एचडीएफसी लाइफ ने एक्साइड लाइफ का विलय पूरा होने की किया घोषणा

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 20 अक्टूबर 2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई दिल्लीभारत की प्रमुख जीवन बीमा कंपनियों में से एक, एचडीएफसी लाइफ ने आज भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (आईआरडीएआई) से अंतिम मंजूरी मिलने के बाद अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली सब्सिडिएरी एक्साइड लाइफ के साथ अपने विलय की घोषणा की। यह भारतीय जीवन बीमा क्षेत्र में पहली बार विलय और अधिग्रहण (एमएंडए) लेनदेन की घटना है। एचडीएफसी लाइफ ने जनवरी 2022 में एक्साइड लाइफ का अधिग्रहण पूरा किया था। सितंबर 2021 में सौदे की घोषणा होने के बाद जनवरी 2022 में अधिग्रहण और अंतिम विलय के बाद, संपूर्ण लेन-देन 14 महीनों से भी कम समय में पूरा कर लिया गया। विलय के बाद दोनों संस्थाओं के ग्राहकों के पास उत्पादों और सर्विस टच प्‍वाइंट्स की व्यापक पहुंच होगी। कर्मचारियों और वितरकों को एक बड़े, मजबूत संगठन से लाभ होगा जिसमें कॉम्‍प्‍लीमेंटरी बिजनेस मॉडल, व्यापक भौगोलिक उपस्थिति और सशक्‍त नीतियों की मौजूदगी होगी। इस विलय से एचडीएफसी लाइफ के एजेंसी चैनल के पैमाने में तेजी आएगी और टियर II और टियर III बाजारों में इसकी भौगोलिक उपस्थिति बढ़ेगी।

इस विलय पर अपनी बात रखते हुए, एचडीएफसी लाइफ की एमडी और सीईओ, विभा पाडलकर ने कहा, “हमें बहुत कम समय में इस लेन-देन को पूरा करने की खुशी है। यह विलय हमारे नियामक - आईआरडीएआई और प्रक्रिया में शामिल अन्य सभी अधिकारियों के प्रोत्साहन, समय पर अनुमोदन और समर्थन के कारण संभव हुआ है। हम अपने उत्साही और प्रतिबद्ध कर्मचारियों, वफादार ग्राहकों और वितरण भागीदारों को भी धन्यवाद देना चाहते हैं। एक्साइड लाइफ के सभी पॉलिसीधारकों को हमारी ओर से श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ सेवा मिलती रहेगी। एक्साइड लाइफ डिस्ट्रीब्यूशन के सभी पार्टनर्स पास अब एचडीएफसी लाइफ के बाजार-अग्रणी उत्पादों, सेवाओं और डिजिटल क्षमता तक पहुंच होगी। हमारा पक्‍का मानना है कि इस विलय के परिणामस्वरूप हमारे ग्राहकों, कर्मचारियों, शेयरधारकों और वितरण भागीदारों के लिए मूल्य सृजन हो सकता है। एक संयुक्त टीम के रूप में, हमारा दृष्टिकोण जीवन बीमा समाधानों के लिए सबसे स्पष्ट विकल्प बना हुआ है और हम भारत का बीमा करने के लिए अपनी भूमिका निभाते हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा