अनुशासन, कठोर नियम, और स्वच्छता दुबई से सीखना चाहिये : आचार्य विजय भूषण आर्य

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 14 अक्टूबर 2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844गाजियाबाद। केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के तत्वावधान में "दुबई क्या कहता है" विषय पर ऑनलाइन गोष्ठी का आयोजन किया गया।यह करोना काल में 454 वां वेबीनार था। मुख्य वक्ता आचार्य विजय भूषण आर्य ने बताया कि दुबई से अनुशासन,नियम व स्वच्छता सीखने की आवश्यकता है।वह 20 दिन की यात्रा करके वापिस आए थे उन्होंने बताया कि अनेक दर्शनीय स्थल देखे।सभी बहुत ही सुन्दर लगे।जिनमें से मुख्य हैं - बुर्ज खलीफा,मिरेकल गार्डन,दुबई माॅल,दुबई एक्वेरियम,गोल्ड सूक,बालीवुड पार्क,डेज़र्ट सफारी,दुबई फ्रेम, दुबई मरीना,लगूना वाटर पार्क इत्यादि।मनभावन लुभावने ये दर्शनीय स्थल जहां सभी को आकर्षित करते हैं,वहां दुबई के एक से बढ़कर एक माॅल में  प्रत्येक प्रकार के सामान जो आपको एक ही छत के नीचे मिल जाते हैं।कोई हबड़ा तबड़ी नहीं,कोई छीना झपटी नहीं,कोई चोरी चकारी नहीं,कोई बेईमानी नहीं।सब कुछ सुव्यवस्थित। समय का पालन चाहे मेट्रो हो या एसी बसें।सभी की यात्रा बहुत ही आराम दायक।

बस में और मैट्रो में एक ही कार्ड चलता है।यदि किसी ऐसे स्थान पर जाना चाहते हैं जहां मैट्रो नहीं जाती टैक्सी उपलब्ध है।सब कुछ निश्चित है। कुछ कम करो,यह सौदेबाजी यहां नहीं होती।सब चीजों पर मूल्य लिखा है,जो आपको लेना है ले लो।सबसे बड़ी और अच्छी बात यह है कि आप नियम तोड़ ही नहीं सकते।यदि नियम तोड़ा तो निश्चित उसका दंड मिलेगा।कोई  भाई भतीजावाद नहीं।कोई लड़ाई झगड़ा नहीं।लगभग 192 देशों के लोग दुबई में रहते हैं।हमें एक दिन भी कोई भी ऐसा दृश्य देखने को नहीं मिला जिसे हम दुबई की कमी कह सकें।कुल मिलाकर बेहद सुन्दर,सफल,आकर्षक, नियमों पर चलने वाला देश है दुबई।आप भी वहां यदि जायेंगे तो दुबई में ऐसा ही अनुभव लेकर लौटेंगे। केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य ने संचालन किया व राष्ट्रीय मंत्री प्रवीन आर्य ने धन्यवाद ज्ञापित किया।डा. सुषमा आर्या,विमला आहुजा,अनिता रेलन व दुबई से रविमोहन राय ने भी अपने अनुभव सांझा किए। गायिका रजनी गर्ग,रजनी चुघ, पिंकी आर्या,ईश्वर देवी,जनक अरोड़ा,रविंद्र गुप्ता,प्रवीणा ठक्कर,कमलेश चांदना आदि ने मधुर भजन सुनाए।सभी ने घर बैठे ही दुबई के दर्श्यो का आनद लिया।


Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा