाद, इस प्लेटफॉर्म ने और अधिक श्रेणियों का विस्तार करने और लाखों शिक्षार्थियों के बीच अपनी पहुंच बढ़ाने के लिए अधिक यू-ट्यूब चैनल लॉन्च करने की योजना बनाई है। यह अधिग्रहण नई कंटेंट श्रेणियों को विकसित करने में भविष्य के प्रयासों के निर्माण के लिए पीडब्लू की प्रतिबद्धता पर जोर देता है, ताकि सभी को सस्ती और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान की जा सके। पिछले हफ्ते, पीडब्ल्यू ने स्नातक परीक्षा की तैयारी के साथ अपनी सफलता के बाद एक और कदम आगे बढ़ाते हुए गेट परीक्षा की तैयारियों में कदम रखा था।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा